मुख्य समाचार:

Google Pay: टोकनाइज्ड कार्ड से ज्यादा सिक्योर होगा पेमेंट, मर्चेंट्स के लिए नया ‘स्पॉट’ प्लेटफॉर्म और ऐप

गूगल (Google) ने बेंगलुरू आयोजित एक ईवेंट में एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) रिसर्च यूनिट स्थापित करने का एलान किया.

September 19, 2019 8:19 PM

 Google Pay is introducing the 'Spot' platform for merchants, Google Pay for Business app for small business

गूगल (Google) ने बृहस्पतिवार को बेंगलुरू आयोजित एक ईवेंट में एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) रिसर्च यूनिट स्थापित करने का एलान किया. इसके अलावा गूगल ने यह भी कहा कि कंपनी कई नई पेशकश भी करने जा रही है. गूगल के वाइस प्रेसिडेंट (नेक्स्ट बिलियन यूजर्स एंड पेमेंट्स) सीजर सेनगुप्ता ने कहा कंपनी गूगल पे (GPay) में ऐसे फीचर जोड़ रही है, जो मौजूदा इंटरनेट यूजर्स के साथ-साथ पहली बार इंटरनेट उपयोग करने वालों की भी मदद करने में सक्षम हैं. कंपनी मर्चेंट्स को ध्यान में रखकर भी कुछ नई पेशकश करने जा रही है.

टोकनाइज्ड कार्ड

गूगल पे अगले कुछ हफ्तों के अंदर टोकनाइज्ड कार्ड की पेशकश करेगा. इसके जरिए फोन पर वास्तविक कार्ड नंबर के बजाय डिजिटल टोकन का इस्तेमाल कर सुरक्षित तरीके से भुगतान किया जा सकेगा. कुछ देशों में गूगल पे पर टोकनाइज्ड कार्ड पहले से मौजूद हैं. इन्हें भारत में HDFC बैंक, एक्सिस बैंक, कोटक महिन्द्रा बैंक और स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक के लिए वीजा कार्ड के साथ पेश किया जाएगा. सेनगुप्ता ने यह भी कहा कि हम मास्टरकार्ड व रूपे कार्ड और अन्य बैंकों के लिए आने वाले महीनों में टोकनाइज्ड कार्ड का सपोर्ट उपलब्ध कराएंगे.

प्लेटफॉर्म ‘स्पॉट’ और ‘गूगल पे फॉर बिजनेस’

गूगल पे मर्चेंट्स के लिए एक नया प्लेटफॉर्म ‘स्पॉट’ ला रहा है. यह उन्हें ब्रांडेड कमर्शियल एक्सपीरियंस ​क्रिएट करने और नए कस्टमर्स तक पहुंचने में मदद करेगा. गूगल पे प्लेटफॉर्म पर पहले से अर्बनक्लैप, गोआईबीबो, मेकमायट्रिप, रेडबस, ईटफिट और ओवन स्टोरी जैसे मर्चेंट मौजूद हैं.

सेनगुप्ता ने आगे कहा कि गूगल पे एक नए ऐप ‘गूगल पे फॉर बिजनेस’ के जरिए छोटे कारोबारियों के लिए सपोर्ट बढ़ा रहा है. यह छोटे व मीडियम साइज्ड मर्चेंट्स के लिए एक फ्री ऐप है, जिसमें डिजिटल पेमेंट हो सकेग और वेरिफिकेशन प्रॉसेस रिमोटली हो सकेगी.

Google का बड़ा प्लान: बेंगलुरू में बनाया AI रिसर्च लैब, भारत के लिए डेवलप करेगी प्रोडक्ट

एक साल के अंदर GPay ने की 3 गुना तरक्की

सेनगुप्ता के मुताबिक, पिछले 12 महीनों में गूगल पे ने तीन गुना की तरक्की रही है. इसके चलते इसके मंथली एक्टिव यूजर्स की संख्या 6.7 करोड़ पर पहुंच गई है और ट्रांजेक्शन ऑफलाइन व ऑनलाइन मर्चेंट्स के जरिए सालाना आधार पर 110 अरब डॉलर से अधिक पर पहुंच गए हैं. इनमें से दो-तिहाई ट्रांजेक्शन टीयर 2 और टीयर 3 शहरों से हैं. गूगल पे का मुकाबला पेटीएम और फोनपे से है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. Google Pay: टोकनाइज्ड कार्ड से ज्यादा सिक्योर होगा पेमेंट, मर्चेंट्स के लिए नया ‘स्पॉट’ प्लेटफॉर्म और ऐप

Go to Top