सर्वाधिक पढ़ी गईं

महिलाओं के ये 4 कदम लाइफ बना देंगे सेफ, जिंदगी भर नहीं होगी पैसों की तंगी

बचत में माहिर होती हैं महिलाएं

May 28, 2019 12:12 PM
women financial security these steps will keep women and their family financially secureबचत में माहिर होती हैं महिलाएं

Financial Security: ऐसा कहा जाता है कि महिलाएं बचत करने में माहिर होती है. एक-एक पाई का हिसाब करना उन्हें बेहतर ढंग से आता है. महिलाओं के बचत या पैसे जोड़ने का कॉनसेप्ट कोई नया नहीं हैं. घर खर्च में से पैसे बचाकर वो निवेश और बचत दोनों करना बहुत अच्छे से जानती हैं. हालांकि यह माना जाता है कि महिलाएं इक्विटी या ऐसे अन्य विकल्पों की तुलना में गोल्ड में ज्यादा निवेश करती हैं. लेकिन अब समय आ गया है कि महिलाएं सिर्फ गोल्ड में निवेश करने की बजाय अपनी फाइनेंशियल सिक्योरिटी के बारे में भी सोचें और अलग-अलग जगह निवेश करें. इन 4 स्टेप्स से महिलाएं खुद को फाइनेंशियली सिक्योर करने की ओर कदम बढ़ा सकती हैं.

स्टेप 1: Financial Security

अगर आप अपने घर में इकलौती कमाने वाली है तो आपके जाने के बाद आपके घर पर जो आर्थिक संकट आ सकता है उसके बारे में सोच कर चलें. कई बार ऐसा होता है कि घर में इकलौता कमाई करने वाले इंसान के साथ कोई दुर्घटना हो जाए तो परिवार पर आर्थिक संकट आ जाता है. ऐसें में टर्म इंश्योरेंस लेना ना भूलें. दूसरी जगह पैसा निवेश करने से पहले किसी कम कीमत वाले टर्म इंश्योरेंस में जरूर निवेश करें. ताकि आपके जाने बाद आपके परिवार को पैसे की तंगी ना हो.

Step 2: हेल्थ इंश्योरेंस

मुश्किल समय के लिए हेल्थ इंश्योरेंस बहुत जरूरी है. हेल्थ इंश्योरेंस का फायदा है कि टैक्स के फायदों के अलावा हॉस्पिटल बिल का आपकी जेब पर बोझ नहीं पड़ता है. इसके अलावा महिलाएं कोई ऐसा हेल्थ इंश्योरेंस भी ले सकती हैं जो आपके पूरे परिवार के मेडिकल के खर्च को कवर करें.

Step 3: इमरजेंसी फंड

कहते हैं कि मुसीबत कभी दस्तक देकर नहीं आती. मुश्किल समय कभी भी आ सकता है ऐसे में आपको पूरी तरह से तैयार रहना चाहिए. अगर आप या आपके परिवार में कोई बीमार पड़ जाए या किसी इमरजेंसी में पैसे की जरुरत पड़ जाए, ऐसे समय में इमरजेंसी फंड काम आता है. इमरजेंसी फंड होने से मुश्किल घड़ी में किसी रिश्तेदार से पैसे मांगने या निवेश किए गए पैसे को निकालने की बजाय इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.

Step 4: कर्ज समय से चुकाएं

कई बार लिया हुआ कर्ज हमारी कमाई को भी डुबो देता है. होम लोन, पर्सनल लोन, कार लोन या क्रेडिट कार्ड जैसे लोन हैं तो कोशिश करें कि हाई कॉस्ट लोन पहले चुकाएं. मसलन क्रेडिट कार्ड और पर्सनल लोन. अगर किसी वजह से आप लोन नहीं चुका पाते हैं तो ये आपके बाकी खर्चों पर भी असर डालेगा. इसके अलावा कुछ बैंक लोन को कंसोलिडेट भी करते हैं. तो अपने बैंक से अपना लोन कंसोलिडेट करने को कहें.

(रोहित अम्बोस्ता, चीफ इंफॉर्मेशन ऑफिसर, एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. महिलाओं के ये 4 कदम लाइफ बना देंगे सेफ, जिंदगी भर नहीं होगी पैसों की तंगी

Go to Top