मुख्य समाचार:
  1. कौन हैं Whatsapp इंडिया के नए हेड अभिजीत बोस, क्या होगी उनकी भूमिका? 4 अहम फैक्ट

कौन हैं Whatsapp इंडिया के नए हेड अभिजीत बोस, क्या होगी उनकी भूमिका? 4 अहम फैक्ट

बोस 2019 की शुरुआत में WhatsApp से जुड़ेंगे.

November 22, 2018 12:23 PM
abhijit bose, whatsapp india head, whatsapp operations in indiaबोस मोबाइल सॉल्यूशंस प्रोवाइडर Ezetap के को-फाउंडर हैं.

मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने अपने भारतीय आॅपरेशंस के लिए अभिजीत बोस को नया हेड घोषित किया है. बोस 2019 की शुरुआत में WhatsApp से जुड़ेंगे. बोस मोबाइल सॉल्यूशंस प्रोवाइडर Ezetap के को-फाउंडर हैं. WhatsApp ने एक बयान में कहा कि बोस कैलिफोर्निया के बाहर पहली बार WhatsApp की फुल कंट्री टीम बनाएंगे. इसका आॅफिस गुरुग्राम में होगा. आइए जानते हैं बोस के बारे में कुछ बातें-

1. अभिजीत बोस इस वक्त Ezetap के सीईओ हैं.
2. उन्होंने को-फाउंडर के तौर पर इस कंपनी को साल 2011 में शुरू किया था.
3. बोस हार्वर्ड बिजनेस स्कूल और कॉरनैल यूनिर्वर्सटी से ग्रेजुएट हैं.
4. वह आॅरेकल और बेन एंड कंपनी के साथ काम कर चुके हैं.

नई भूमिका

Whatsapp के इं​डिया हेड के तौर पर अभिजीत बोस अपनी टीम के साथ बड़े और छोटे बिजनेसेज को उनके कस्टमर्स के साथ जुड़ने में मदद करेंगे. इससे पहले स्मॉल बिजनेसेज के लिए Whatsapp बिजनेस ऐप और बड़े बिजनेसेज के लिए व्हाट्सऐप बिजनेस API लॉन्च किया जा चुका है. कंपनी के मुताबिक, इस वक्त भारत में इन बिजनेस प्रोडक्ट्स के 10 लाख से ज्यादा यूजर्स हैं.

भारत के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध: WhatsApp

Whatsapp सीईओ मैट इडेमा ने कहा कि कंपनी भारत क लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है. हम आगे भी ऐसे प्रोडक्ट बनाना जारी रखेंगे, जो लोगों को जोड़ने में और भारत की तेजी से बढ़ती डिजिटल इकोनॉमी को सपोर्ट करने में मदद करे. चूंकि अभिजीत बोस खुद एक कामयाब एंटरप्रेन्योर हैं, इसलिए वह जानते हैं कि भारत में बिजनेसेज की मदद करने के लिए किस तरह से अर्थपूर्ण पार्टन​रशिप बनाई जा सकती है.

भारत के मामले में दूसरी बड़ी नियुक्ति

Whatsapp द्वारा अभिजीत बोस की नियुक्ति भारत में कंपनी की दूसरी लीडरशिप नियुक्ति है. Whatsapp पर फेक और भड़काऊ कंटेंट पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने Whatsapp पर दबाव बनाया था. इसके बाद सितंबर में कंपनी ने कोमल लाहिड़ी को भारत के लिए ग्रीवांस यानी शिकायत अधिकारी नियुक्त किया. उनकी जिम्मेदारी फेक और भड़काऊ कंटेंट समेत अन्य चीजों को लेकर यूजर्स की शिकायतों और चिंताओं के साथ निपटने की होगी.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop