सर्वाधिक पढ़ी गईं

पेंशन स्कीम में सब्सक्राइबर्स को मिलेगा गारंटेड रिटर्न; NPS के तहत जल्द होगी लॉन्च: PFRDA

Minimum Assured Returns: पेंशन फंड नियामक वित्त वर्ष 2022 में सब्सक्राइबर्स को गारंटीशुदा रिटर्न वाली पेंशन स्‍कीम लाने वाला है.

October 16, 2020 1:33 PM
pension schemeMinimum Assured Returns: पेंशन फंड नियामक वित्त वर्ष 2022 में सब्सक्राइबर्स को गारंटीशुदा रिटर्न वाली पेंशन स्‍कीम लाने वाला है.

Minimum Sssured Returns: पेंशन फंड नियामक पीएफआरडीए वित्त वर्ष 2022 में सब्सक्राइबर्स को गारंटीशुदा रिटर्न वाली पेंशन स्‍कीम लाने वाला है. इसे नेशनल पेंशन सिस्‍टम (एनपीएस) के तहत लाया जाएगा. रेगुलेटर मार्च तक प्रोडक्‍ट को अंतिम रूप दे सकता है. पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि न्यूनतम गारंटीशुदा रिटर्न वाले प्रोडक्ट को लेकर पिछले साल बातचीत हुई थी. एनपीएस बाजार से जुड़ा उत्पाद है और इसने पिछले 10 साल में लगभग 10 फीसदी रिटर्न दिया है.

अभी तक रिटर्न की गारंटी नहीं

वर्तमान में, एनपीएस के तहत आने वाली स्कीम में रिटर्न या लाभ की गारंटी नहीं होती है, क्योंकि वे मार्केट डिटरमाइंड होती हैं. केंद्र सरकार और राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए पिछले 11-12 साल में औसत सालाना रिटर्न लगभग 10 फीसदी रहा है. पिछले एक साल के दौरान भी रिटर्न लगभग 9-10 फीसदी रहा है.

ज्यादा लोगों को पेंशन दायरे में लाना मकसद

बंदोपाध्याय ने कहा कि हमारी कोशिश है कि बड़ी संख्या में लोग पेंशन के दायरे में आएं जो अभी नहीं है. छोटे कारोबारियों और असंगठित क्षेत्र के लिए खासतौा से यह जरूरी है. हम देख रहे हैं कि क्या हम उन्हें एनपीएस या अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के दायरे में ला सकते हैं.

जल्द आएगा ऐसा प्रोडक्ट

उन्होंने कहा कि नियामक जल्द ही एक समिति गठित करेगा. हम इस वित्त वर्ष में प्रोडक्ट तैयार करेंगे और उसे निदेशक मंडल के सामने रखेंगे. अगले 6 महीने में आपको ऐसा प्रोडक्ट देखने को मिल सकता है. उन्होंने बताया कि बीमा क्षेत्र में जो भी गारंटी वाले उत्पाद थे, उन्हें धीरे-धीरे वापस ले लिया गया, क्योंकि यह महसूस किया गया कि लंबी अवधि तक इसे बनाये रखना संगठनों के लिए व्यावहारिक नहीं है.

बंदोपाध्याय ने कहा कि गारंटीशुदा उत्पाद की पेशकश हमारे कानून का हिस्सा है. जैसे ही आप गारंटी वाला उत्पाद देते हैं, फंड मैनेजर्स के लिये पूंजी पर्याप्तता जरूरत बढ़ जाती है. फिलहाल हम जो कर रहे हैं, उसमें उत्पाद ‘मार्क टू मार्केट’ आधार पर है. हम निवेश को लेकर कोई जोखिम नहीं ले रहे.

NPS के तहत बढ़ रहा है AUM

नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) और अटल पेंशन योजना (APY) के तहत कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 5 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया है. पेंशन फंड रेगुलेटर के अनुसार 10 अक्टूबर 2020 को NPS और APY के तहत सब्सक्राइबर्स की कुल संख्या 3.76 लाख करोड़ को पार कर गई है और एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) बढ़कर 5,05,424 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. पेंशन फंड रेगुलेटर ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही है. NPS सब्सक्राइर्स में ग्रोथ पिछले सालों में असाधारण रही है जिसमें सरकारी क्षेत्र से 70.40 लाख कर्मचारी और गैर-सरकारी क्षेत्र से 24.24 लाख कर्मचारी योजना से जुड़े हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. पेंशन स्कीम में सब्सक्राइबर्स को मिलेगा गारंटेड रिटर्न; NPS के तहत जल्द होगी लॉन्च: PFRDA

Go to Top