मुख्य समाचार:

SIP Today SWP Tomorrow: 10 हजार मंथली 20 साल तक करें निवेश, अगले 20 साल हर महीने मिलेंगे 70 हजार

SIP/SWP: म्यूचुअल फंड में समझ के साथ निवेश किया जाए तो यह रिटायरमेंट के बाद आपकी फाइनेंशियल जरूरतों को पूरी कर सकता है.

Updated: Aug 02, 2020 12:25 PM
mutual fund, achieve your retirement gold through mutual fund, first do SIP the SWP, systematic investment plan, systematic withdrawal plan, 10000 rs SIP for 20 years can give you 75000 rs per month for next 20 years, SIP today and SWP tomorrowSIP/SWP: म्यूचुअल फंड में समझ के साथ निवेश किया जाए तो यह रिटायरमेंट के बाद आपकी फाइनेंशियल जरूरतों को पूरी कर सकता है.

First Mutual Fund SIP Then SWP: म्यूचुअल फंड फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए बेहतर विकल्प बन गए हैं. यहां शेयर बाजार की तुलना में रिस्क बहुत कम होता है और लंबी अवधि में रिटर्न मिलने की गारंटी होती है. नौकरी रहते अगर म्यूचुअल फंड में समझ के साथ निवेश किया जाए तो यह रिटायरमेंट के बाद आपकी फाइनेंशियल जरूरतों को पूरी कर सकता है. इसके लिए पहले SIP यानी सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान और बाद में SWP यानी सिस्टमैटिक विद्ड्रॉल प्लान लेकर चलना होगा. हम यहां आपको बता रहे हैं कि किस तरह से 20 साल तक हर महीने 10 हजार रुपये की मंथली एसआईपी करने पर अगले 20 साल तक आप हर महीने अपने लिए 70 हजार रुपये पेंशन का इंतजाम कर सकते हैं.

कैलकुलेटर: 20 साल SIP

मंथली SIP: 10 हजार रुपये
टेन्योर: 20 साल
अनुमानित रिटर्न: 12 फीसदी सालाना
20 साल बाद SIP की वेल्यू: 1 करोड़ रुपये

कैलकुलेटर: अगले 20 साल SWP

अलग—अलग स्कीम में निवेश: 1 करोड़
अनुमानित सालाना रिटर्न: 8.5 फीसदी
सालाना रिटर्न: 8.5 लाख रुपये
मंथली रिटर्न: 8 लाख/12= 70833 रुपये

क्या होता है सिस्टमैटिक विद्ड्रॉल प्लान

सिस्टेमैटिक विद्ड्रॉल प्लान (SWP) के जरिये निवेशक एक तय राशि म्यूचुअल फंड स्कीम से वापस पाते हैं. कितने समय में कितना पैसा निकालना है, यह विकल्प खुद निवेशक ही चुनते हैं. यह पैसा रोजाना, वीकली, मंथली, तिमाही, 6 महीन पर या सालाना आधार पर निकाला जा सकता है. वैसे मंथली ऑप्शन ज्यादा लोकप्रिय है. निवेशक चाहें तो केवल एक निश्चित रकम निकालें या फिर चाहें तो वे निवेश पर कैपिटल गेंस को निकाल सकते हैं.

SWP अधिक भरोसेमंद विकल्प

देखा गया है कि डिविडेंड के मुकाबले SWP अधिक भरोसेमंद विकल्प है. इसमें पूरा नियंत्रण निवेशक के हाथ में होता है. SWP रेगुलर निकासी है. इसके जरिये स्कीम से यूनिटों को भुनाया जाता है. वहीं अगर तय समय बाद सरप्लस पैसा होता है तो वह आपको मिल जाता है. जहां तक टैक्स की बात है, इसमें वैसे ही टैक्स लगेगा जैसा इक्विटी और डेट फंड के मामले में लगता है. जहां होल्डिंग की अवधि 12 महीने से ज्यादा नहीं है, वहां निवेशकों को शॉर्ट टर्म कैपिटल गेंस टैक्स देना होगा. अगर किसी स्कीम में निवेश कर रहे हैं तो आप उसमें एसडब्लूपी विकल्प को एक्टिवेट कर सकते हैं.

(लेखक: एके निगम, BPN फिनकैप कंस्लटेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्‍टर)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. SIP Today SWP Tomorrow: 10 हजार मंथली 20 साल तक करें निवेश, अगले 20 साल हर महीने मिलेंगे 70 हजार

Go to Top