सर्वाधिक पढ़ी गईं

PM श्रम योगी मानधन: जनधन खाता धारक हैं तो भी होंगे पेंशन के हकदार, ऐसे दर्ज कराएं नाम; 44 लाख ने उठाया फायदा

असंगठित क्षेत्र के कम आयवर्ग वालों को बुढ़ापे में वित्तीय सुरक्षा के लिए मोदी सरकार की एक खास स्कीम पीएम श्रम योगी मानधन है.

April 24, 2020 1:36 PM
PM Shram Yogi Maandhan Yojana, Shram Yogi Maandhan, pension scheme for lower income group, पीएम श्रम योगी मानधन, how to enroll your name in PM Shram Yogi Maandhan, monthly contribution in PM Shram Yogi Maandhan, pension detailअसंगठित क्षेत्र के कम आयवर्ग वालों को बुढ़ापे में वित्तीय सुरक्षा के लिए मोदी सरकार की एक खास स्कीम पीएम श्रम योगी मानधन है.

असंगठित क्षेत्र के कम आयवर्ग वालों को बुढ़ापे में वित्तीय सुरक्षा के लिए मोदी सरकार की एक खास स्कीम पीएम श्रम योगी मानधन है. श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अनुसार इस स्कीम के जरिए अबतक करीब 43.7 लाख लोग जुड़ चुके हैं. इस स्कीम के तहत ऐसा कोई भी भारतीय नागरिक जुड़ सकता है, जिसकी उम्र 18 साल से 40 साल के बीच हो. हर महीने एक आंशिक योगदान के जरिए वह आजीवन 3000 रुपये पेंशन का हकदार बन सकता है. खास बात यह है कि इस स्कीम के तहत खाता खोलने के लिए सिर्फ 2 डॉक्येूमेंट की ही जरूरत होगी. इसके अलावा आपके पास मोबाइन नंबर होना चाहिए.

मंथली आय 15 हजार से कम हो

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए है, जिसमें दिहाड़ी मजदूर से लेकर मेड, ड्राइवर, इलेक्ट्रिशियन और स्वीपर या इस तरह के सभी वर्कर्स को फायदा मिलेगा. ध्यान देने की बात यह है कि उनकी मंथली आय 15 हजार रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. इस योजना के तहत 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 3000 रुपये की पेंशन मिलेगी.

कितना करना होगा निवेश

अगर कोई कर्मचारी 18 साल का है तो उसे प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना में 60 साल की उम्र तक हर महीने 55 रुपये जमा कराने होंगे. अगर कोई 29 साल का है तो उसे योजना में पेंशन पाने के लिए 60 साल की उम्र तक हर महीने 100 रुपये जमा कराने होंगे. अगर कोई कर्मचारी 40 साल की उम्र में इस योजना से जुड़ता है तो उसे हर महीने 200 रुपये का योगदान करना होगा. खास बात यह है कि जितना योगदान खाताधारक को होगा, सरकार भी अपनी ओर से उतना ही योगदान करेगी. यह स्कीम वित्त वर्ष 2018-19 से ही लागू है और अबतक इससे 43.7 लाख लोग जुड़ चुके हैं.

चाहिए सिर्फ ये डॉक्युमेंट

आधार कार्ड
बचत खाता/जनधन खाता (IFSC कोड के साथ)

यानी अगर आपके जनधन खाता है तो भी आप स्कीम से जुड़ सकते हैं. इसके लिए आपको अलग से बचत खाता खोलने की जरूरत नहीं होगी. इसके अलावा आपको अपना मोबाइल नंबर भी दर्ज कराना होगा.

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

  • प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए पास के CSC सेंटर पर जाना होगा.
  • इसके बाद वहां आधार कार्ड और बचत खाता या जनधन खाता जो भी उसकी जानकारी IFSC कोड के साथ देनी होगी. प्रूफ के तौर पर पासबुक, चेकबुक या बैंक स्टेटमेंटट दिखा सकते हैं.
  • खाता खोलते समय ही आन नॉमिनी भी दर्ज करा सकते हैं.
  • एक बार आपकी डिटेल कंप्यूटर में दर्ज होने के बाद मंथली कांट्रीब्यूशन की जानकारी खुद मिल जाएगी.
  • इसके बाद आपको अपना शुरूआती योगदान कैश के रूप में देना होगा.
  • इसके बाद आपका खाता खुल जाएगा और श्रम योगी कार्ड मिल जाएगा.
  • आप इस योजना की जानकारी 1800 267 6888 टोल फ्री नंबर पर ले सकते हैं.

योगदान न कर पाए तो

अपने हिस्से का योगदान करने में चूक होने पर पात्र सदस्य को ब्याज के साथ बकाया राशि का भुगतान करना होता है. जिसके बाद उसका योगदान नियमित तौर पर शुरू हो जाता है. अगर सब्सक्राइबर जुड़ने की तारीख से 10 साल के अंदर स्कीम से पैसा निकालना चाहता है तो सिर्फ उसके हिस्से का योगदान बचत खाते की ब्याज दर पर लौटाया जाएगा.

कितने लोगों को होगा फायदा

सरकार का दावा है कि इस योजना शुरू होने से 5 साल बाद असंगठित क्षेत्र के 10 करोड़ कर्मचारियों को फायदा होगा. यह योजना आने वाले 5 साल में असंगठित क्षेत्र के लिए दुनिया की सबसे बड़ी पेंशन योजना बन सकती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. PM श्रम योगी मानधन: जनधन खाता धारक हैं तो भी होंगे पेंशन के हकदार, ऐसे दर्ज कराएं नाम; 44 लाख ने उठाया फायदा

Go to Top