रिलायंस जियो से जून में जुड़े 47.2 लाख नए यूजर, 7.9 लाख ने लिया एयरटेल का कनेक्शन

जून 2022 में 18 लाख यूजर्स ने वोडाफोन-आइडिया का कनेक्शन छोड़ा, जियो के लगातार दूसरे महीने बढ़े सब्सक्राइबर

telecom
जून में जियो के 42.2 लाख ग्राहक बढ़े. 7.9 लाख ने एयरटेल का नया कनेक्शन लिया.

रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने जून 2022 में 42.2 लाख नए यूजर जोड़कर टेलिकॉम इंडस्ट्री के सबसे बड़े खिलाड़ी के तौर पर अपना दबदबा और बढ़ा लिया है. दूसरे नंबर की कंपनी भारती एयरटेल जून में सिर्फ 7.9 लाख नए ग्राहक जोड़ पाई, जबकि इसी दौरान वोडाफोन आइडिया के 18 लाख यूजर कम हो गए. ये सभी आंकड़े टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) की तरफ से जारी किए गए हैं.

TRAI के नए आंकड़ों को शामिल करने के बाद 30 जून 2022 को जियो के कुल वायरलेस सब्सक्राइबर्स की तादाद बढ़कर 41.3 करोड़ हो चुकी थी, जबकि एयरटेल के ग्राहकों की संख्या 36.2 करोड़ और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) के यूजर्स की तादाद 25.6 करोड़ हो गई है. ट्राई के नए आंकड़े जारी होने के बाद गुरुवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पर भारती एयरटेल के शेयर्स में 3 फीसदी उछाल देखने को मिली, जबकि वोडाफोन-आइडिया के शेयर की कीमत 0.5 फीसदी गिर गई. मई में देश में कुल टेलिकॉम सब्सक्राइबर्स की संख्या 117 करोड़ थी, जो जून अंत तक बढ़कर 117.2 करोड़ हो गई. इस हिसाब से मई के मुकाबले जून में सब्सक्राइबर की संख्या में 0.19 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है.

विदेशी कंपनियों में निवेश के लिए भारतीय कनेक्शन की बाध्यता खत्म, सेबी ने AIF और VCF से जुड़े प्रावधानों में किया बदलाव

जियो के सब्सक्राइबर लगातार दूसरे महीने बढ़े

ट्राई के ताजा आंकड़ों से पता चलता है कि रिलायंस जियो ने लगातार दूसरे महीने अपने ग्राहकों की संख्या में इजाफा किया है. जून में 42 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर जोड़ने वाली कंपनी ने मई में भी 31 लाख नए यूजर जोड़ थे. जियो के लिए यह बेहद राहत की बात है, क्योंकि उससे पहले 9 महीने तक कंपनी के ग्राहकों की संख्या में लगातार गिरावट देखने को मिली थी. कंपनी ने इस गिरावट के लिए SIM कंसॉलिडेशन और कम टैरिफ वाले यूजर्स के क्लीन-अप को जिम्मेदार बताया था.

EPFO के नए कैलकुलेटर से चेक कर सकते हैं कितनी मिलेगी पेंशन, स्टेपवाइज जानें कैलकुलेट करने का प्रोसेस

ब्रॉडबैंड सर्विस मार्केट का 98% हिस्सा 5 कंपनियों के पास

भारत के ब्रॉडबैंड सर्विस मार्केट का 98 फीसदी हिस्सा 5 कंपनियों के कब्जे में है. इनमें रिलायंस जियो इंफोकॉम के पास 41.91 करोड़, भारती एयरटेल के पास 21.94 करोड़ और वोडाफोन इंडिया के पास 12.29 करोड़ सब्सक्राइबर हैं. इनके अलावा 2.5 करोड़ सब्सक्राइबर बीएसएनएल के पास और 21.1 लाख ACT फाइबरनेट नाम से ब्रॉडबैंड सेवाएं देने वाली कंपनी एट्रिया कनवर्जेंस (Atria Convergence) के पास हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News