Koo App का नया फीचर है कमाल का, बिना दिक्कत देश भर में कहीं भी घूमें, भाषा की नहीं होगी दिक्कत

अब देश भर में कहीं भी घूमें, कू ऐप के खास फीचर के दम पर भाषा बाधा नहीं बनेगी और आसानी से आप दूसरी भाषा के लोगों से कनेक्ट हो सकेंगे.

Koo App का नया फीचर है कमाल का, बिना दिक्कत देश भर में कहीं भी घूमें, भाषा की नहीं होगी दिक्कत
देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप ने MLK यानी Multi-Lingual Koo (बहुभाषी कू) फीचर पेश किया है.

Koo New Feature: अगर आप ऐसी जगह जाते हैं जहां लोगों को आपकी भाषा नहीं समझ में आती है और आपको लोगों की. ऐसी स्थिति में आपको अपनी बात दूसरों तक पहुंचाने और सामने वाले की भाषा समझने में बड़ी दिक्कत होगी. माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म Koo App ने इसका खास समाधान पेश किया है और एक नया फीचर एमएलके लाया है. इस फीचर के सहारे आप अपनी बात को दूसरी भाषा वाले किसी शख्स से आसानी से साझा कर सकेंगे.

क्या है MLK फीचर

देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप ने MLK यानी Multi-Lingual Koo (बहुभाषी कू) फीचर पेश किया है. अपनी तरह के इस पहले फीचर को चुने जाने पर Koo App हिंदी, मराठी, कन्नड़, तमिल, असमिया, बंगाली, तेलुगु, पंजाबी, गुजराती और अंग्रेजी में से किसी भी एक भाषा में किए गए मैसेज का इन बाकी नौ भाषाओं में तुरंत अनुवाद कर देता है.

छोटे कारोबारियों को आसानी से मिलेगा कर्ज, SIDBI लाएगा स्पेशल रेटिंग सिस्टम, जानिए क्या है खास बात

फीचर की खास बातें

इस फीचर की एक खास बात यह कि है कि मूल टेक्स्ट यानी संदेश से जुड़ा संदर्भ और भाव अन्य भाषाओं में भी वैसे ही बना रहता है और रीयल टाइम में कई भाषाओं में ट्रांसलेशन होने के साथ मैसेज चला जाता है. इससे देश भर के लोग अपनी पसंद की भाषा में इस संदेश को देखते हैं और यूजर्स की पहुंच बढ़ जाती है, जिससे कम समय में ही कंटेंट क्रिएटर्स की फॉलोअरशिप बढ़ जाती है.

इसका फायदा ऐसे समझ सकते हैं, जैसे कि आप हिंदीभाषी हैं और दक्षिण भारत के किसी ऐसी जगह पहुंच जाते हैं, जहां कोई ना हिंदी बोलता है और ना समझ पाता है. ऐसे में यह फीचर बड़े काम का साबित हो सकता है. आप दूसरों से इस फीचर के जरिए आसानी से कनेक्ट हो सकते हैं. इस प्रकार की अनुवाद सुविधा को उपलब्ध कराने वाला कू ऐप दुनिया का पहला सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है.

RBI MPC: रेपो रेट में बढ़ोतरी का अनुमान, कोरोना से पहले के स्तर पर पहुंच सकती है कर्ज की लागत

टॉक टू टाइप फीचर

कू ऐप का एक और फीचर कमाल का है जिसमें लिखने की झंझट भी नहीं रही. जिन यूजर्स को लिखना नहीं आता, या फिर जो लिखने में सहज नहीं हैं, उनके लिए टॉक टू टाइप फीचर बड़े काम का है. इस फीचर के जरिए बिना भाषाई गलतियों के कही गई बात सही ढंग से आपकी भाषा में टाइप हो जाएगा. इसे आप पोस्ट के माध्यम से शेयर कर सकते हैं. इस फीचर का दूसरा फायदा यह है कि आप जिसकी बात नहीं समझ पा रहे हैं, उसकी बात को इस फीचर के जरिये टाइप करें और फिर एमएलके का इस्तेमाल करके इसे अपनी भाषा में ट्रांसलेट कर लें और आपको पता चल जाएगा कि सामने वाला क्या कह रहा है.

कैसे करें इस्तेमाल

  • सबसे पहले एंड्रॉयड स्मार्टफोन के गूगल प्ले स्टोर या एप्पल आईफोन के आईओएस ऐप स्टोर से कू ऐप डाउनलोड करें.
  • कू ऐप इंस्टॉल होने के बाद अपना फोन नंबर डाले और ओटीपी आते ही आपका अकाउंट शुरू
  • अब अपनी भाषा चुने, फिलहाल कू पर हिंदी, अंग्रेजी समेत 10 भाषाएं मौजूद हैं.
  • नए कू को करने या फिर किसी की आवाज को टेक्स्ट के रूप में टाइप करने के लिए नीचे दाहिनी ओर +कू पर क्लिक करें.
  • अब नीचे बाएं से पांचवां आइकन (बोलता हुआ इमोजी) दबाएं और टॉक टू टाइप फीचर शुरू हो जाएगा.
  • इसके बाद आपको जो भी लिखना है, उसे बोलें और सबकुछ आपकी भाषा में टाइप होता चला जाएगा.
  • फिर टेक्स्ट के ऊपर दिए गए प्लस (+) आइकन को चुनें और जिन भाषा में आपको ट्रांसलेट करना है, उसे सेलेक्ट करें.
  • भाषाएं चुनने के बाद हर भाषा के आइकन पर क्लिक करें और आपका मैसेज ऑटो ट्रांसलेट हो जाएगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News