धनतेरस से पहले यहां खरीदें सस्ता और शुद्ध सोना, हर 10 ग्राम पर बचेंगे 735 रु; आज से 5 दिन तक मौका

इस धनतेरस या दिवाली सोने (Gold) में निवेश करने का मन बना रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका है.

sovereign gold bond, SGBs, SGB opens for subscription, cheaper gold, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड, सोना, गोल्ड, should you invest in gold bond, how to get cheaper gold from market rate, invest in gold
इस धनतेरस या दिवाली सोने (Gold) में निवेश करने का मन बना रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका है.

Gold Bond Scheme SGBs: इस धनतेरस या दिवाली सोने (Gold) में निवेश करने का मन बना रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका है. आज से केंद्र सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2019-20 (Sovereign Gold Bond Scheme) के छठें सीरीज में निवेश का मौका दे रही है. यह सीरीज 21 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक खुली रहेगी. सरकार की इस योजना के तहत आपको 38,350 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर सोना मिल जाएगा. वहीं अगर आनलाइन खरीदते हैं तो इस पर 50 रुपये की और छूट मिलेगी. इस गोल्ड बॉन्ड में न्यूनतम निवेश 1 ग्राम सोने के लिए किया जा सकता है.​ आरबीआई 30 अक्टूबर को इसके लिए बांड जारी करेगी.

ऑनलाइन खरीदें तो 50 रु की और छूट

ऑनलाइन खरीदने पर निवेशकों को प्रति ग्राम 50 रुपये की छूट मिलेगी. 10 ग्राम सोने में निवेश के लिहाज से देखें तो ऑनलाइन खरीदने पर यह 38,300 रुपये का पड़ेगा. यानी बाजार भाव से करीब 735 रुपये सस्ता. बॉन्ड की कीमत 24 कैरेट शुद्ध सोने के आधार पर निर्धारित की जाती है. इस समय बाजार में 24 कैरेट वाला प्योर गोल्ड 39,025 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव (19 अक्टूबर, शनिवार का भाव) पर बिक रहा है. इसकी तुलना में बॉन्ड के जरिए सोने में ऑनलाइन निवेश करने पर यह राशि 38,300 रुपये ही पड़ेगी. यानी कि प्रति 10 ग्राम पर निवेशकों को 735 रुपये का फायदा मिलेगा.

निवेशकों की पसंद

आमतौर पर धनतेरस में सोने की बिक्री काफी बढ़ जाती है और दीपावली-धनतेरस तक सर्राफा बाजार में चमक बनी रहती है. सुरक्षित और स्थिर रिटर्न के लिए सोना हमेशा से ही निवेशकों की पहली पसंद रहा है. लंबी अवधि में रिटर्न का हिसाब देखें तो निवेशकों को सोने ने मालामाल किया है. लेकिन अभी पिछले कुछ महीनों से सोने की कीमतें बहुत ज्यादा बढ़ गई हैं. ऐसे में सरकार की यह स्कीम आपको सस्ता सोना दिलाएगी.

गोल्ड बॉन्ड के क्या हैं फायदे

इसके अलावा बॉन्ड पर सालाना 2.5 फीसदी ब्याज भी मिलेगा. यह ब्याज निवेशक के बैंक खाते में हर 6 महीने पर जमा किया जाएगा. अंतिम ब्याज मूलधन के साथ मेच्योरिटी पर दिया जाता है. मेच्योरिटी पीरियड 8 साल है, लेकिन 5 साल, 6 साल और 7 साल का भी विकल्प होता है. इसका इस्‍तेमाल लोन लेने के लि‍ए जमानत के तौर पर भी कि‍या जा सकता है.

केडिया एडवाइजरी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि पिछले दिनों सेफ हैवन के रूप में सोने में जमकर निवेश हुआ. सोने की कीमतों में घरेलू और इंटरनेशनल स्तर पर रिकॉर्ड तेजी आई. हालांकि आगे भी इनमें तेजी से इनकार नहीं किया जा सकता है. लेकिन फिजिकल गोल्ड में निवेश में अब कुछ देरी हो गई है. इसकी बजाए गोल्ड बांड स्कीम में निवेश करना चाहिए, जहां 2.5 फीसदी सालाना रिटर्न रिस्क को कम करता है.

कहां से खरीद सकते हैं

गोल्ड बॉन्ड को ऑनलाइन खरीद सकते हैं. इसके अलावा इसकी बिक्री बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), चुनिंदा डाकघरों और एनएसई व बीएसई जैसे स्टॉक एक्सचेंज के जरिए भी होगी.

खरीद की अधिकतम सीमा

कोई शख्स एक वित्त वर्ष में मिनिमम 1 ग्राम और मैक्सिमम 4 किलोग्राम तक वैल्यू का बॉन्ड खरीद सकता है. हालांकि किसी ट्र्स्ट के लिए खरीद की अधिकतम सीमा 20 किग्रा है.

कौन खरीद सकता है

कोई भी भारतीय नागरिक, संस्‍था, हिंदू गैर विभाजित परिवार, ट्रस्‍ट, यूनिवर्सिटी और धार्मिक संस्‍थाएं बॉन्ड के जरिए सोने में निवेश कर सकती हैं.

क्या निवेश पर रिस्क भी है

अगर सोने के बाजार मूल्य में गिरावट आती है तो कैपिटल लॉस का खतरा हो सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News