सर्वाधिक पढ़ी गईं

Tax Saving के लिए इन्वेस्टमेंट कर रहे हैं प्लान, तो न करें ये 5 गलतियां

टैक्स सेविंग पूरी फाइनेंशियल प्लानिंग का महत्वपूर्ण हिस्सा है, इसलिए इसे सही तरीके से प्लान करना चाहिए.

December 31, 2018 7:13 AM
tax saving do not do these 5 mistakes during tax planningइस वित्त वर्ष की तीन तिमाही बीत चुकी हैं और अब टैक्सपेयर्स के पास टैक्स प्लानिंग के लिए केवल 3 माह ही बचे हैं.

टैक्स सेविंग पूरी फाइनेंशियल प्लानिंग का महत्वपूर्ण हिस्सा है, इसलिए इसे सही तरीके से प्लान करना चाहिए. इस वित्त वर्ष की तीन तिमाही बीत चुकी हैं और अब टैक्सपेयर्स के पास टैक्स प्लानिंग के लिए केवल 3 माह ही बचे हैं. अगर आपने अभी तक टैक्स प्लानिंग या टैक्स सेविंग के लिए इन्वेस्टमेंट नहीं किया है तो यह सही वक्त है. लेकिन टैक्स सेविंग के लिए इन्वेस्टमेंट करते वक्त कुछ गलतियों से बचना चाहिए, वर्ना फायदे के बजाय नुकसान झेलना पड़ सकता है. आइए बताते हैं ऐसी ही 5 गलतियों के बारे में-

1. एक ही ऑप्शनमें पैसे लगाते रहना

टैक्स सेविंग के लिए सेक्शन 80सी एक कॉमन प्रोविजन है और इसमें कुल मिलाकर 1.5 लाख रुपये तक टैक्स बचाया जा सकता है. अक्सर देखा जाता है कि जानकारी के अभाव में टैक्सपेयर्स उन्हीं सब ऑप्शन में इन्वेस्ट करते रहते हैं, जो केवल सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स बचाते हैं. जैसे- इंश्योरेंस पॉलिसी, एफडी, ईएलएसएस आदि. इसके चलते सेक्शन 80सी के तहत मिलने वाली 1.5 लाख रुपये तक की पूरी छूट यूटिलाइज हो जाती है लेकिन अन्य सेक्शंस के तहत मिलने वाली छूट अनयूटिलाइज रह जाती है. इसलिए अपने इन्वेस्टमेंट पोर्टफोलियो और खर्च को डायवर्सिफाई करना चाहिए. उदाहरण के लिए सेक्शन 80सीसीडी के तहत एनपीएस कॉन्ट्रीब्यूशन और हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम पर छूट पाई जा सकती है.

Tax Saving: सैलरीड क्लास इन 13 जगहों पर बचा सकते हैं इनकम टैक्स

2. बिना रिसर्च इन्वेस्टमेंट करना

आमतौर पर टैक्सपेयर्स का इन्वेस्टमेंट के पीछे उद्देश्य केवल टैक्स सेविंग करना होता है. वे इसके रिटर्न और रिस्क फैक्टर्स को एक तरह से अनदेखा कर देते हैं और किसी भी प्लान को चुन लेते हैं. कोई भी इन्वेस्टमेंट केवल टैक्स सेविंग के लिए नहीं करना चाहिए, ​बल्कि यह आखिरी फायदे के तौर पर देखा जाना चाहिए. इसलिए किसी भी इन्वेस्टमेंट प्लान में इन्वेस्ट करने से पहले उसके रिटर्न, रिस्क फैक्टर्स और बेनिफिट्स को लेकर पूरी रिसर्च कर लेनी चाहिए.

3. इन्वेस्टमेंट का गलत तरीका चुनना

सरकार हमेशा से डिजिटल पेमेंट पर जोर देती आ रही है, इसकी वजह है कि इसके जरिए किसी भी झूठे क्लेम का पता लगाया जा सकता है. कई सेक्शंस टैक्स पर छूट तभी देते हैं, जब इन्वेस्टमेंट कैश को छोड़कर अन्य तरीकों से किया गया हो. किसी भी इन्वेस्टमेंट में पेमेंट करने से पहले टैक्सपेयर को चेक कर लेना चाहिए कि क्या कैश में पेमेंट किए जाने पर छूट मिलेगी या नहीं. उदाहरण के तौर पर सेक्शन 80डी के तहत मेडिकल इंश्योरेंस प्रीमियम पर टैक्स में छूट मिलती है. लेकिन यह तभी मिलेगी, जब पेमेंट बैंकिंग चैनल से किया गया हो. इसी तरह सेक्शन 80जी के तहत 10000 रुपये से ज्यादा की कैश में दी गई डोनेशन पर छूट नहीं मिलती है.

Tax Saving : बच्चे की पढ़ाई के खर्च और होम लोन पर भी होती है टैक्स सेविंग, ऐसे उठाएं फायदा

4. पहले से प्लानिंग न करना

टैक्सपेयर अक्सर जो गलती करते हैं, वह यह कि वे वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही में इन्वेस्टमेंट प्लान करते हैं. ऐसे में जल्दबाजी के चलते वे या तो कम यील्ड वाली स्कीम में पैसा लगा देते हैं या फिर अयोग्य स्कीमों को चुन लेते हैं. इसलिए खराब इन्वेस्टमेंट से बचने क लिए साल की शुरुआत से ही टैक्स प्लानिंग कर शुरू कर ​देनी चाहिए.

5. टैक्स छूट वाले खर्चों को अनदेखा करना

ज्यादातर लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है कि उनके रोज की जिंदगी के खर्च भी टैक्स सेविंग में मदद कर सकते हैं. इस जानकारी के अभाव में वे पूरे साल इन्हें अनदेखा कर देते हैं. इसलिए सबसे पहले उन खर्चों के बारे में जानकारी जुटाएं, जो आपको टैक्स छूट दिला सकते हैं. उदाहरण के तौर पर स्कूल फीस में शामिल ट्यूशन फीस, मेडिकल खर्चे, अचल संपत्ति खरीदने पर चुकाई गई स्टांप ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन फीस, चंदा, होम लोन का इंट्रेस्ट आदि. इसलिए टैक्स छूट दिलाने वाले पूरे साल के खर्चों का रिकॉर्ड और उनकी रसीद संभालकर रखें ताकि साल खत्म होने पर आप क्लेम कर सकें.

(लेखक— CA नवीन वाधवा, GM–R&D, Taxmann.com और CA रितु गुप्ता, असिस्मेंट मैनेजर, Taxmann.com)

Tax Saving: शादी में मिले गिफ्ट्स पर नहीं लगता टैक्स, लेकिन ये है शर्त

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Tax Saving के लिए इन्वेस्टमेंट कर रहे हैं प्लान, तो न करें ये 5 गलतियां

Go to Top