मुख्य समाचार:

मिडिल क्लास को मिली सौगात! अपने घर का सपना पूरा करना हुआ आसान

दूसरा घर खरीदने को प्रोत्साहित करने के लिए केंद्र सरकार ने टैक्स में छूट दी है. इससे रियल एस्टेट सेक्टर को भी अप्रत्यक्ष रूप से फायदा मिलेगा. हालांकि रियल एस्टेट सेक्टर को अंतरिम बजट में प्रत्यक्ष रूप से भी राहत दी गई है.

February 3, 2019 8:42 AM
budget 2019, real estate sector, budget benefit to real estate sector, affordable housing sector, jll india, puravankara limited, shobha limited, ask group, mid housing segment, first time home buyersमिड-हाउसिंग सेग्मेंट में फर्स्ट-टाइम होम बॉयर्स की संख्या बढ़ेगी.

केंद्र सरकार ने सुस्त होते रियल एस्टेट सेक्टर में जान फूंकने के लिए अंतरिम बजट में नई राहत दी है. रियल एस्टेट सेक्टर को राहत देने के लिए अंतरिम बजट में दूसरा घर खरीदने पर भी होम बॉयर्स को टैक्स में छूट मिलेगी. इससे लोग दूसरा घर खरीदने के लिए प्रोत्साहित होंगे जिससे अप्रत्यक्ष रूप से रियल एस्टेट सेक्टर को फायदा पहुंचेगा. इसके अलावा अंतरिम बजट में रियल एस्टेट सेक्टर को प्रत्यक्ष रूप से राहत दी गई है. अफोर्डेबल हाउसिंग के डेवलपमेंट में अनसोल्ड इंवेंटरी पर उन्हें दो साल तक टैक्स छूट मिलेगी. इसके पहले यह छूट सिर्फ एक साल तक ही मिलती थी.

इनकम टैक्स राहत बढ़ने से रियल एस्टेट को भी फायदा

5 लाख तक की इनकम पर आयकर छूट दिए जाने से भी रियल एस्टेट सेक्टर में बूम आ सकता है. एएसके ग्रुप के एमडी और सीईओ सुनील रोहोकाले के मुताबिक 5 लाख तक की आय और स्पेसिफाइड इंवेस्टमेंट पर 6.5 लाख रुपये तक की आय टैक्सफ्री होने पर अब लोगों के हाथ में ज्यादा पैसा होगा. अगर दोनों पति-पत्नी कमाते हैं तो दोनों मिलाकर कम से कम 10-12 लाख रुपये तक की आय टैक्सफ्री हो जाएगी. इससे मिड-हाउसिंग सेग्मेंट में फर्स्ट-टाइम होम बॉयर्स की संख्या बढ़ेगी.

टैक्सराहत लेने के लिए हाई इनकम ग्रुप का घर खरीदने पर होगा जोर

शोभा लिमिटेड के एमडी और वाइस चेयरमैन जेसी शर्मा के मुताबिक जिन लोगों की इनकम थोड़ी ज्यादा है वे 5 लाख तक की आय टैक्सफ्री का फायदा लेने के लिए घर पर निवेश कर सकते हैं. 50 हजार रुपये तक का स्टैंडर्ड डिडक्शन और हाउसिंग लोन पर कर छूट लेने की कोशिश होगी. जेसी शर्मा का कहना है कि मिडिल क्लास के हाथों में अब ज्यादा इनकम होगी और वे इसे घर खरीदने में खर्च करेंगे क्योंकि इस पर बेहतर रिटर्न सुनिश्चित रहती है.

टैक्स सेविंग से बढ़ेगी घर खरीदने की चाहत

पुरावंकारा लिमिटेड के एमडी आशीष पुरावंकारा का मानना है कि सेविंग बढ़ने पर लोग अपने घर का सपना साकार करना चाहेंगे. इससे अफोर्डेबल हाउसिंग सेग्मेंट पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

रेंट टीडीएस थ्रेसहोल्ड बढ़ने से भी मिलेगी राहत

अंतरिम बजट में रेंट पर टीडीएस थ्रेसहोल्ड भी बढ़ा दिया गया है और अब यह 1.8 लाख से बढ़ाकर 2.4 लाख कर दिया गया है. इससे छोटे टैक्सपेयर्स को मिला है. जेएलएल इंडिया के सीईओ और कंट्री हेड रमेश नायर का कहना है कि दूसरे घर के नोशनल रेंट को टैक्स फ्री और 2.4 लाख रुपये तक के रेंटल इनकम पर टीडीएस खत्म करने से हाउसिंग सेक्टर को बढ़ावा मिलेगा.

(लेख शुभ्रा टंडन ने लिखा है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. मिडिल क्लास को मिली सौगात! अपने घर का सपना पूरा करना हुआ आसान

Go to Top