सर्वाधिक पढ़ी गईं

Rakesh JhunJhunwala का ये फेवरिट शेयर दो दिन में ही 13 फीसदी गिर गया, जानिए क्या ये है इसमें एंट्री का सही वक्त?

राकेश झुनझुनवाला की LUPIN में 1.60 फीसदी हिस्सेदारी है. जून तिमाही में उनके पास इसके 72,45,605 शेयर थे.

Updated: Aug 12, 2021 6:42 PM
LUPIN में राकेश झुनझुनवाला की 1.60 फीसदी हिस्सेदारी है.

Rakesh JhunJhunwala News : बिग बुल राकेश झुनझुनवाला के फेवरिट शेयरों में से एक LUPIN गुरुवार को लगभग सात फीसदी गिर गया. बुधवार को भी यह शेयर छह फीसदी गिरा था. पिछले दो दिनों में 13 फीसदी की गिरावट के बाद इसमें पैसा लगा रखे निवेशकों में खलबली है. उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि वह इसमें से निकल जाएं या बने रहें. दरअसल जून तिमाही में अमेरिकी मार्केट की बिक्री में गिरावट की वजह से इसकी कमाई बाजार के अनुमान के मुताबिक नहीं रही. इस मार्केट में LUPIN के ग्रॉस मार्जिन में गिरावट के बाद इसके शेयर बुधवार को छह फीसदी गिर गए. फिर गुरुवार को भी इसमें गिरावट आई. गुरुवार को इसके शेयर गिर कर 978 रुपये पर आ गए .

अमेरिकी मार्केट में खराब प्रदर्शन से शेयरों को झटका

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में LUPIN का शुद्ध मुनाफा 542 करोड़ रुपये रहा है. वहीं पिछले वित्त वर्ष (2020-210 ) की पहली तिमाही में शुद्ध मुनाफा सिर्फ 106.9 करोड़ रुपये था . इस दिग्गज फार्मा कंपनी का रेवेन्यू भी बढ़ा है. पिछले वित्त वर्ष ( 2020-21) की पहली तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 3468.63 करोड़ रुपये रहा था लेकिन मौजूदा वित्त वर्ष ( 2021-22) की पहली तिमाही में रेवेन्यू बढ़ कर 4,237 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. लेकिन अमेरिकी मार्केट में इसका रेवेन्यू 11.8 फीसदी गिर कर 17.2 करोड़ डॉलर पर आ गया. अमेरिकी बाजार में कम बिक्री की वजह से इसके ग्रॉस मार्जिन में भी गिरावट आई है. कंपनी के शेयरों पर इसका गहरा असर पड़ा है. यही वजह है बड़े निवेशक इससे निकलने लगे हैं. दो दिनों में इसमें 13 फीसदी की गिरावट इसका सबूत है. राकेश झुनझुनवाला की इस कंपनी में 1.60 फीसदी हिस्सेदारी है. जून तिमाही में उनके पास इसके 72,45,605 शेयर थे. ऐसे में क्या आम निवेशकों के लिए LUPIN के शेयरों में एंट्री का मौका बन रहा है?

राकेश झुनझुनवाला ने बंपर मुनाफा देने वाले इस शेयर को क्यों बेचा? जानें बिग बुल के इस दांव के पीछे क्या है राज

क्या है दिग्गज ब्रोकरेज कंपनियों की राय

ICICI सिक्योरिटीज का कहना है कि अमेरिकी बाजार में कंपनी की बिक्री में अभी दबाव रहेगा. यहां इसकी नई दवाओं के अप्रूवल को लेकर भी समस्याएं हैं. कंपनी के नियम टर्म आउटलुक को लेकर अनिश्चितता है. कंपनी का EBIDTA मार्जिन 20 फीसदी कम रह सकता है. ICICI सिक्योरिटीज ने इसकी रेटिंग घटा दी है औैर इसका टारगेट प्राइस 962 रुपये कर दिया है. एक और ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल ( MotiLal Oswal) ने भी LUPIN के शेयरों की रेटिंग Neutral कर दी है इसका टारगेट प्राइस 1040 रुपये रखा है. प्रभुदास लीलाधर ने इसे डाउग्रेड कर इसका टारगेट प्राइस 955 रखा है. पहले इसने इसका टारगेट प्राइस 1314 रुपये रखा था और इसके शेयरों को Accumulate करने की सलाह दी थी.

(स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Rakesh JhunJhunwala का ये फेवरिट शेयर दो दिन में ही 13 फीसदी गिर गया, जानिए क्या ये है इसमें एंट्री का सही वक्त?

Go to Top