मुख्य समाचार:
  1. Income Tax Return 2018-19: जानिए क्या है ITR 2 और इसे कैसे दाख़िल करें?

Income Tax Return 2018-19: जानिए क्या है ITR 2 और इसे कैसे दाख़िल करें?

आपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

August 3, 2018 3:31 PM
itr 2 form, itr 2 form download, itr 2 for ay 2018-19, how to file itr 2 online for ay 2018-19, how to file income tax return itr 2, how to file income tax return in hindiआपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

Income Tax Return 2018-19: केंद्रीय कर बोर्ड ने 5 अप्रैल को मूल्यांकन वर्ष 2018-19 के लिए नए आयकर रिटर्न फॉर्म को लेकर अधिसूचित किया था. 2018-19 के लिए सभी आईटीआर अब ई-फाइलिंग के लिए उपलब्ध हैं. इनकम टैक्स विभाग ने 5 अप्रैल से आईटीआर फॉर्म जारी करने शुरू किए. CBDT ने कहा था कि सभी सात आईटीआर विभाग के वेब पोर्टल (incometaxindiaefiling.gov.in) पर ऑनलाइन दायर किए जाएंगे. आइये जानते हैं आयकर रिटर्न फॉर्म 2 के बारे में:

आकलन वर्ष, जिसके लिए यह रिटर्न फॉर्म लागू है

CBDT के मुताबिक, यह नया आईटीआर फॉर्म -2 सिर्फ निर्धारण वर्ष (AY) 2018-19 के लिए लागू है, यानी, यह वित्तीय वर्ष (वित्त वर्ष) 2017-18 में अर्जित आय से संबंधित है.

कौन इस फॉर्म का उपयोग कर सकता है?

यह फॉर्म उन व्यक्तियों या हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के लिए है जो सहज (आईटीआर -1) फाइल करने के योग्य नहीं हैं और जिनके पास ‘लाभ या व्यापार या पेशे के लाभ’ के तहत कोई आय नहीं है.

ITR Form-1 (सहज) के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न कैसे फाइल करें?

इस फॉर्म का उपयोग कौन नहीं कर सकता?

इस रिटर्न फॉर्म का उपयोग किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा नहीं किया जाना चाहिए जिसके मूल्यांकन वर्ष 2018-19 के लिए कुल आय में “व्यापार या पेशे के लाभ या लाभ” के तहत आय शामिल है.

ITR-2 फॉर्म भरने के तरीके को जान लीजिए

यह रिटर्न फॉर्म निम्नलिखित में से किसी भी तरीके से आयकर विभाग के साथ दायर किया जा सकता है:–

– डिजिटल हस्ताक्षर के तहत इलेक्ट्रॉनिक रूप से वापसी प्रस्तुत करके;

– इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड के तहत इलेक्ट्रॉनिक रूप से रिटर्न में डेटा संचारित करके;

– इलेक्ट्रॉनिक रूप से रिटर्न में डेटा प्रसारित करके और उसके बाद रिटर्न फॉर्म आईटीआर-वी में वापसी का सत्यापन जमा कर.

करदाताओं को उनके टैक्स क्रेडिट स्टेटमेंट (फॉर्म 26 AS) के साथ या उनके द्वारा कटौती/एकत्र/भुगतान करों से भी मेल खाना चाहिए.

आपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2018 है.

Go to Top