सर्वाधिक पढ़ी गईं

Investor Alert ! इस कंपनी के शेयर में भूल कर भी न लगाएं पैसा, हो सकता है भारी घाटा

पिरामल कैपिटल के अधिग्रहण के बाद डीएचएफएल के शेयर डी-लिस्ट हो जाएंगे. ऐसे में इन शेयरों की कीमत बिल्कुल भी खत्म हो सकती है. लिहाजा निवेशकों को किसी भी हाल में इन्हें खरीदने से बचना चाहिए.

June 8, 2021 5:25 PM
डीएचएफएल के शेयर में अपर सर्किट लग चुका है. इस वक्त इसमें खरीदारी सही नहीं.

दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) के शेयरों को खरीदने का मन बना रहे निवेशकों को इस वक्त सावधान हो जाने की जरूरत है. कर्ज के बोझ से लदी इस कंपनी के शेयर जल्द ही डी-लिस्ट होने जा रहे हैं.  मंगलवार को इसके शेयर दस फीसदी के अपर सर्किट को हिट करते हुए 22.85 रुपये पर पहुंच गए. लेकिन विश्लेषकों का कहना है कि निवेशकों को इसकी तेजी के लालच में नहीं आना चाहिए. जो लोग इस कंपनी का शेयर खरीदना चाह रहे हैं उन्हें इससे इस वक्त दूर रहना चाहिए क्यों डी-लिस्ट होने के साथ ही इनकी वैल्यू जीरो हो जाएगी.जिन निवेशकों के पास इसके शेयर हैं भी उन्हें भी इससे निकल जाना चाहिए, चाहे घाटा हो या फायदा.

पिरामल कैपिटल डीएचएफएल को खरीदेगी

दरअसल नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) ने डूब चुकी कंपनी डीएचएफएल को खरीदने की पिरामल कैपिटल एंड हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड को कोशिश को हरी झंडी दे दी है. एनसीएलटी ने पिरामल के रेज्यलूशन प्लान को मंजूरी दे दी. एनसीएलएटी और सुप्रीम कोर्ट की मंजूरी के साथ ही डीएचएफएल पिरामल कैपिटल की हो जाएगी. इसलिए नियमों के मुताबिक डीएचएफएल के शेयर शेयर बाजार से उतार दिए जाएंगे. ऐसी स्थिति में निवेशकों का सारा पैसा इसमें डूब जाएगा.

इस स्टॉक से निवेशकों को मिल सकता है 26% का रिटर्न, बिग बुल राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में भी है शुमार

मंगलवार को डीएचएफएल के शेयर दस फीसदी अपर लिमिट में लॉक हो गए. ऐसा लगातार दूसरा दिन हुआ. 2 जून से यह शेयर लगातार ऊपर जा रहा था और अब तक 27 फीसदी चढ़ चुका है लेकिन इसमें पैसा लगाना अब खतरे से खाली नहीं. देश की सबसे बड़ी ब्रोकरेज फर्म जिरोधा ने ट्वीट कर कहा है कि डीएचएफएल के अधिग्रहण के साथ ही इसके शेयरों की कीमत शून्य हो जाएगी. इसमें लगाया पैसा आपका सारा पैस डूब सकता है. यह भी कहा जा रहा है कि मंगलवार को इसमें अपर सर्किट इसलिए लगा कि इस शेयर को बेचने वाला ही कोई नहीं था.

विश्लेषकों ने दी चेतावनी 

कैपिटल माइंड के फाउंडर दीपक शेनॉय ने भी चेताया है कि अगर निवेशकों ने डीएचएफएल में निवेश किया तो उनका सारा पैसा डूब सकता है. कर्ज से लदी मॉर्गेज फर्म दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड ( DHFL) के शेयर जल्द ही शेयर मार्केट से डी-लिस्ट हो सकते हैं. नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT)ने पिरामल कैपिटल एंड हाउसिंग फाइनेंस को डीएचएफएल के अधिग्रहण के लिए मंजूरी दे दी . इसके लिए कंपनी ने 37,250 करोड़ की पेशकश की थी

(स्टोरी में स्टॉक रिकमंडेशंस रिसर्च एनालिस्ट्स और ब्रोकरेज फर्म द्वारा दी गई जानकारियों पर आधारित है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन किसी भी निवेश सलाह को लेकर कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है. निवेश के पहले अपने सलाहकार से जरूर संपर्क कर लें.)

(आर्टिकल : सुरभि जैन)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Investor Alert ! इस कंपनी के शेयर में भूल कर भी न लगाएं पैसा, हो सकता है भारी घाटा

Go to Top