सर्वाधिक पढ़ी गईं

Top 10 Mutual Funds: इस दिवाली यहां लगाएं पैसे, किसी भी लक्ष्य के लिए पैसों की नहीं होगी किल्लत

Diwali Special Top 10 Mutual Funds: दीपावली सिर्फ दीयों का त्योहार नहीं है. इसे नया निवेश शुरू करने के लिए भी शुभ मौके के रूप में माना जाता है.

October 28, 2021 4:08 PM
Top 10 mutual funds to buy this Diwali which can grow your wealthम्यूचुअल फंड कई प्रकार के होते हैं जिसे अपने वित्तीय लक्ष्यों के मुताबिक चुनकर निवेश कर सकते हैं.

Diwali Special Top 10 Mutual Funds: दीपावली सिर्फ दीयों का त्योहार नहीं है. इसे नया निवेश शुरू करने के लिए भी शुभ मौके के रूप में माना जाता है. ऐसा विश्वास है कि इस दिन किए गए निवेश पर कई गुना रिटर्न हासिल होता है. जो इक्विटी में सीधे निवेश का जोखिम नहीं उठा सकते हैं लेकिन थोड़ा-थोड़ा पूंजी निवेश कर सकते हैं, उनके लिए म्यूचुअल फंड में निवेश बेहतरीन विकल्प है. म्यूचुअल फंड कई प्रकार के होते हैं जिसे अपने वित्तीय लक्ष्यों के मुताबिक चुनकर निवेश कर सकते हैं. यहां नीचे कुछ ऐसे म्यूचुअल फंड्स की जानकारी दी जा रही है जिससे न सिर्फ अपने वित्तीय लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी बल्कि अपनी पूंजी को बढ़ाने में भी मदद मिलेगी.

Diwali 2021 technical stock picks: दिवाली पर दमदार रिटर्न का मौका, टेक्निकल चार्ट पर मजबूत दिख रहे ये 5 शेयर

लिक्विड फंड

अगर आप सेविंग्स खाते में पैसे रखते हैं क्योंकि इसमें लिक्विडिटी की सुविधा मिलती है तो लिक्विड फंड में शॉर्ट टर्म के लिए पैसे रखना बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. इसमें सेविंग्स खाते से अधिक रिटर्न मिल सकता है और लिक्विड फंड में जरूरत के समय पैसे भी निकाल सकते हैं. इसके अलावा अगर चाहें तो अपने पैसों को इक्विटी में ट्रांसफर कर सकते हैं. उदाहरण के लिए क्वांट लिक्विड फंड ने पिछले दो साल में निवेशकों को 4.69 फीसदी और पांच साल में 5.57 फीसदी का रिटर्न दिया है. यह आम बचत खाते के मुकाबले अधिक है.

डेट फंड

अपनी पूंजी का एक हिस्सा डेट में भी लगाना चाहिए. अपने पोर्टफोलियो में डेट फंड को शामिल करने पर वोलैटिलिटी के दौरान पूंजी सुरक्षित रहती है. तीन साल से अधिक निवेश बनाए रखते हैं तो रिटर्न लांग टर्म कैपिटल गेन माना जाएगा और इस पर इंडक्सेशन बेनेफिट मिलेगा. एक्सिस डायनमिक बॉन्ड फंड ने पिछले एक साल में 4.22 फीसदी, दो साल में 8.62 फीसदी और तीन साल में निवेशकों को 9.78 फीसदी का रिटर्न दिया है.

Capital Gains Account Scheme: घर बेचने पर हुए मुनाफे पर ऐसे बचा सकते हैं टैक्स, बड़े काम का है यह खाता, जानिए इससे जुड़ी जरूरी बातें

एग्रेसिव हाइब्रिड फंड्स

इस विकल्प को अपनाने पर आपकी पूंजी को इक्विटी और डेट दोनों में निवेश किया जाता है यानी कि इस विकल्प में पूंजी की सुरक्षा और ग्रोथ दोनों एक ही फंड के जरिए मिल सकता है. सबसे महत्वपूर्ण यह है कि इसमें निवेश पर इक्विटी टैक्सेशन का बेनेफिट मिलता है. यह नए निवेशकों के लिए बहुत सही विकल्प है. कोटक इक्विटी हाइब्रिड फंड ने छह महीनों में निवेशकों को शानदार 50.40 फीसदी रिटर्न दिया है. पिछले दो साल में इसने निवेशकों को 22.24 फीसदी और तीन साल में 13.69 फीसदी का रिटर्न दिया है.

इक्विटी सेविंग्स फंड्स

यह हाइब्रिड स्कीम की ही तरह है लेकिन इसमें पूंजी का बड़ा हिस्सा डेट में लगाया जाता है. इस स्कीम के तहत पूंजी को इक्विटी, डेट और आर्बिट्रेज अपॉर्च्यूनिटीज में निवेश किया जाता है. चूंकि इस स्कीम के तहत इक्विटी में कम पैसे लगाए जाते हैं तो यह वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी एक या दो साल के लिए निवेश का बेहतर विकल्प हो सकता है. एसबआई इक्विटी सेविंग्स फंड वे एक साल में निवेशकों को 13.87 फीसदी, दो साल में 12.62 फीसदी और तीन साल में 8.86 फीसदी का रिटर्न दिया है.

