मुख्य समाचार:

WhatsApp पर जल्द मिलेंगी इंश्योरेंस और पेंशन जैसी सुविधाएं, भारत के लिए क्या है पूरा प्लान

जल्द ही आपको WhatsApp पर इंश्योरेंस, पेंशन और माइक्रो फाइनेंस जैसी सर्विस भी मिल सकती है.

Updated: Jul 23, 2020 11:16 AM
WhatsApp, Insurance, Pension, Microcredit, Financial services on WhatsApp, WhatsApp will work with partners like banks and financial institutions in India, to make it easier for people to access insurance and pension, WhatsApp Pay, Facebook Owned Company, व्हाट्सऐप, इंश्योरेंस, पेंशन और माइक्रो फाइनेंसजल्द ही आपको WhatsApp पर इंश्योरेंस, पेंशन और माइक्रो फाइनेंस जैसी सर्विस भी मिल सकती है.

व्हाट्सऐप (WhatsApp) अब भारत में अपनी सर्विस बए़ाने की तैयारी में है. इस क्रम में जल्द ही आपको इस प्लेटफॉर्म पर इंश्योरेंस, पेंशन और माइक्रो फाइनेंस जैसी सर्विस मिलने लगेगी. व्हाट्सऐप इन सभी सर्व्सिेज को आसान बनाने के लिए बैंक और वित्तीय संस्थाओं जैसे साझीदारों के साथ मिलकर काम करेगी. इसको लेकर पायलट प्रोजेक्ट भी शुरू हो सकता है. व्हाट्सऐप के भारतीय कारोबार के प्रमुख अभिजीत बोस ने इस बात की जानकारी दी है.

बोस ने ग्लोबल फिनटेक फेस्ट में कहा कि कंपनी वित्तीय प्रोडक्ट्स के वितरण से जुड़ी समस्याओं के संभावित समाधान के लिए विभिन्न पायलट प्रोजेक्ट्स को सपोर्ट करेगी. बोस ने कहा कि व्हाट्सऐप पिछले एक साल से भी अधिक समय से अपने बैंकिंग पार्टनर्स के साथ इन सुविधाओं को शुरू करने को लेकर काम कर रही है कि वह कैसे बैंकों की डिजिटल उपस्थिति में सहायक साबित हो सकती है.

कम आय वर्ग वालों पर फोकस

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं आने वाले 2 से 3 साल के अंदर अनआर्गनाइज्ड सेक्टर में डेली बेसिस पर काम करने वालों को भी इंश्योरेंस, पेंशन और माइक्रोक्रेउिट जैसी सुविधाओं का लाभ मिलेग. हम ज्यादा से ज्यादा बैंकों के सराथ जुड़ना चाहते हैं. हमारा उद्देश्य है कि आने वाले दिनों में बैंकिंग सेवाओं को और सरल बनाने के साथ देश के दूर दराज के इलाकों में उनकी पहुंच और बढ़ाई जाए. खासतौर से ग्रामीण और निम्न आय वर्ग में इन सु​विधाओं को पहुंचाया जाए. इसके अलावा आरबीआई ने जिन सुविधाओं की बेसिक फाइनेंशियल सर्विसेज के रूप में पहचान की है, उन्हें लेकर हम अपने बैंकिंग पार्टनर्स के साथ प्रयोग बए़ाना चाहते हैं.

पेमेंट सर्विस का परीक्षण 2018 में

व्हाट्सऐप ने अपनी पेमेंट सर्विस WhatsApp Pay का परीक्षण भारत में 2018 में शुरु किया था. यह UPI आधारित सर्विस यूजर्स को रुपये भेजने और प्राप्त करने की सुविधा देता है. इसका मुकाबला भारत में सॉफ्टबैंक समर्थित पेटीएम, फ्लिपकार्ट के फोनपे और गूगल पे से है. नियामकीय दिक्कतों के कारण कंपनी भारत में इस सर्विस को पूर्ण रूप से लागू नहीं कर सकी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. WhatsApp पर जल्द मिलेंगी इंश्योरेंस और पेंशन जैसी सुविधाएं, भारत के लिए क्या है पूरा प्लान

Go to Top