टैक्स सेवर FD पर सीनियर सिटीजन पा सकते हैं 8% रिटर्न, निवेश से पहले ध्यान से पढ़े बैंक के नियम व सेवा शर्तें | The Financial Express

टैक्स सेवर FD पर सीनियर सिटीजन पा सकते हैं 8% रिटर्न, निवेश से पहले ध्यान से पढ़े बैंक के नियम व सेवा शर्तें

टैक्स बचत एफडी (Tax Saver FD) में सीनियर सिटीजन को मिल रही है आकर्षक ब्याज दर. ये स्कीम खास उन लोगों के लिए फायदेमंद है, जो निवेश जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं.

टैक्स सेवर FD पर सीनियर सिटीजन पा सकते हैं 8% रिटर्न, निवेश से पहले ध्यान से पढ़े बैंक के नियम व सेवा शर्तें
कई बैंकों ने हाल ही में फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) की दरों में इजाफा किया है.

जैसे-जैसे व्यक्ति वृद्धावस्था की ओर बढ़ता है तो वो यह सुनिश्चित करना चाहता है कि उसका निवेश जोखिम से भरा न हो. सीनियर सिटीजन के लिए स्वाभाविक है कि अपने निवेश पर लाभ तो चाहता है, लेकिन उसपर मार्किट इंफ्लेशन को जोखिम नहीं लेना चाहता. आम तौर पर सीनियर सिटीजन आयकर अधिनियम के तहत ब्याज और प्रॉफिट कमाने के लिए टैक्स सेवर एफडी कराना पसंद करते हैं. ऐसे में ये नई टैक्स सेविंग एफडी उनके रिटर्न को ज्यादा से ज्यादा करने का एक बेहतर विकल्प हो सकता है.

सीनियर सिटीजन के लिए है ऑफर

टैक्स-बचत एफडी खास तौर पर सीनियर सिटीजन और उन निवेशकों के लिए डिजाइन किया गया है जो निवेश जोखिम से बचना चाहते हैं. यदि आप की उम्र 60 साल से ज्यादा है तो आप भी इन टैक्स सेवर फिक्स डिपॉजिट का लाभ पाने के तकदार है. 

Snapdeal ने लॉन्च किया रुपे क्रेडिट कार्ड, जानिए कैशबैक, रिवॉर्ड पॉइंट और अन्य खासियतें

इस तरह की फिक्स डिपॉजिट स्कीम की खास बात ये है कि आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80C के तहत, आप एक वित्तीय वर्ष में 1.5 लाख रुपये तक की कटौती का दावा कर सकते हैं. साथ ही आप सेक्शन 80TTB के तहत टैक्स सेविंग एफडी पर जमा हुई ब्याज रकम में से 50,000 रुपये तक की कटौती भी करा सकते हैं. जबकि दूसरी तरह की एफीडी में निवेशक को यह सुविधा नहीं मिलती है.

निवेश से पहले पढ़े नियम व सेवा शर्तें

इन टैक्स सेवर एफडी में निवेश की गई राशि का पांच साल का लॉक-इन पीरियड होता है. इसका मकसद निवेशक को वित्तीय अनुशासन का पालन कराना है, ताकि निवेशक समय से पूर्व ही एफडी को न तुड़वा ले.

इन टैक्स सेवर एफडी को खोलना बहुत ही आसान है. किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक में टैक्स-सेवर एफडी अकाउंट खुलवाया जा सकता है. इन एफड़ी अकाउंट को निवेशक इंडिविजुअल और जॉइंट रूप से खोल सकते हैं. इन निवेशों में नॉमिनी का नाम दिया जाना अनिवार्य है.

Axis म्यूचुअल फंड ने जारी की 2 नई स्कीम; एक्सिस सिल्वर ईटीएफ, एक्सिस सिल्वर फंड ऑफ फंड की क्‍या है खासियत

टैक्स-सेविंग एफडी अकाउंट शुरू करने के लिए न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन की जरूरत होती है. निवेशक को पैसा निवेश करने से पहले बैंक के साथ सभी नियमों, एक्सट्रा फीस और टैक्स की रकम को लेकर चर्चा तो करने ही चाहिए. साथ ही अलग-अलग बैंकों की ब्याज दरों और अन्य सुविधाओं की तुलना भी जरूर करनी चाहिए

(Article by Sanjeev Sinha)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News