सर्वाधिक पढ़ी गईं

पीएम किसान: इसी फाइनेंशियल पूरा कर लें ये काम, नहीं तो रुक जाएगी 2000 रु की 8वीं किस्‍त

PM Kisan Samman Nidhi: प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि के तहत अब तक किसानों को 2000 रुपये की 7 किस्‍तें मिल चुकी हैं. अब 8वीं किस्‍त का इंतजार है.

Updated: Feb 12, 2021 12:26 PM
PM Kisan Samman NidhiPM Kisan Samman Nidhi: प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि के तहत अब तक किसानों को 2000 रुपये की 7 किस्‍तें मिल चुकी हैं. अब 8वीं किस्‍त का इंतजार है.

PM Kisan (पीएम किसान) Samman Nidhi Yojana: प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि के तहत अब तक किसानों को 2000-2000 रुपये की 7 किस्‍तें मिल चुकी हैं. इस योजना के तहत अबतक 11.58 करोड़ किसानों का रजिस्‍ट्रेशन हो चुका है. योजना के तहत किसानों को 2000 रुपये की 3 किस्‍त में सालाना 6000 रुपये की मदद मिलती है. अब पीएम किसान के तहत 8वीं किस्‍त का इंतजार है. माना जा रहा है कि 8वीं किस्‍त अप्रैल महीने से आनी शुरू हो जाएगी. ऐसे में अगर आप भी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो फटाफट अपना रजिस्‍ट्रेशन करवा लें. हीं अगर रजिस्‍ट्रेशन होने के बाद भी खाते में पैसे नहीं आ रहे तो पीएम किसान के ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाकर ग‍लतियां सुधार सकते हैं.

कैसे सुधारें गलती

  • इसके लिए सबसे पहले पीएम किसान की ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं. इसके बाद फार्मर कॉर्नर पर क्लिक करने के बाद बेनेफिशियरी स्‍टेटस पर क्लिक करें.
  • जिसके बाद वहां आधार नंबर, अकाउंट नंबर और फोन नंबर का विकल्प दिखेगा.
  • आप यहां पर अपना आधार नंबर दर्ज करें. इसके बाद एक कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें.
  • यहां आप देख सकते हैं कि आपकी सूचना सही है या नहीं.
  • अगर गलत है तो इसे सही करा सकते हैं.
  • अगर आपका आवेदन किसी डॉक्युमेंट (आधार, मोबाइल नंबर या बैंक खाता) की वजह से रुका है तो वह डॉक्युमेंट भी ऑनलाइन अपलोड भी कर सकते हैं.

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

  • इसके लिए सबसे पहले पीएम किसान ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं. जिसके बाद आपको फार्मर कॉर्नर पर जाना होगा.
  • यहां आपको ‘New Farmer Registration’ के विकल्प पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आधार नंबर डालना होगा. इसके साथ ही कैप्चा कोड डालकर राज्य को चुनना होगा और फिर प्रोसेस को आगे बढ़ाना होगा.
  • आपके सामने जो फॉर्म आएगा, यहां आपको अपना पूरी पर्सनल जानकारी भरनी होगी.
  • इसके साथ ही बैंक अकाउंट का विवरण और खेत से जुड़ी जानकारी भरनी होगी.
  • इसके बाद आप फॉर्म सबमिट कर सकते हैं.

हेल्पलाइन पर लें जानकारी

पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर:155261
पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266
पीएम किसान लैंडलाइन नंबर: 011—23381092, 23382401
पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन है: 0120-6025109
ई-मेल आईडी: pmkisan-ict@gov.in

पुरानी व्यवस्था में हो रहा है बदलाव

सरकार ने पीएम किसान योजना में पारदर्शिता लाने के लिए यह कदम उठाया है. योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करा रहे नए आवेदकों को अब आवेदन फॉर्म में अपनी जमीन के प्लाट नंबर का उल्लेख भी करना होगा. देश में कई किसान परिवार ऐसे हैं, जिनकी कृषि भूमि संयुक्त है. ऐसे किसान अब तक अपने हिस्से की खातियानी जमीन के आधार पर पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा रहे थे. अब किसानों को अपने हिस्से की जमीन अपने नाम पर करानी होगी, तभी वे इस योजना का लाभ उठा सकेंगे. अगर किसानों ने जमीन खरीदी है तो दिक्कत नहीं है, जमीन अगर खतियानी है, तो यह काम करना जरूरी है.

इन कंडीशंस में नहीं मिलता है फायदा

  • अगर कोई किसान खेती करता है लेकिन वह खेत उसके नाम न होकर उसके पिता या दादा के नाम हो तो उसे 6000 रुपये सालाना का लाभ नहीं मिलेगा. वह जमीन किसान के नाम होनी चाहिए.
  • अगर कोई किसान किसी दूसरे किसान से जमीन लेकर किराए पर खेती करता है, तो भी उसे भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा. पीएम किसान में लैंड की ओनरशिप जरूरी है.
  • सभी संस्थागत भूमि धारक भी इस योजना के दायरे में नहीं आएंगे.
  • अगर कोई किसान या परिवार में कोई संवैधानिक पद पर है तो उसे लाभ नहीं मिलेगा.
  • राज्य/केंद्र सरकार के साथ-साथ पीएसयू और सरकारी स्वायत्त निकायों के सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी होने पर भी योजना के लाभ के दायरे में नहीं आएंगे.
  • डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, आर्किटेक्ट्स और वकील जैसे प्रोफेशनल्स को भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा, भले ही वह किसानी भी करते हों.
  • 10,000 रुपये से अधिक की मासिक पेंशन पाने वाले सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों को इसका लाभ नहीं मिलेगा.
  • अंतिम मूल्यांकन वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले पेशेवरों को भी योजना के दायरे से बाहर रखा गया है.
  • किसान परिवार में कोई म्यूनिसिपल कॉरपोरेशंस, जिला पंचायत में हो तो भी इसके दायरे से बाहर होगा.
  • जान बूझकर गलत जानकारी देने पर भी लाभ नहीं मिलता.

इतने किसानों के खाते में आ चुका है पैसा

पीएम किसान पोर्टल के मुताबिक पहली किस्त  3,16,04,000 किसानों को मिली थी. दूसरी किस्त  6,63,17,001 किसानों को,  तीसरी किस्‍त 8.75 करोड़,  चौथी 8.94 करोड़, 5वीं किस्त 10.48 करोड़ किसानों, छठीं 10.21 करोड़ और 7वीं किस्त पाने वाले किसानों की संख्या 9.45 करोड़ है. 7वीं किस्‍त खाते में अभी भी आ रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. पीएम किसान: इसी फाइनेंशियल पूरा कर लें ये काम, नहीं तो रुक जाएगी 2000 रु की 8वीं किस्‍त

Go to Top