मुख्य समाचार:
  1. टेक महिंद्रा ने 5G नेटवर्क में देरी के लिए नीतियों को ठहराया जिम्मेदार, कहा- शुरू हो स्पेक्ट्रम नीलामी

टेक महिंद्रा ने 5G नेटवर्क में देरी के लिए नीतियों को ठहराया जिम्मेदार, कहा- शुरू हो स्पेक्ट्रम नीलामी

भारत में 5जी नेटवर्क शुरू करने के लिए सबसे पहले 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी जरूरी है और सब कुछ स्पेक्ट्रम पर ही निर्भर करेगा.

May 21, 2019 6:59 PM
5g, 5g network, mahindra, mahindra tech, dot, department of telecommunication, vodafone idea, vodafone idea opposed 5g spectrum auction, 5g spectrum auction, 5जी, 5जी स्पेक्ट्रम, 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी, कई देशों में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू हो चुकी है.

दूरसंचार विभाग को देश में 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू करनी चाहिए क्योंकि कई अन्य देशों के नियामकों ने पहले ही इसके लिए नीतियां बना ली हैं और स्पेक्ट्रम नीलामी शुरू कर दी है. आईटी क्षेत्र की कंपनी टेक महिंद्रा के एक शीर्ष अधिकारी ने मंगलवार को यह बात कही. टेक महिंद्रा के अध्यक्ष (संचार कारोबार) और नेटवर्क सेवाओं के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मनीष व्यास ने कहा कि अभी देश के सभी हिस्सों में 4जी सेवा नहीं पहुंची है, हालांकि यह काम बड़े पैमाने पर किया गया है. वहीं दूसरी ओर 5जी परीक्षणों के लिए निश्चित रूप से कुछ हलचल दिख रही है.

5G में रेगुलेटर पॉलिसी सबसे बड़ी अड़चन

व्यास ने कहा कि प्रौद्योगिकी से ज्यादा इस मामले में बड़ी अड़चन 5 जी स्पेक्ट्रम को लेकर नियामकीय निकाय की नीति है. उन्होंने कहा कि दूरसंचार विभाग ने परीक्षण के रूप में जो लाइसेंस दिया है उसमें संशोधन की जरूरत है और जब तक ऐसा नहीं होता है, क्षेत्र को इंतजार करना होगा. पीटीआई भाषा को ई-मेल से भेजे जवाब मे उन्होंने कहा कि भारत में 5जी नेटवर्क शुरू करने के लिए सबसे पहले 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी जरूरी है और सब कुछ स्पेक्ट्रम पर ही निर्भर करेगा.

कई देशों में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू

व्यास ने बताया कि अमेरिका, आस्ट्रेलिया, इटली, स्विट्जरलैंड, सऊदी अरब और कुछ अन्य देशों ने 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू कर दी है. वैश्विक स्तर पर नियामक 5जी के लिए के लिए मध्यम बैंक (3.5 गीगाहर्ट्ज) लाइसेंस दे रहे हैं जबकि कुछ अन्य देशों में एमएमवेव स्पेक्ट्रम बैंड में लाइसेंस दिया जा रहा है.

वोडाफोन आइडिया का विपरीत रूख

देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया ने हाल में कहा था कि 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 2020 से पहले से नहीं की जानी चाहिए क्योंकि उद्योग को अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकी के लिए भारत चीजों को भारत के अनुरूप करने की जरूरत है.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop