सर्वाधिक पढ़ी गईं

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी नहीं मानी तो भी कम नहीं होंगे फीचर्स, लेकिन बार-बार आता रहेगा नोटिफिकेशन

WhatsApp ने कहा है कि जो यूजर उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार नहीं करेंगे उनके लिए भी ऐप के फीचर्स में कोई बदलाव नहीं होगा.

Updated: Jun 03, 2021 8:38 PM
WhatsApp says it will not limit functions on not accepting new privacy policyव्हाट्सऐप (WhatsApp) ने कहा कि वह यूजर्स के उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी पर सहमति नहीं देने पर मैसैजिंग ऐप के इस्तेमाल पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

व्हाट्सऐप (WhatsApp) ने गुरुवार को कहा कि वह यूजर्स के उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी पर सहमति नहीं देने पर मैसैजिंग ऐप के इस्तेमाल पर कोई असर नहीं पड़ेगा. इसके फीचर्स कम नहीं होंगे. लेकिन वह अपडेट को लेकर लोगों को रिमांडर भेजती रहेगी. व्हाट्सऐप ने कहा कि उसका हाल का पॉलिसी अपडेट लोगों के निजी मैसेजों को नहीं बदलता है और उसने पहले से सरकार को लिखकर यह भरोसा दिलाया है कि यूजर्स की प्राइवेसी उसकी सबसे बड़ी प्राथमिकता बनी रहेगी.

सहमति देने के लिए मजबूर कर रहा व्हाट्सऐप: केंद्र

केंद्र ने गुरुवार को दिल्ली हाईकोर्ट को बताया कि मैसेजिंग प्लेटफॉर्म यूजर्स को नई प्राइवेसी पॉलिसी को सहमति देने के लिए मजबूर कर रहा है. उनकी सहमति लेने के लिए उन्हें कई नोटिफिकेशन भेजे जा रहे हैं. व्हाट्सऐप के एक प्रवक्ता ने ईमेल किए गए बयान में कहा कि वे दोहराते हैं कि उन्होंने भारत सरकार को पहले ही जवाब दे दिया है और उन्हें भरोसा दिलाया है कि यूजर्स की प्राइवेसी उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता बनी रहेगी.

इस साल की शुरुआत में इस बात पर बड़ा विवाद हुआ था, जब व्हाट्सऐप ने कहा था कि वह अपनी सेवा की शर्तों और प्राइवेसी पॉलिसी को अपडेट करेगी. उसने बताया था कि इसमें वह यूजर के डेटा की कैसे प्रोसेसिंग करती है और सोशल मीडिया कंपनी के प्रोडक्ट्स में इंटिग्रेशन करने के लिए फेसबुक के साथ काम करती है. फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी ने जोर दिया था कि उसकी विवादास्पद प्राइवेसी पॉलिसी से इस बात पर कोई असर नहीं होगा कि आने वाले हफ्तों में व्हाट्सऐप कैसे काम करता है.

Twitter पर ब्लू टिक मिलना दोबारा शुरू, जानें कैसे वेरिफाई कराएं अपना अकाउंट

प्रवक्ता ने कहा कि इसकी जगह वे यूजर्स को समय-समय पर अपडेट के बारे में याद दिलाते करहेंगे. इसके साथ जब लोग वैकल्पिक फीचर्स को इस्तेमाल करना चुनेंगे, जैसे उस बिजनेस के साथ बात करना, जो फेसबुक से सपोर्ट प्राप्त कर रहा है. प्रवक्ता ने आगे बताया कि हाल ही के अपडेट से लोगों के निजी मैसेज की प्राइवेसी और अतिरिक्त जानाकरी उपलब्ध कराने का उद्देश्य नहीं बदलता है कि वह कारोबारों के साथ कैसे बातचीत करना चाहते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी नहीं मानी तो भी कम नहीं होंगे फीचर्स, लेकिन बार-बार आता रहेगा नोटिफिकेशन

Go to Top