सर्वाधिक पढ़ी गईं

महामारी में स्मार्टफोन का बढ़ा इस्तेमाल, अब रोज इतने घंटे बिताने लगे हैं भारतीय

महामारी के दौरान घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) और मनोरंजन आदि के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल बढ़ा है.

Updated: Dec 13, 2020 7:56 PM
Average time spent on smartphone up 25 pc to 6.9 hrs amid pandemic, Vivo report, covid19

भारतीय स्मार्टफोन पर प्रतिदिन औसतन सात घंटे बिताने लगे हैं. कोरोना वायरस महमारी के दौरान स्मार्टफोन का इस्तेमाल बढ़ा है. एक स्टडी में कहा गया है कि भारतीयों द्वारा स्मार्टफोन के इस्तेमाल में अनुमानत: 25 फीसदी का इजाफा हुआ है. महामारी के दौरान घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) और मनोरंजन आदि के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल बढ़ा है. लोग अपनी जरूरत के हिसाब से इन गैजेट्स का इस्तेमाल कर रहे हैं. हैंडसेट कंपनी वीवो की ओर से यह अध्ययन सीएमआर ने किया है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च 2020 (कोविड से पहले) में भारतीयों द्वारा स्मार्टफोन का इस्तेमाल 11 फीसदी बढ़कर 5.5 घंटे प्रतिदिन पर पहुंच गया. यह 2019 में औसतन 4.9 घंटे था. वहीं अप्रैल (कोविड के बाद) यह 25 फीसदी और बढ़कर 6.9 घंटे प्रतिदिन पर पहुंच गया. ‘स्मार्टफोन और मानव संबंधों पर उसका प्रभाव-2020’ रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन के बाद से भारतीय अपने स्मार्टफोन पर अधिक समय व्यतीत कर रहे हैं. वर्क फ्रॉम होम के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल 75 फीसदी बढ़ा है, जबकि कॉलिंग के लिए इसमें 63 फीसदी का इजाफा हुआ है. वहीं नेटफ्लिक्स, स्पॉटिफाई जैसी ओवर द टॉप (ओटीटी) सेवाओं के लिए स्मार्टफोन के उपयोग में 59 फीसदी की वृद्धि देखी गई है. इसके अलावा सोशल मीडिया के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल 55 फीसदी बढ़ा है. गेमिंग के लिए इसमें 45 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

फोटो-सेल्फी पर रोज 18 मिनट

स्टडी में एक और रोचक तथ्य सामने आया है. फोटो खींचने और सेल्फी लेने के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल प्रतिदिन 14 मिनट से बढ़कर 18 मिनट हो गया है. इस स्टडी में शीर्ष आठ शहरों (चार महानगरों बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद और पुणे) के 15 से 45 साल की आयु के करीब 2,000 लोगों की राय को शामिल किया गया है. इनमें से 70 फीसदी पुरुष और 30 फीसदी महिलाएं शामिल हैं. वीवो इंडिया के निदेशक (ब्रांड रणनीति) निपुन मार्या ने कहा कि कंपनी ने इसी तरह का अध्ययन पिछले साल भी कराया था.

‘वर्क फ्रॉम होम’ के 10 सेफ्टी टिप्स, साइबर क्राइम का शिकार होने से बचने में मिलेगी मदद

लत भी बनता जा रहा है स्मार्टफोन

उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी जानते हैं कि स्मार्टफोन एक बेहतर माध्यम है, विशेषरूप से कोविड-19 जैसी स्थिति में. बिना स्मार्टफोन के हम बेकार हो जाएंगे. लेकिन यदि हम स्मार्टफोन या किसी अन्य चीज का अत्यधिक इस्तेमाल करते हैं, तो इसका प्रतिकूल असर पड़ेगा. इसी वजह से हमने यह अध्ययन किया है.’’ उन्होंने कहा कि स्मार्टफोन एक ‘लत’ भी बन रहा है. 84 फीसदी लोगों ने कहा कि वे सुबह उठने के बाद पहले 15 मिनट में अपना फोन देखते हैं. 46 फीसदी ने कहा कि वे दोस्तों के साथ एक घंटे की बैठक के दौरान कम से कम पांच बार अपना फोन उठाते हैं. मार्या ने कहा कि महामारी के बाद स्थिति सामान्य होने पर स्मार्टफोन का इस्तेमाल मौजूदा स्तर से घटेगा, लेकिन कुछ ऐसे बदलाव हैं जो कायम रहेंगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. टेक्नोलॉजी
  3. महामारी में स्मार्टफोन का बढ़ा इस्तेमाल, अब रोज इतने घंटे बिताने लगे हैं भारतीय

Go to Top