वॉयस नोट्स के जरिए बातचीत करना पसंद हैं, तो ऐसा करते वक्त इन अहम बातों का रखें ध्यान | The Financial Express

The etiquette of voice notes: वॉयस नोट्स के जरिए बातचीत करना पसंद हैं, तो ऐसा करते वक्त इन अहम बातों का रखें ध्यान

व्हाट्सएप के मुताबिक हर दिन करीब 70 लाख वॉयस नोट्स इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर भेजे जाते हैं.

The etiquette of voice notes: वॉयस नोट्स के जरिए बातचीत करना पसंद हैं, तो ऐसा करते वक्त इन अहम बातों का रखें ध्यान
वॉयस नोट्स के जरिए बातचीत करना बेहद आसान है.

कुछ लोगों को फोन कॉल पसंद नहीं है, तो कुछ को टेक्स्ट मैसेज भेजना पसंद नहीं है. ऐसे लोगों के लिए वॉयस नोट्स एक बढ़िया विकल्प है. आज के समय में कई सोशल मीडिया प्लेटफार्म और इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप इस सुविधा को उपलब्ध करा रहे हैं. शायद ऐप या प्लेटफार्म में से सबसे पापुलर व्हाट्सएप (WhatsApp) है. पहली बार 2013 में व्हाट्सएप मैसेजिंग ऐप ने वॉयस नोट्स फीचर को पेश किया था और उसके बाद से इस फीचर की विशेषताओं में कई बदलाव हुए. मौजूदा समय में लोग वॉयस नोट्स फीचर इस्तेमाल करना काफी पसंद करते हैं. व्हाट्सएप के मुताबिक हर दिन करीब 70 लाख वॉयस नोट्स इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर भेजे जाते हैं.

वॉयस नोट भेजने में काफी आसानी होती है. इसके लिए लंबी मैसेज टाइप करने की जरुरत नहीं पड़ती है. और न ही किसी से कॉल पर लंबे समय तक बातचीत करने की जरुरत होती है. वॉयस नोट के लिए व्हाट्सएप मैसेजिंग ऐप पर मौजूद विकल्प माइक्रोफ़ोन पर टैप करके एक वॉयस संदेश रिकॉर्ड की जाती है और फिर उसे फारवर्ड कर दिया जाता है. यह एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड भी है. यानी इसमें सेंधमारी किए जाने की संभावना न के बराबर है. हालांकि, ऐप के जरिए अपने दोस्त या फैमिली मेंबर्स को वॉयस नोट्स भेजना काफी आसान है. मगर ऐसा करते समय कुछ अहम गलतियां करने से आपको बचना चाहिए. साथ ही कुछ अहम बातों का ध्यान रखना चाहिए.

Gone with the loan: ‘ट्रैवल नाउ पे लेटर’ स्कीम से अपने घूमने के सपने को करें साकार, जाने स्कीम से जुड़े फायदे

दरअसल कोई भी शख्स लंबे समय के वॉयस नोट या रिकार्डेड साउंड को सुनना पसंद नहीं करता है. अगर सुन भी लेता है तो उसमें कही गई बातों पर अपनी प्रतिक्रिया नहीं दे पाता.  इसके अलावा कई बार रिकार्ड की गई वॉयस क्वालिटी और बोले गए शब्द पर को भी सुनने वाला शख्स कैसे लेता है इस पर गौर करना चाहिए. व्हाट्सएप के वॉयस फीचर को लेकर एक एक्सपर्ट सीमा पुरी ने अहम जानकारी दी है. आइए उनसे जानते हैं वॉयस नोट भेजते और सुनते समय किन-किन अहम बातों का ध्यान रखना चाहिए.

कितनी लंबी हो वॉयस नोट और मिल जाए तो क्या करना चाहिए

पुरी बताती है कि वॉयस नोट की सही लंबाई बता पाना संभव नहीं है, अगर आपको काफी लंबी वॉयस नोट मिल जाए, तो इसे जल्दी से सुनने के लिए 1.5x या 2x स्पीड पर सुनना बेहतर है.

