मुख्य समाचार:

कोरोना के साए के बाद भी रिटर्न की गारंटी, इस सरकारी स्कीम में 10 लाख के हो जाएंगे 14.62 लाख

बाजार में जिस तरह की गिरावट है तो बेहतर तरीका यह होगा कि पैसा वहां लगाएं, जहां रिटर्न की गारंटी हो.

March 17, 2020 2:30 PM
Post Office, NSC, national saving certificate, COVID-19, coronavirus impact on stock market, एनएससी, small savings scheme, safe investmentबाजार में इस तरह की गिरावट है तो बेहतर तरीका यह होगा कि पैसा वहां लगाएं, जहां आपके हर पैसे पर सरकार गारंटी ले रही हो.

शेयर बाजार इन दिनों लगातार गोता लगा रहा है. कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर के बाजारों में गिरावट बनी हुई है. घरेलू बाजार में भी निवेशक डरकर जमकर बिकवाली कर रहे हैं, जिससे शेयर में निवेश करने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. बीएसई 500 के 95 फीसदी से ज्यादा शेयरों में पिछले एक माह में नुकसान उठाना पड़ा है. इस दौरान म्यूचुअल फंड निवेशकों को भी पैसा साफ हो रहा है. इक्विटी फंड कटेगिरी के हर सेग्मेंट में गिरावट आ गई है. ऐसे में निवेशक एक बार फिर सुरक्षित निवेश का विकल्प खोज रहे हैं. जब बाजार में इस तरह की गिरावट है तो बेहतर तरीका यह होगा कि पैसा वहां लगाएं, जहां आपके हर पैसे पर सरकार गारंटी ले रही हो.

इस क्रम में डाकघर की स्माल सेविंग्स स्कीम में शामिल नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट यानी एनएसई अच्छा विकल्प साबित हो सकता है. डाकघर में आपके हर एक पैसे पर सरकार की गारंटी है. यानी इनमें आप जितना भी पैसा निवेश करेंगे, किसी भी हालात में वह डूबने नहीं पाएंगे. वहीं, स्कीम में मिलने वाली ब्याज दर के हिसाब से उनमें ग्रोथ भी रहेगा. एनएससी पर ब्याज दर एफडी, एमआईएस या किसान विकास पत्र जैसी स्कीम से ज्यादा है. ऐसे में आपको यहां फायदा भी ज्यादा मिलेगा.

NSC पर कैसे मिलेगा फायदा: कैलकुलेटर

स्कीम में निवेश: 10 लाख रुपये
निवेश पर ब्याज: 7.9 फीसदी सालाना (कंपाउंडिंग)
5 साल की मेच्योरिटी पर वैल्यू: 14,62,538 रुपये
ब्याज के रूप में फायदा: 4,62,538 रुपये

NSC की विशेषताएं

  • किसी भी डाकघर में एनएससी शुरू कर सकते हैं.
  • इसके लिए कम से कम 1000 रुपये का निवेश जरूरी है. वहीं अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है. 1000 रुपये से आगे 100 के गुणांक में आप जितना मर्जी उतना पैसा एकमुश्त निवेश कर सकते हैं.
  • इस स्कीम के लिए मेच्योरिटी पीरियड 5 साल का है.
  • एनएससी पर अभी 7.9 फीसदी सालाना कंपांउंडिंग के हिसाब से ब्याज मिल रहा है.
  • इसमें सिंगल अकाउंट भी खोल सकते हैं. वहीं, 3 एडल्ट के नाम से ज्वॉइंट अकाउंट भी खोला जा सकता है.
  • 10 साल की उम्र से ज्यादा का बच्चा है तो उसके नाम से भी अकाउंट खोल सकते हैं. उसके बालिग होने तक अभिभावक को खाते का संचालन करना होता है.
  • एनएससी में किए गए निवेश पर इनकम टैक्स के धारा 80सी के तहत छूट भी मिलती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. कोरोना के साए के बाद भी रिटर्न की गारंटी, इस सरकारी स्कीम में 10 लाख के हो जाएंगे 14.62 लाख

Go to Top