सर्वाधिक पढ़ी गईं

2025 तक 3.9 अरब लोगों को देनी होगी डिजिटल स्किल्स की ट्रेनिंग, 9 गुना बढ़ेगी कुशल कर्मचारियों की डिमांड: रिपोर्ट

डिजिटल कर्मचारियों के नए सर्वे में यह खुलासा हुआ कि भारत में आर्किटेक्चर डिजाइन, साइबर सिक्युरिटी और डेटा मॉडलिंग की स्किल्स भारत में सबसे अधिक मांग में है.

February 26, 2021 3:54 PM
AWS, AWS research report, digital skilled workers, India digital skilled workers, digital skill trainings, Amazon Web Services, manufacturing, education, cloud architecture design, digital security, cyber forensics tools, cloud computing, website, game, software development, data modelling, cybersecurity skills, digital India, amazonमैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में क्लाउड आर्किटेक्ट डिजाइन जैसी डिजिटल स्किल्स की 2025 तक काफी डिमांड होगी. (Representational Image)

भारत में 2025 तक डिजिटली स्किल्ड कर्मचारियों की आवश्यकता नौ गुना बढ़ जाएगी. भारत के एवरेज कर्मचारियों को 2025 तक टेक्नोलॉजी अपडेशन और इंडस्ट्री डिमांड के अनुसार सात नई डिजिटल स्किल्स सीखनी होंगी. इस तरह 2020 से 2025 तक 3.9 अरब लोगों को डिजिटल स्किल ट्रेनिंग की जरूरत पड़ेगी. अमेजन की कंपनी अमेजन वेब सर्विसेज इंक (AWS) की नई रिसर्च रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है. रिसर्च के अनुसार, इस समय भारत में डिजिटल स्किल से लैस कर्मचारियों की संख्या कुल कर्मचारियों का 13 फीसदी है.

AWS की रिपोर्ट ‘अनलॉकिंग एपीएसी’ज डिजिटल पोटेंशियल: चेंजिंग डिजिटल स्किल नीड्स एंड पॉलिसी अप्रोचेस’ के अनुसार, डिजिटल स्किल्स मैन्युफैक्चरिंग और एजुकेशन जैसे गैर तकनीकी क्षेत्र के लिए जरूरी है. मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में क्लाउड आर्किटेक्ट डिजाइन और ओरिजिनल डिजिटल कंटेंट जैसे सॉफ्टवेयर और वेब एप्लिकेशन बनाने की क्षमता जैसी डिजिटल स्किल्स की 2025 तक काफी डिमांड होगी. यह रिपोर्ट स्‍ट्रैटेजी और इकनॉमिक कंसलटिंग फर्म अल्फाबीटा की ओर से तैयार और AWS की ओर से जारी की गई है.

मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 50 फीसदी से ज्यादा डिजिटल वर्कर्स का मानना है कि उन्हें आगे इन स्किल्स की जरूरत पड़ेगी. एजुकेशन सेक्टर में डिजिटल सिक्युरिटी को विकसित करने की क्षमता, साइबर फोरेंसिक टूल्स और तकनीक काफी अहम स्किल होंगी. दूरदराज के इलाकों में पढ़ने-पढ़ाने और सीखने-सिखाने के लिए इंटरनेट के बढ़ते इस्तेमाल को देखते हुए यह सुनिश्चित करना भी जरूरी हो गया है कि स्कूल, टीचर और स्टूडेंट्स साइबर हमलों से निपटने में सक्षम बनें.

क्लाउड कंप्यूटिंग में ट्रेनिंग की जरूरत

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में अभी भी 76 फीसदी डिजिटल कर्मचारियों को क्लाउड कंप्यूटिंग में ट्रेनिंग की उम्मीद है. डिजिटल कर्मचारियों को अपनी नौकरी पूरी योग्यता से करने के लिए इस तकनीक में माहिर होना बहुत जरूरी होगा. क्लाउड आर्किटेक्चर डिजाइन, सॉफ्टवेयर ऑपरेशंस सपोर्ट, वेबसाइट/गेम/सॉफ्टवेयर डिवेलपमेंट/बड़े पैमाने पर डेटा मॉडलिंग और साइबर सिक्युरिटी की स्किल्स भारत में पांच सबसे सबसे अधिक मांग वाले डिजिटल कौशल में शामिल है.

अमेजन इंटरनेट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड (AISPL), AWS इंडिया एंड साउथ एशिया में पब्लिक सेक्टर प्रेसिडेंट राहुल शर्मा का कहना है, ये रिसर्च गैर तकनीकी क्षेत्रों जैसे मैन्युफैक्चरिंग और एजुकेशन के क्षेत्र में भी डिजिटल वर्कर्स की बढ़ती मांग को दिखाती है. AWS ज्यादा से ज्यादा छात्रों और कर्मचारियों को क्लाउड स्किल्स की ट्रेनिंग दे रहा है. क्लाउड स्किल से लैस कर्मचारियों के माध्यम से इनोवेशन में तेजी आएगी और भारत के प्रॉडक्ट्स विश्व के अन्य देशों के मुकाबले ज्यादा बेहतर ढंग से प्रतिस्पर्धा कर पाएंगे. बता दें, AWS कई विधाओं में मुफ्त ट्रेनिंग का अवसर देता है, जिसमें 500 से ज्यादा कोर्सेज शामिल हैं.

रिपोर्ट कैसे तैयार हुई?

यह रिपोर्ट स्‍ट्रैटेजी और इकनॉमिक कंसलटिंग फर्म अल्फाबीटा की ओर से तैयार और AWS की ओर से जारी की गई है. इसमें कर्मचारियों की ओर से आज नौकरियों में इस्तेमाल की जा रही डिजिटल स्किल्स का विश्लेषण किया गया है. इसके अलावा एशिया-प्रशांत के 6 देशों में अगले पांच सालों में जिन डिजिटल स्किल्स की कर्मचारियों को जरूरत होगी, इसका भी रिपोर्ट में विश्लेषण किया गया है. इन देशों में भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया, जापान, सिंगापुर और दक्षिण कोरिया शामिल है. रिसर्च में भारत में 500 से ज्यादा डिजिटल वर्कर्स का सर्वे किया गया. इसमें टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट, बिजनेस लीडर्स और पॉलिसी मेकर्स का इंटरव्यूस भी किया गया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. 2025 तक 3.9 अरब लोगों को देनी होगी डिजिटल स्किल्स की ट्रेनिंग, 9 गुना बढ़ेगी कुशल कर्मचारियों की डिमांड: रिपोर्ट

Go to Top