Home Loan: फेस्टिव सीजन में चाहिए सबसे सस्ता होम लोन? जानिए किन बैंकों में 7% से कम है ब्याज दर

लार्ज कैप फंड्स (इक्विटीज)

अगर आप इक्विटी में निवेश के जरिए चाहते हैं कि आपकी पूंजी लगातार बढ़े तो यह बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. लार्ज कैप फंड्स में मिडकैप या स्माल कैप पियर्स की तुलना में उतार-चढ़ाव म होता है. लंबे समय के अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए यह बेहतर विकल्प है. एक्सिस ब्लूचिप फंड ने पिछले छह महीने में निवेशकों को शानदार 51.90 फीसदी का रिटर्न दिया है. लंबे समय में भी इसका रिटर्न शानदार रहा है. इस फंड ने निवेशकों को दो साल में 24.48 फीसदी, तीन साल में 24.98 फीसदी और पांच साल में 19.08 फीसदी रिटर्न दिया है. कोरोना महामारी के दौरान मार्केट में तेज गिरावट के दौरान भी निवेशकों को खुश रखा.

मिड कैप फंड्स (इक्विटीज)

इसमें निवेश लार्ज कैप फंड की तुलना में अधिक रिस्की है लेकिन इसमें औसत से अधिक रिटर्न पाने की संभावना अधिक है. इन फंड में लगाई गई पूंजी को ऐसी ग्रोथ कंपनियाों में लगाया जाता है जिनकी क्षमता का अभी पूरा इस्तेमाल नहीं हो सका है. अगर आप अपने बच्चे की शिक्षा या घर के डाउन पेमेंट के लिए पैसों का इंतजाम करना चाहते हैं तो ये बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. पीजीआईएम इंडिया मिडकैप अपॉर्च्यूनिटीज फंड में निवेशकों को महज एक ही साल में शानदार 95.29 फीसदी तक का रिटर्न हासिल हुआ है. अगर लंबे समय की बात करें तो इस फंड ने पांच साल में भी बेहतर प्रदर्शन किया है.

Diwali Muhurat Trading 2021: क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग, निवेशकों के लिए क्यों है अहम- जानें एक घंटे के ट्रेडिंग सेशन में किन शेयरों में लगाएं दांव

स्माल कैप फंड्स

अगर आप रिस्क उठा सकते हैं तो स्माल कैप फंड्स में निवेश कर सकते हैं. इसमें वोलैटिलिटी बहुत अधिक है लेकिन इसनें लंबे समय में शानदार रिटर्न मिल सकता है. हालांकि यह ऐसे निवेशकों के लिए नहीं है जो रिस्क नहीं ले सकते हैं. इसके बावजूद यह ऐसे निवेशकों के लिए भी नहीं हो कम समय के लिए अपने पैसों को कहीं निवेश करना चाहते हैं. यह फंड लंबे समय तक के निवेश के लिए बेहतर है. क्वांट स्माल कैप फंड ने महज एक साल में निवेशकों को 124.15 फीसदी का रिटर्न दिया है. पांच साल के निवेश पर इसने 23.17 फीसदी का रिटर्न दिया है.

इक्विटी मल्टी-कैप फंड्स

अगर आप लार्जकैप, मिडकैप और स्मालकैप में निवेश कर सकते हैं तो इस एक फंड के जरिए इन तीनों विकल्पों के बेनेफिट्स पा सकते हैं. मल्टी कैप फंड्स में फ्लेक्सिबिलिटी होती है. लंबे समय तक निवेश के लिए यह बेहतर विकल्प है. बीएनपी पारिबास मल्टी कैप फंड ने एक साल में निवेशकों को 70.82 फीसदी रिटर्न दिया है. इस फंड ने निवेशकों को दो साल में 29.83 फीसदी, तीन साल में 23.68 फीसदी और पांच साल में 16.24 फीसदी का रिटर्न दिया है.

Tax Talk: Section 80C के तहत टैक्स डिडक्शन का नहीं ले पाएंगे फायदा, क्लेम करते समय बचें इन नौ गलतियों से

इंटरनेशनल फंड्स

अगर आप अमेजन, फेसबुक, नेटफ्लिक्स या एप्पल जैसे ब्लू चिप स्टॉक्स में निवेश करना चाहते हैं तो इंटरनेशनल फंड्स बेहतरीन विकल्प है. यह फंड न सिर्फ आपके पोर्टफोलियो को डाइवर्सिफाई करता है बल्कि घरेलू मार्केट में वोलैटिलिटी से भी सुरक्षित रहता है. आईसीआईसीआई प्रू यूएस ब्लू चिप इक्विटी फंड ने पिछले पांच साल में निवेशकों को 20.09 फीसदी का रिटर्न दिया है.

ईएलएसएस फंड्स

यह आपके पोर्टफोलियो में जरूर होना चाहिए. इसमें किए गए निवेश पर आयकर अधिनियम 1961 के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स बेनेफिट्स ले सकते हैं. टैक्स सेविंग इंस्ट्रूमेंट्स में सबसे कम लॉक-इन पीरियड इसी का है तो इस लिहाज से भी यह बेहतर विकल्प है. लंबे समय में इसने औसत से अधिक रिटर्न दिया है. केनरा रोबेको इक्विटी टैक्ससेवल फंड ने टैक्स बचत के अलावा निवेशकों को एक साल में 61.69 फीसदी का रिटर्न दिया है. चूंकि इसमें तीन साल का लॉक-इन पीरियड होता है तो इस अवधि में रिटर्न की बात करें तो इसने तीन साल में 28.27 फीसदी का रिटर्न दिया है.
(Article: Abhinav Angirish, Founder, Investonline.in)
(डिस्क्लेमर: ये लेखक के निजी विचार हैं और महज जानकारी के लिए है. निवेश से जुड़ा कोई भी फैसला लेने से पहले अपने सलाहकार से जरूर संपर्क कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Top 10 Mutual Funds: इस दिवाली यहां लगाएं पैसे, किसी भी लक्ष्य के लिए पैसों की नहीं होगी किल्लत

Go to Top