सर्वाधिक पढ़ी गईं

बैंक लॉकर में रखते हैं अपना बेशकीमती सामान? तो आपके लिए इन बातों को जानना है बेहद जरूरी

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के नए नियम के अनुसार अगर लॉकर में रखे आपके सामान को चोरी, आग, बैंक धोखाधड़ी आदि के कारण नुकसान पहुंचता है तो ऐसे में आप इसकी भरपाई के लिए क्लेम कर सकते हैं.

Updated: Oct 12, 2021 12:10 PM
Putting valuables in a bank locker? Consider these things carefullyलॉकर मालिकों को साल में कम से कम एक बार अपने लॉकर को जरूर खोलना चाहिए.

Bank Locker: बेशकीमती जेवर और प्रॉपर्टी पेपर जैसे सामानों को लोग अक्सर बैंकों में सुरक्षित लॉकर में रखते हैं. क्या आप जानते हैं कि अगर लॉकर में रखा आपका सामान चोरी हो जाए या गुम जाए तो क्या होगा? बैंकों में लॉकर तोड़कर चोरी करने की कई घटनाएं होती रहती है. पहले लॉकर में रखे आपके सामान की चोरी हो जाने की स्थिति में बैंकों की ओर से कोई गारंटी नहीं मिलती थी और लॉकर मालिकों को होने वाले नुकसान की भरपाई नहीं की जाती थी, लेकिन अब इस मामले में नियम बदल गए हैं. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में एक नए नियम की घोषणा की थी. इस नियम के अनुसार अगर लॉकर में रखे आपके सामान को चोरी, आग, बैंक धोखाधड़ी आदि के कारण नुकसान पहुंचता है तो इस स्थिति में आप इसकी भरपाई के लिए क्लेम कर सकते हैं. आप इस नियम के तहत बैंक में लॉकर की फीस के तौर पर लिए जाने वाले सालाना फीस के 100 गुना तक मुआवजे के लिए दावा कर सकते हैं.

हम आपको यहां लॉकर की सुरक्षा के बारे में कुछ ऐसी जरूरी बातें बताने जा रहे है, जिन्हें जानना आपके लिए बेहद जरूरी है.

कीमती सामानों की बना लें लिस्ट

आपको तिजोरी में रखे अपने कीमती सामानों की लिस्ट बना लेनी चाहिए. अगर आप लॉकर में से कुछ सामान निकालते हैं या कोई अन्य सामान उसमें रखते हैं तो इसकी जानकारी अपनी लिस्ट में जरूर अपडेट करें. कई बार ऐसा होता है कि आप लंबे समय तक अपना लॉकर नहीं खोल पाते हैं, ऐसे में आप भूल सकते हैं कि आपने लॉकर में क्या-क्या रखा है. लिस्ट के होने से आपको अपने क़ीमती सामानों को ट्रैक करने में मदद मिलेगी. अगर कभी आपके लॉकर से कोई सामान गायब हो जाता है, तो लिस्ट के ज़रिए आसानी से पता लगाया जा सकता है कि क्या गायब हुआ है.

साल में कम से कम एक बार जरूर खोलें लॉकर

लॉकर मालिकों को साल में कम से कम एक बार अपने लॉकर को जरूर खोलना चाहिए. अगर आपका लॉकर सालों से बंद है तो ऐसे में बैंक एग्रीमेंट के तहत निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए उन्हें तोड़ सकता है. हालांकि नियम के मुताबिक ऐसा करने से पहले बैंकों को ग्राहकों को नोटिस भेजना होता है. अगर आपने किसी वजह से सालों से अपना लॉकर नहीं खोला है, तो ऐसे में आपको बैंक को इसकी पूरी जानकारी देनी होगी. इस तरह की दिक्कतों से बचने के लिए आपको नियमित तौर पर अपने लॉकर को एक्सेस करते रहना चाहिए.

Investment Tips: महज 1 हजार रुपये में ही बनाएं बेहतरीन पोर्टफोलियो, इन विकल्पों में निवेश कर बना सकते हैं बड़ी पूंजी

जरूर रखें एग्रीमेंट की कॉपी

नए लॉकर नियम, मौजूदा लॉकर मालिकों पर तुरंत लागू नहीं होते हैं. इसके लिए बैंकों को 1 जनवरी, 2023 से मौजूदा ग्राहकों के साथ एग्रीमेंट को रिन्यू करना होगा. नए लॉकर के लिए अप्लाई करने वाले ग्राहकों के लिए ये नए नियम 1 जनवरी, 2022 से लागू होंगे. आरबीआई ने कहा है कि बैंकों को नियम और शर्तों का सही तरीके से पालन करना होगा. आपको अपने लॉकर एग्रीमेंट को ध्यान से पढ़ना चाहिए और इसकी एक कॉपी अपने पास सुरक्षित रखनी चाहिए.

लॉकर फीस का समय पर करें भुगतान

नए नियमों के तहत, आरबीआई ने बैंकों को लॉकर आवंटित करते समय नए ग्राहकों से डिपॉजिट लेने की अनुमति दी है. ऐसा इसलिए किया गया है ताकि लॉकर को तोड़ने और किराए की वसूली के लिए इस जमा राशि का उपयोग किया जा सके. हालांकि अगर ग्राहक के पास ठीक-ठाक बैंक बैलेंस है, तो ऐसे में बैंक को डिपॉजिट लेने की जरूरत नहीं होती है. अगर तीन साल तक लॉकर का किराया नहीं दिया गया है तो बैंक अपने विवेक से उसे तोड़ सकता है. ऐसी दिक्कतों से बचने के लिए लॉकर किराए का समय पर भुगतान करना समझदारी होगी.

Income Tax का बोझ कर रहा है परेशान? तो इन 7 तरीकों से घटा सकते हैं अपनी आयकर की देनदारी

सालाना लॉकर फीस के 100 गुना से ज्यादा ना हो सामान की कीमत

लोगों को लगता है कि बैंक लॉकर पूरी तरह से सुरक्षित है. लेकिन यह सच नहीं है और इसमें हमेशा जोखिम होता है. इसकी वजह से होने वाले नुकसान की भी पूरी तरह से भरपाई नहीं की जा सकती. आप अपने सभी कीमती सामानों को किसी एक जगह पर रखने के बजाय अलग-अलग जगहों में रख सकते हैं. यानी ऐसा किया जा सकता है कि आप अपना आधा सामान बैंक लॉकर में और आधा घर पर रख लें. इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि लॉकर में रखे आपके सामान की कीमत, सालाना लॉकर फीस के 100 गुना से ज्यादा ना हो. अपने घर में भी एक बढ़िया लॉकर में बचे हुए कीमती सामानों को रखा जा सकता है.

इसके अलावा, आप अपने क़ीमती सामान का बीमा भी करवा सकते हैं. बीमा के ज़रिए भी चोरी, आग, सेंधमारी आदि की स्थिति में होने वाले नुकसान की भरपाई की जा सकती है. आप अपने बैंक लॉकर और घर के लॉकर दोनों में रखी वस्तुओं के लिए बीमा खरीद सकते हैं.

(इस आर्टिकल को BankBazaar.com के CEO ने लिखा है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. बैंक लॉकर में रखते हैं अपना बेशकीमती सामान? तो आपके लिए इन बातों को जानना है बेहद जरूरी
Tags:RBI

Go to Top