मुख्य समाचार:
  1. 112 महीने में पैसे डबल कर देगी यह स्कीम, Post Office की है गांरटी

112 महीने में पैसे डबल कर देगी यह स्कीम, Post Office की है गांरटी

अगर आपको अपना पैसा डबल करना है लेकिन यह भी चाहते हैं कि स्कीम भरोसेमंद हो तो पोस्ट ऑफिस आपकी मदद कर सकता है.

April 26, 2019 1:08 PM
post office saving schemes: Know about kisan vikas patra account or kvpImage: PTI

KVP: अगर आपको अपना पैसा डबल करना है लेकिन यह भी चाहते हैं कि स्कीम भरोसेमंद हो तो पोस्ट ऑफिस (Post Office) आपकी मदद कर सकता है. पोस्ट ऑफिस की एक स्कीम 112 महीनों में आपका पैसा डबल होने की गारंटी दे रही है. यह स्कीम है किसान विकास पत्र यानी KVP. किसान विकास पत्र एक तरह का सर्टिफिकेट है, जिसे कोई भी व्‍यक्ति खरीद सकता है. इसे बॉन्‍ड की तरह जारी किया जाता है. किसान विकास पत्र पर एक तय ब्‍याज मिलता है. यह छोटी बचत स्कीम्स में आता है और इन स्कीम्स के लिए ब्याज दर हर तीन महीने पर तय की जाती है.

KVP : ब्याज दर और मिनिमम डिपॉजिट

  • किसान विकास पत्र (KVP) का लाभ लेने के लिए किया जाने वाला मिनिमम डिपॉजिट 1000 रुपये है. बाद में आप 1000 रुपये के मल्टीप्लाई यानी गुना में अमाउंट बढ़ा सकते हैं. यानी 1500 या 2500 या 3500 का निवेश नहीं किया जा सकता. यहां निवेश 1 हजार, 2 हजार और 3 हजार के क्रम में होगा.
  • इसमें डिपॉजिट की कोई मैक्सिमम लिमिट नहीं है.
  • फिलहाल KVP 1000, 5000, 10000 और 50000 रुपये के मूल्यवर्गों (Denominations) में उपलब्ध हैं.
  • किसान विकास पत्र पर मौजूदा ब्याज दर 7.7 फीसदी सालाना है.
  • इंडिया पोस्ट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, किसान विकास पत्र में इन्वेस्ट करने पर मौजूदा ब्याज दर के हिसाब से आपका पैसा 112 महीने यानी 9 साल 4 महीने की अवधि में डबल हो जाएगा.
  • किसान विकास पत्र लेते वक्त आपको एक आइडेंटिटी​ स्लिप दी जाती है. अगर कभी आपका सर्टिफिकेट फट जाए या खो जाए तो इसकी दूसरी कॉपी लेने में यह स्लिप काम आती है.

गलत बैंक अकाउंट में पैसे हो जाएं ट्रांसफर तो तुरंत उठाएं ये कदम, बच जाएंगे नुकसान से

फीचर्स

  • किसान विकास पत्र सर्टिफिकेट को कोई अडल्ट यानी वयस्क अपने नाम पर या किसी नाबालिग के नाम पर या दो वयस्कों द्वारा मिलकर खरीदा जा सकता है.
  • अगर आपने पहले से सिर्फ अपने नाम पर किसान विकास पत्र खरीद रखे हैं तो भी बाद में किसी अन्य वयस्क व्यक्ति के साथ संयुक्त रूप से खरीद सकते हैं. इसी तरह, पहले से किसी दूसरे व्यक्ति के साथ, संयुक्त रूप से इन सर्टिफिकेट को खरीद रखा है तो भी बाद में सिर्फ अपने नाम पर खरीद सकते हैं. पहले से आपके नाम पर किसान विकास पत्र हैं और फिर कभी अपने बच्चे की ओर से, अपने नाम पर खरीदना चाहें तो ऐसा भी कर सकते हैं.
  • KVP को किसी भी विभागीय डाकघर से खरीद सकते हैं.
  • अगर आप केवीपी में 50 हजार रु से ज्‍यादा निवेश करना चाहते हैं तो पैन कार्ड जरूरी होगा.
    वहीं अगर 10 लाख रुपये से ज्यादा निवेश करना चाहते हैं तो आमदनी के स्रोत का प्रमाणपत्र भी जमा करना पड़ता है.
  • इसमें नॉमिनी बनाने की सुविधा है.
  • KVP को एक व्यक्ति द्वारा किसी अन्य व्यक्ति को या एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर किया जा सकता है.
  • KVP को जारी होने की तारीख से ढ़ाई साल बाद भुनाया जा सकता है. पैसा बाजार डॉट कॉम के मुताबिक, अगर आप किसान विकास पत्र को जारी होने के 1 साल के अंदर ही भुनाते हैं तो आपको ब्याज नहीं मिलेगा. साथ ही पेनल्टी भी देनी होगी. अगर KVP को जारी होने 1 साल बाद लेकिन ढाई साल पूरे होने से पहले भुनाया जाता है तो ब्याज मिलेगा लेकिन घटी हुई दर से मिलेगा.
  • लोन की जरूरत होने पर KVP को कोलेटरल के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है, यानी गिरवी रखा जा सकता है.

कर छूट का लाभ नहीं

किसान विकास पत्र में किया जाने वाला निवेश टैक्स के दायरे में आता है, यानी उसे टैक्स से छूट नहीं मिलती है. इस पर आने वाला ब्याज और मैच्योरिटी पूरी होने पर मिलने वाला पैसा भी पूरी तरह टैक्सेबल है.

लगेंगे कौन से डॉक्‍यूमेंट?

  • 2 पासपोर्ट साइज फोटो
  • पहचान पत्र (राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट आदि)
  • निवास प्रमाण पत्र (बिजली बिल, टेलिफोन बिल, बैंक पासबुक आदि)
  • आधार कार्ड (अक्‍टूबर 2017 में सरकार ने इसे अनिवार्य किया)

Go to Top