मुख्य समाचार:
  1. Facebook ने 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट बंद किए

Facebook ने 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट बंद किए

फेसबुक की विषय सामग्री के बारे में अन्य शब्दों में कहा जाए तो देखी गयी प्रत्येक 10 हजार विषय सामग्री में से 22 से 27 में ग्राफिक हिंसा मौजूद थी.

May 16, 2018 5:15 PM
facebook, facebook in india, mark zuckerberg, facebook fake id, how to know fake id on facebook, tech news in hindiफेसबुक की विषय सामग्री के बारे में अन्य शब्दों में कहा जाए तो देखी गयी प्रत्येक 10 हजार विषय सामग्री में से 22 से 27 में ग्राफिक हिंसा मौजूद थी. (Reuters)

विश्व की प्रमुख सोशल नेटर्विकंग साइट फेसबुक ने 2018 के पहले तीन महीने में 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट बंद किये हैं. फेसबुक ने इसके अलावा बताया कि वह उन भड़काऊ या हिंसक चित्र , आतंकवादी दुष्प्रचार अथवा घृणा फैलाने वाले अकाउंट के खिलाफ किस प्रकार कदम उठा रहा है जो ‘ सामुदायिक मानकों ’ के खिलाफ हैं.

कैंब्रिज एनालिटिका डाटा कांड के बाद पारर्दिशता की दिशा में कदम उठाते हुए फेसबुक ने कल कहा कि हर दिन लाखों फर्जी अकाउंट बनाने की कोशिश को रोकने के लिए उसने यह कदम उठाया हैं. समूह ने बताया कि इसके बावजूद कुल सक्रिय अकाउंट की तुलना में 3-4 प्रतिशत फर्जी अकाउंट अभी तक हैं. इसके अलावा इस अवधि में 83.7 करोड़ पोस्ट को हटाया गया. फेसबुक ने पहली तिमाही में भड़काऊ या हिंसक चित्र, आतंकवादी दुष्प्रचार अथवा घृणा फैलाने वाली करीब तीन करोड़ पोस्ट पर चेतावनी जारी की.

फेसबुक ने 85.6 प्रतिशत मामलों में उपयोगकर्ताओं के सतर्क करने से पहले ही फेसबुक ने आपत्तिजनक चित्रों का पता लगा लिया. इसके अलावा कंपनी ने कहा कि करीब 200 एप को सोशल मीडिया प्लेटफार्म से हटा दिया , जिनके बारे में डाटा के दुरूपयोग का पता चला था.  फेसबुक की विषय सामग्री के बारे में अन्य शब्दों में कहा जाए तो देखी गयी प्रत्येक 10 हजार विषय सामग्री में से 22 से 27 में ग्राफिक हिंसा मौजूद थी.

कंपनी ने बताया कि फेसबुक ने आतंकवादी दुष्प्रचार से संबंधित एक करोड़ नब्बे लाख पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई की. ऐसी पोस्टों में 73 फीसदी की वृद्धि हुई. फेसबुक की वैश्चिक योजना प्रबंधन की प्रमुख मोनिका बिकेट ने बताया कि कंपनी ने तीन हजार और कर्मचारियों को भर्ती करने की अपनी प्रतिबद्धता को उसने पूरा किया है. इसके चलते इस वर्ष के शुरू में मानकों को लागू करने के लिए विशेष तौर पर काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या बढ़कर 7500 हो गयी है.

Go to Top