Repo Rate में बढ़ोतरी के बाद PNB और बैंक ऑफ इंडिया से कर्ज लेना महंगा, जानिए कब से लागू होंगी नई दरें

रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद दो दिग्गज बैंकों ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दिया है.

pnb and bank of india hike rate after central bank rbi raises repo rate
बैंक ऑफ इंडिया और पंजाब नेशनल बैंक से कर्ज लेना अब महंगा हो गया है. (Image- Pixabay)

केंद्रीय बैंक आरबीआई ने आज (8 जून) रेपो रेट में बढ़ोतरी का ऐलान किया. आरबीआई के ऐलान के बाद आज दो बैंकों ने भी रेपो से जुड़े लेंडिंग रेट को बढ़ाने का फैसला कर लिया है. पंजाब नेशनल बैंक ने रेपो रेट से जुड़े कर्ज की दर को 6.9 फीसदी से बढ़ाकर 7.4 फीसदी कर दिया है यानी कि दरों में 0.5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. पीएनबी की नई दरें 9 जून से प्रभावी होंगी. वहीं एक और दिग्गज बैंक Bank of India ने भी रेपो रेट से जुड़े कर्ज की दर में 0.50 फीसदी का इजाफा कर दिया है. अब बैंक ऑफ इंडिया में यह दर 7.25 फीसदी की बजाय 7.75 फीसदी होगी. बैंक ऑफ इंडिया में बढ़ी हुई दरें आज से ही प्रभावी हो गई हैं.

HDFC Bank पहले ही बढ़ा चुका है दरें

आरबीआई के रेट हाइक की संभावना को लेकर बैंक पहले ही अपने यहां दरों में बढ़ोतरी कर रहे थे. एक दिन पहले एचडीएफसी बैंक ने भी इससे जुड़ा फैसला लिया था. निजी सेक्टर में देश के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLRs) 35 बेसिस प्वाइंट्स (0.35 फीसदी) बढ़ा दिया और यह बढ़ोतरी सभी टेन्योर के कर्ज के लिए है. बढ़ी हुई दरें 7 जून से प्रभावी हो चुकी हैं. बढ़ोतरी के बाद अब बैंक के लोन की एमसीएलआर 7.5-8.05 फीसदी हो गई. एक साल का एमसीएलआर 7.85 फीसदी है जबकि एसबीआई में यह 7.2 फीसदी और पीएनबी में 7.4 फीसदी है.

HDFC Bank से कर्ज लेना हुआ महंगा, बढ़ी हुई ब्याज दरें आज से लागू

Repo Rate में 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी

आरबीआई ने आज हर दो महीने पर होने वाली मौद्रिक नीतियों की बैठक में रेपो रेट को 0.50 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया. इस बढ़ोतरी के बाद रेपो रेट बढ़कर 4.90 फीसदी हो गया है. रेपो रेट में पिछले महीने यानी मई में 40 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा किया गया था, जिसके बाद यह 4.40 फीसदी हो गया था. इसका मतलब हुआ कि मई से अबतक 2 बार में रेपो रेट में 0.90 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

रिजर्व बैंक ने ब्‍याज दरों में की बढ़ोतरी, रेपो रेट 50bps बढ़कर 4.90%, FY23 में GDP ग्रोथ 7.2% रहने का अनुमान

)Input: Reuters)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Investment Saving News

TRENDING NOW

Business News