मुख्य समाचार:
  1. जानिए क्या है Tesla का नया प्रोजेक्ट ‘साइबोर्ग ड्रैगन’? जिसके चलते आप कर पाएगें अंतरिक्ष की सैर

जानिए क्या है Tesla का नया प्रोजेक्ट ‘साइबोर्ग ड्रैगन’? जिसके चलते आप कर पाएगें अंतरिक्ष की सैर

ऐसा लगता है कि स्पेसएक्स का 'ड्रैगन कैप्सूल' कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) से संचालित होगा और न्यूरिलिंक के जरिए यह इंसानी दिमाग इंटरफेस की पेशकश कर सकता है।

April 27, 2018 10:57 AM
एलोन मस्क, टेस्ला, साइबर ड्रेगन प्रोजक्ट, elon musk, tesla, tesla cyber dragon projectTesla के मालिन एलोन मस्क ने बुधवार देर रात एक ट्वीट में कहा, “ओह वैसे मैं साइबोर्ग ड्रैगन का निर्माण करने जा रहा हूं।”

ऐसा लगता है कि स्पेसएक्स का ‘ड्रैगन कैप्सूल’ कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) से संचालित होगा और न्यूरिलिंक के जरिए यह इंसानी दिमाग इंटरफेस की पेशकश कर सकता है। स्पेसएक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इलोन मस्क ने एक ट्वीट में यह सुझाव दिया है। प्रौद्योगिकी के बादशाह ने बुधवार देर रात एक ट्वीट में कहा, “ओह वैसे मैं साइबोर्ग ड्रैगन का निर्माण करने जा रहा हूं।”

क्या है साइबोर ड्रेगन?

इनवर्स की रिपोर्ट में कहा गया कि मस्क शायद अंतरिक्ष में इंटरनेट-संचालित सुपर-इंटेलीजेंस के साथ अंतरिक्षयात्रियों को ले जाना चाहते हैं।
मस्क की सभी कंपनियों में ड्रैगन नाम शामिल होता है, जिसमें ‘ड्रैगन’ स्पेसक्राफ्ट भी है, जो अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) के आगे-पीछे चक्कर लगाता है।

स्पेसएक्स वर्तमान में क्या कर रहा है ?

स्पेसएक्स का वर्तमान में बिग फाल्कन रॉकेट, या बीएफआर बनाने का लक्ष्य है, जिसे मंगल ग्रह पर अन्वेषण के लिए इस्तेमाल किया जाएगा — इलोन मस्क इस लक्ष्य को 2022 तक प्राप्त करने की उम्मीद करते हैं। बीएफआर इतना विशाल होगा कि इसे एक विशाल समुद्री मालवाहक जहाज से पानामा नहर होते हुए फ्लोरिडा के केप केनावेरल पहुंचाया जाएगा। मस्क के मुताबिक, स्पेसएक्स का विशाल नया रॉकेट करीब 350 फीट लंबा होगा तथा इसका व्यास 30 फीट तक फैला होगा।

Go to Top