कभी भी लंबी वॉयस नोट न भेजें

लंबी वॉयस नोट सुनने में जितना आपको परेशानी महसूस होती है उतना ही परेशानी दूसरों को भी हो सकती है. ऐसे में इस परेशानी का ध्यान रख किसी  और को वॉयस नोट भेजनी चाहिए. अगर जरूरी हो तो लंबा वॉयस नोट भेजने के बजाय, उसे कई छोटे भागों में रिकार्ड कर भेंजे. हालांकि कई बार यह सुनने वाले पर निर्भर करता है.

मुलायम सिंह यादव की हालत बिगड़ी, मेदांता अस्पताल के ICU में हैं भर्ती

दूसरों की निजता और अपनी प्राइवेसी का सम्मान करें

पब्लिक प्लेस पर किसी दूसरे के वॉयस नोट्स को जोर से बजाकर नहीं सुनना चाहिए और न ही ऐसा भेजने वाले को पसंद होता है इसलिए, वॉयस नोट्स सुनते समय अपने आस-पास देख लें. दरअसल जब आप पब्लिक प्लेस पर किसी का वॉयस नोट्स तेज आवाज में करके सुनते हैं तो कई बार आपकी ये हरकत दूसरों के लिए मुसीबत बन सकती है. या फिर को निजता से जुड़ी जानकारी भी हो सकती है. ऐसे में ये गोपनीयता के लिए जोखिम भरा हो सकता है. इसलिए सावधानी बरतें और वॉयस नोट्स प्ले करते हेडफ़ोन या ईयरफ़ोन का इस्तेमाल करें.

कम सवाल पूछें

वॉइस नोट में एक साथ कई सवाल पूछे जाने से रिसीवर कनफ्यूज़ हो सकता है या फिर हो सकता है कि वह आपके द्वारा पूछे गए कुछ को भूल सकता है. इससे बचने के लिए एक बार में एक सवाल वॉइस नोट के जरिए भेजें ताकि रिसीवर आसानी से जवाब दे सकें.

समान भाषा में वॉइस नोट का रिप्लाई दें

एक्सपर्ट सीमा पुरी बताती हैं कि जिस भी भाषा में आपको वॉइस नोट मिले या वॉइस नोट के जरिए सवाल पूछे जाएं. उसका जवाब उसी भाषा में रिप्लाई करें. ध्यान रहे दो-तरफा बातचीत के लिए ये बेहद जरूरी है.

UPSSSC PET एडमिट कार्ड जारी, 15 और 16 अक्टूबर को होगी परीक्षा, ऐसे करें डाउनलोड

समय पर वॉइस नोट के जरिए अपना जवाब भेजें

वॉइस नोट के माध्यम से बातचीत के लिए केवल भाषा ही नहीं जरूरी नहीं है, समय का भी ध्यान रखना जरूरी है. इसलिए वॉयस नोट का जवाब समान भाषा में समय पर दें ताकि दोस्त या फैमिली मेंबर का आपके रिप्लाई का इंतज़ार न हो या उसके द्वारा भेजा गया वॉइस मैसेज बेकार न जाए. अगर आपके पास बहुत कम समय है, तो आप उतने भी रिप्लाई कर सकते हैं. क्योंकि सिर्फ एक बार माइक्रोफोन ऑप्शन पर टैप के कर आप बड़े आसानी से वॉयस मैसेज भेज सकते हैं.

टेक्नोलॉजी ने फैमिली और दोस्तों के साथ बातचीत को काफी आसान बनाया है व्हाट्सएप को लेकर सीमा पुरी ने यह बात कही. उन्होंने अपने इन सुझावों को व्हाट्सएप की तरफ से जारी आधिकारिक नियम न होने का दावा किया हैं. हालांकि इस दौरान पुरी ने कहा कि उनके द्वारा बताए गए नियमों का पालन कर वॉयस नोट का बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं.

(Article : Shubhangi Shah)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News

X