मुख्य समाचार:

मुसीबत में बेच रहे हैं सोना तो जरूर चेक करा लें शुद्धता, मिलेगी वाजिब कीमत, ये है तरीका

अगर आप भी जरूरत पड़ने पर ज्यादा वैल्यू के लिए सोना बेचने जा रहे हैं तो पहले शुद्धता की जांच कर लें.

Published: July 14, 2020 2:50 PM
Gold, Gold Jewellery, Purity of Gold, how to check purity of Gold, check hallmarking, acid test, water test, planning to sell your gold jewellery, first check gold purity for better value, gold prices rising, gold now costly, 24 carrot pure gold, what is hallmarking of goldअगर आप भी जरूरत पड़ने पर ज्यादा वैल्यू के लिए सोना बेचने जा रहे हैं तो पहले शुद्धता की जांच कर लें.

सोने में निवेश भारत में बहुत ज्यादा पॉपुलर है. शादी व्याह हो या त्योहार लोग सोना खरीदना पसंद करते हैं. अभी की बात करें तो सोना इस साल करीब 9500 रुपये महंगा हो गया है और एमसीएक्स पर सोना 49 हजार प्रति 10 ग्राम के भाव पर पहुंच गया. सर्राफा बाजार में भी सोना 50 हजार के करीब ट्रेड कर रहा है. ऐसे में बहुत से लोग शादियों के सीजन के पहले पुराना सोना बेचकर नई ज्वैलरी बनवाना पसंद करेंगे. वहीं कुछ लोग जरूरत पड़ने या मुसीबत में भी इसे बेच सकते हैं. अगर आप भी ऐसा करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले सोने की शुद्धता जांच लेनी चाहिए. सोनस जितना शुद्ध होगा, आपको उतनी वाजिब कीमत मिलेगी. वैसे साना खरीदने के पहले भी सोने की शुद्धता जांचना जरूरी होती है.

BIS हॉलमार्क

देश में गोल्ड हॉलमार्किंग अनिवार्य हो चुकी है. यह BIS का एक सर्टिफिकेट है, जिसमें सोने की शुद्धता पता चलती है. इसमें आपको ध्यान देने की जरूरत ये है कि हॉलमार्क असली बना है या नकली. BIS हॉलमार्क निशान सभी आभूषणों पर होता है. इसमें एक त्रिकोण निशान होता है. इसके साथ ही सोने की शुद्धता भी लिखी होती है.

लेकिन पुरानी ज्वैलरी के मामले दिक्कत हो सकती है. ऐसे में हॉलमार्किंग सेंटर्स पर जाकर पुरानी ज्वैलरी की शुद्धता की जांच कराई जा सकती है. इससे पता चल जाएगा कि पहले उसे बेची गई ज्वैलरी कितने कैरेट सोने से बनी है. इसके लिए खर्च मामूली है.

हॉलमार्क         शुद्धता

375                 37.5 % शुद्ध सोना
585                 58.5 % शुद्ध सोना
750                 75.0 % शुद्ध सोना
916                 91.6 % शुद्ध सोना
990                99.0 % शुद्ध सोना
999                99.9 % शुद्ध सोना

एसिड टेस्ट

ये एक ऐसा टेस्ट है जिसमें आपको पल भर में ही पता चल जाएगा कि आपने जो सोना लिया वो असली है या नकली. इसके लिए पहले आपको सोने को एक पिन से थोड़ा सा खुरचना होगा. इसके बाद उस जगह नाइट्रिक एसिड की कुछ बूंदें डाल दें. अगर सोना असली होगा तो उसका रंग बिल्कुल भी नहीं बदलेगा. अगर नकली होगा तो हरे रंग का हो जाएगा.

पानी से करें टेस्ट

सोने को बाल्टी भर पानी में डालिए. अगर सोना डूब जाए तो समझिए सोना असली है. अगर सोना पानी की धारा के साथ कुछ देर तैरे तो समझिए कि सोना नकली है. सोना कितना भी हल्का हो कितनी भी कम मात्रा में हो वह पानी में हमेशा डूब जाएगा. अगर ज्वैलरी छोटी हो तो इसे एक कप पानी में भी इसका प्रयोग कर सकते हैं.

चुंबक टेस्ट

इसके लिए हार्डवेयर की दुकान से चुंबक लें और इससे सोने की जूलरी पर लगाएं. अगर यह चिपकता है तो आपका सोना असली नहीं है और अगर नहीं चिपकता तो यह असली है. क्योंकि सोना चुम्बकीय धातु नहीं है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. मुसीबत में बेच रहे हैं सोना तो जरूर चेक करा लें शुद्धता, मिलेगी वाजिब कीमत, ये है तरीका

Go to Top