सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारत का स्मार्टफोन निर्यात 2020 तक 150 करोड़ डॉलर पहुंचने का अनुमान, UAE और सार्क देशों में अधिक डिमांड: रिपोर्ट

इस साल न सिर्फ सबसे अधिक स्मार्टफोन सैमसंग ने ही निर्यात किए बल्कि टॉप 10 निर्यात होने वाले स्मार्टफोन भी सैमसंग के ही रहे.

November 24, 2020 12:45 PM
IDC India associate research manager (client devices) Upasana Joshi said while 140 million smartphones were sold in India in 2019, IDC expects 2020 to exit with a single-digit decline in final sales to consumers.IDC India associate research manager (client devices) Upasana Joshi said while 140 million smartphones were sold in India in 2019, IDC expects 2020 to exit with a single-digit decline in final sales to consumers.

भारत से स्मार्टफोन का निर्यात 2020 में 150 करोड़ डॉलर (करीब 11,113 करोड़ रुपये) तक होने का अनुमान है. रिसर्च फर्म टेकआर्क की रिपोर्ट ‘इंडिया मोबाइल फोन एक्सपोर्ट्स स्कैन’ के अनुसार, इस साल भारत से जितने भी मोबाइल फोन निर्यात होंगे, उसमें से 98 फीसदी हिस्सा स्मार्टफोन का होगा. इनका कुल मूल्य 150 करोड़ डॉलर (11,113 करोड़ रुपये) से अधिक होने की उम्मीद है.

टेकऑर्क के फाउंडर और चीफ एनालिस्ट फैजल कवूसा का कहना है कि भारत पिछले कुछ समय से संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और पड़ोसी दक्षेस (सार्क) देशों को मोबाइल फोन का निर्यात कर रहा है लेकिन ‘मेक इन इंडिया’ जैसी पहल ने भारत को वास्तव में मोबाइल फोन का वैश्विक निर्यातक बनाने में मदद की है. निर्यात के मामले में सैमसंग आगे रहा और इस साल न सिर्फ सबसे अधिक स्मार्टफोन उसने ही निर्यात किए बल्कि टॉप 10 निर्यात होने वाले स्मार्टफोन भी सैमसंग के ही रहे.

24 देशों को मोबाइल निर्यात

भारत इस समय 24 देशों को मोबाइल फोन निर्यात करता है और उसमें कुछ ऐसे भी देश हैं जो उसे आगे भी निर्यात करते हैं. जैसे कि यूएई यहां से फोन अपने यहां मंगवाकर अन्य देशों को भी निर्यात करता है. इस तरह भारत में बने फोन लगातार लाखों यूजर्स के पास पहुंच रहे हैं. कवूसा के मुताबिक हाल ही में सरकार ने प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेटिव (पीएलआई) की घोषणा की है जिससे वैश्विक मोबाइल बाजार में भारत की स्थिति और मजबूत होगी.

यह भी पढ़ें- 10 सेक्टर्स में प्रॉडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव को मंजूरी

कोरोना महामारी ने प्रभावित किया निर्यात

टेकआर्क रिपोर्ट के मुताबिक इस साल जनवरी से लेकर सितंबर तक 1.28 करोड़ मोबाइल फोन निर्यात हो चुके हैं. इसमें से 1.09 करोड स्मार्टफोन थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना महामारी ने इसके निर्यात को भी प्रभावित किया है. जनवरी से मार्च की तिमाही में 74 लाख मोबाइल फोन निर्यात हुए थे जबकि अप्रैल से जून के बीच महज 12 लाख मोबाइल फोन, हालांकि जुलाई से सितंबर की तिमाही में स्थिति में सुधार हुआ और इस तिमाही में 42 लाख मोबाइल फोन निर्यात हुए.

Samsung के फोन सबसे अधिक निर्यात

भारत ने जो भी फोन निर्यात हुए, उसमें सबसे अधिक सैमसंग के रहे. सैमसंग के 1.16 करोड़ फोन इस साल निर्यात हुए जबकि शाओमी के 6 लाख फोन निर्यात हुए. स्मार्टफोन की बात करें तो भी सैमसंग आगे रहा क्योंकि इस साल सैमसंग ने 98 लाख स्मार्टफोन निर्यात किए. सैमसंग और शाओमी के बाद सबसे अधिक लावा के 20 लाख स्मार्टफोन निर्यात हुए. टॉप 5 स्मार्टफोन निर्यातकों में विवो और वनप्लस भी रहे.
भारत से सबसे अधिक निर्यात होने वाले स्मार्टफोन की बात करें तो इसमें सैमसंग ए51 आगे रहा. सैमसंग का दबदबा इतना ही नहीं रहा, बल्कि भारत से निर्यात होने वाले टॉप 10 स्मार्टफोन भी सैमसंग के ही रहे.

टॉप 5 निर्यातकों में LAVA स्वदेशी ब्रांड

रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय मोबाइल कंपनी लावा ने भी मोबाइल फोन निर्यात किया. लावा अकेली ऐसी भारतीय कंपनी रही जिसने ना सिर्फ मोबाइल फोन का निर्यात किया बल्कि यह टॉप 5 में भी रही. भारत से 21 ब्रांड्स के मोबाइल फोन निर्यात हो रहे हैं. हालांकि स्मार्टफोन के मामले में 17 कंपनियां ही इन्हें निर्यात कर रही हैं. सात कंपनियां अमेरिका को भी मोबाइल फोन निर्यात करती हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. भारत का स्मार्टफोन निर्यात 2020 तक 150 करोड़ डॉलर पहुंचने का अनुमान, UAE और सार्क देशों में अधिक डिमांड: रिपोर्ट

Go to Top