सर्वाधिक पढ़ी गईं

SBI: FD और RD पर इन्हें मिलता है 1% ज्यादा ब्याज, घर बैठे शुरू कर सकते हैं खाता

SBI Fixed Deposit and Recurring Deposit Interest Rate: निवेश के लिए बैंकों की फिक्स्ड डिपॉडिट (एफडी) और आवर्ती जमा (आरडी) स्कीम बहुत पॉपुलर है.

Updated: Nov 20, 2020 1:26 PM
SBI EMPLOYEES GET MORE INTEREST ON FD AND RD HERE KNOW HOW TO START FD AND RD ONLINEएसबीआई अपने कर्मियों या पेंशनरों को एफडी और आरडी पर आम लोगों से एक फीसदी अधिक ब्याज देता है.

SBI Fixed Deposit and SBI Recurring Deposit Interest Rate: निवेश के लिए बैंकों की फिक्स्ड डिपॉडिट (एफडी) और आवर्ती जमा (आरडी) स्कीम बहुत पॉपुलर है. इसमें निवेश की सबसे बड़ी वजह यह है कि इसे सुरक्षित माना जाता है और इन पर निवेश से फिक्स्ड रिटर्न मिलता है. यहां पर बाजार के उतार-चढ़ाव का कोई फर्क नहीं पड़ता है. स्टेट बैंक आफ इंडिया (एसबीआई) अपने कर्मचारियों और पेंशनरों को एफडी या आरडी कराने पर 1 फीसदी का अतिरिक्त ब्याज देता है. वहीं वरिष्ठ नागरिकों को आम ग्राहकों को मिलने वाले ब्याज दर से आधा फीसदी ज्यादा ब्याज मिलता है. आइए देखते हैं कि एफडी और आरडी पर बैंक अपने कर्मियों और पेंशनरों को कितना ब्याज दे रही है.

FD पर बैंक कर्मियों को 1% अधिक ब्याज

एसबीआई में काम करने वाले लोगों को बैंक अधिक ब्याज पर एफडी की सुविधाएं देती हैं. एफडी पर आम लोगों को एफडी पर जो ब्याज मिलता है, बैंककर्मियों को उससे एक फीसदी अधिक मिलता है. बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक 2 करोड़ से कम दिनों के लिए 7-45 दिनों की एफडी पर आम लोगों को 2.9 फीसदी का ब्याज मिल रहा है. वहीं 5-10 साल की एफडी पर 5.4 फीसदी ब्याज मिल रहा है. लेकिन अगर बेंक कर्मचारी हैं तो आपको 1 फीसदी का फायदा होगा. वहीं, वरिष्ठ नागिरकों को 0.5 फीसदी का अतिरिक्त ब्याज मिलेगा.

आम लोगों को मिलने वाला ब्याज

अवधि           –       ब्याज दर (%)
7-45 दिन      –           2.9
46-179 दिन   –          3.9
1-2 साल        –          4.9
2-3 साल        –          5.1
3-5 साल        –          5.3
5-10 साल      –          5.4

SBI कर्मचारियों के लिए

अवधि           –       ब्याज दर (%)
7-45 दिन      –           3.9
46-179 दिन   –          4.9
1-2 साल        –          5.9
2-3 साल        –          6.1
3-5 साल        –          6.3
5-10 साल      –          6.4

आरडी पर भी बैंककर्मियों को एक फीसदी अधिक ब्याज

एसबीआई के कर्मियों को एफडी के अलावा आवर्ती जमा (आरडी) पर भी एक फीसदी का अधिक ब्याज मिलता है.

आम ग्राहकों के लिए

1 साल से 2 साल से कम तक पर: 5.10 फीसदी
2 साल से 3 साल से कम तक पर: 5.10 फीसदी
3 साल से 5 साल से कम तक पर: 5.30 फीसदी
5 साल से 10 साल तक पर: 5.40 फीसदी

SBI कर्मचारियों के लिए

1 साल से 2 साल से कम तक पर: 6.10 फीसदी
2 साल से 3 साल से कम तक पर: 6.10 फीसदी
3 साल से 5 साल से कम तक पर: 6.30 फीसदी
5 साल से 10 साल तक पर: 6.40 फीसदी

ऑनलाइन शरू कर सकते हैं FD

आप घर बैठे भी एफडी शुरू कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपके पास नेट बैंकिंग होना चाहिए. नीचे दिए गए तरीके से आप एफडी शुरू कर सकते हैं.

  • बैंक की आधिकारिक वेबसाइट www.onlinesbi.com पर जाकर लॉग इन करना होगा.
  • डिपॉजिट स्कीम्स के ऑप्शन पर क्लिक कर टर्म डिपॉजिट पर जाना है.
  • उसके बाद ई फिक्स्ड डिपॉजिट पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद FD को चुनकर ‘Proceed’ पर क्लिक करें.
  • अगर आपके पास एक से ज्यादा अकाउंट हैं, तो उस अकाउंट को चुनें, जिससे पैसे जमा करने हैं.
  • एफडी की प्रिंसिपल अमाउंट को चुनें और अमाउंट के बॉक्स में भरें.
  • अगर आपकी उम्र 60 साल से ज्यादा है, तो सीनियर सिटीजन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • STDR डिपॉजिट या TDR डिपॉजिट में से एक चुनें और अपनी मेच्योरिटी पीरियड को सेलेक्ट करें. इसके साथ ही अपनी इंटरनेट पे फ्रिक्वेंसी को भी चुनें.
  • मेच्योरिटी के दिशानिर्देशों को भी चुनें और नियम व शर्तों को पढ़ने के बाद उन पर टिक कर ‘सबमिट’ पर क्लिक करें और आपका एफडी अकाउंट खुल जाएगा.

RD शुरू करने के लिए नीचे दिए स्टेप्स फॉलो करें.

  • नेट बैंकिंग में लॉग इन करने के बाद फिक्स्ड डिपॉजिट के अंदर e -RD (RD) / e- SBI Flexi Deposit ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • बैंक में एक से अधिक खातें हैं, तो उस अकाउंट को चुनें जिसे आप RD अकाउंट से लिंक करना चाहते हैं.
  • मासिक किश्त की राशि और टेन्योर की राशि को चुनना है. टेन्योर आपकी ब्याज दर को तय करेगा.
  • अगर आप सीनियर सिटीजन में आते हैं, तो उस ऑप्शन को चुनें.
  • फिर इस बात को चुनना होगा कि आपको मेच्योरिटी अमाउंट को सेविंग्स अकाउंट में लेना है या मेच्योरिटी अमाउंट को फिक्स्ड डिपॉजिट में बदल लें. फिर नियम व शर्तों को पढ़कर सब्मिट कर दें.
  • अगले पेज पर नाम, नॉमिनेशन आपके लिंक सेविंग्स अकाउंट के मुताबिक दिखेगा. फिर कन्फर्म पर क्लिक करने के बाद, RD अकाउंट बन जाएगा और एक रेफरेंस नंबर और e-RD अकाउंट नंबर जनरेट होगा.
  • e-RD की डिटेल्स को देखकर उसे डाउनलोड कर सकते हैं या प्रिंट भी लेकर रख सकते हैं. इसके अलावा अगर आप स्टैंडिंग इंस्ट्रक्शन (SI) रखना चाहते हैं, तो ऑनलाइन कर सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. SBI: FD और RD पर इन्हें मिलता है 1% ज्यादा ब्याज, घर बैठे शुरू कर सकते हैं खाता
Tags:SBI

Go to Top