बिना मंजूरी नए प्रोडक्ट ला सकेंगी जीवन बीमा कंपनियां, जानिए इससे आपको क्या होगा फायदा

बीमा नियामक इरडा ने आज बीमा कंपनियों को बिना किसी पूर्व-अनुमति के नए प्रोडक्ट पेश करने की मंजूरी दे दी.

life insurance companies can launch product first and the file says irda
जीवन बीमा कंपनियां अब किसी प्रोडक्ट को बिना पू्र्व मंजूरी के लॉन्च कर सकती हैं और फिर उसे बीमा नियामक के पास फाइल कर सकती हैं.

बीमा नियामक इरडा (IRDA) ने आज शुक्रवार (10 जून) को बीमा कंपनियों को बिना किसी पूर्व-अनुमति के नए प्रोडक्ट पेश करने की मंजूरी दे दी. इसका मतलब हुआ कि जीवन बीमा कंपनियां अब किसी प्रोडक्ट को बिना पू्र्व मंजूरी के लॉन्च कर सकती हैं और फिर उसे बीमा नियामक के पास फाइल कर सकती हैं.यह प्रावधान भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) की तरफ से स्वास्थ्य बीमा उत्पादों के साथ साधारण बीमा उत्पादों में भी इसी तरह की छूट देने के कुछ दिनों बाद जीवन बीमा के लिए भी लागू किया गया है.

इरडा ने एक प्रेस रिलीज में कहा कि भारत को पूरी तरह से इंश्योर्ड देश बनाने की दिशा में यह कदम उठाया गया है. इसके तहत इरडा ने अधिकतर जीवन बीमा उत्पादों के लिए ‘यूज एंड फाइल’ प्रक्रिया को बढ़ा दिया है. इससे जीवन बीमा कंपनियों के लिए कारोबारी सुविधा बढ़ेगी तो आम लोगों के सामने चुनने के लिए विकल्प भी बढ़ेंगे.

Bank of Baroda से कर्ज लेना होगा महंगा, जानिए कब से लागू होंगी नई दरें

बीमा कंपनियों के लिए बढ़ेगी कारोबारी सुविधा

इरडा के फैसले से अब जीवन बीमा कंपनियां बिना नियामक की अनुमति के भी अपने प्रोडक्ट्स को बाजार में उतार सकती हैं. इससे पहले बीमा कंपनियों के लिए किसी भी लाइफ इंश्योरेंस प्रोडक्ट को लाने से पहले अनिवार्य रूप से मंजूरी लेनी होती थी. हालांकि समय के साथ यह इंडस्ट्री मेच्योर हुई है तो इसे देखते हुए इरडा ने माना कि कुछ जरूरी छूट दी जा सकती है. इरडा के इस फैसले से बीमा कंपनियां बाजार की बदलती जरूरतों के अनुसार पर्सनल सेविंग, पर्सनल पेंशन और एन्यूटी को छोड़ अन्य बेहतर प्रोडक्ट्स को पेश कर सकेगी. इरडा के मुताबिक इस छूट से बीमा कंपनियों के लिए कारोबारी सुविधा बढ़ेगी और पॉलिसीधारकों के लिए भी विकल्प बढ़ेंगे.

जानवरों के लिए भी आया कोरोना वैक्सीन, 4474 करोड़ का नुकसान करने वाली बीमारी के लिए टेस्टिंग किट भी लॉन्च

जीवन बीमा कंपनियों को पूरी करनी होगी यह शर्त

इरडा ने कहा कि जीवन बीमा कंपनियों से उम्मीद है कि उनके पास बोर्ड से मंजूर किया हुआ प्रोडक्ट मैनेजमेंट और प्राइसिंग पॉलिसी हो. बोर्ड को एक प्रोडक्ट मैनेजमेंट कमेटी बनाना होगा जिसमें बीमा कंपनी के एक्चुअरी, चीफ रिस्क ऑफिसर, चीफ मार्केटिंग/डिस्ट्रीब्यूशन ऑफिसर, चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर और चीफ कंप्लॉयस ऑफिसर सदस्य के रूप में होंगे. इस कमेटी में बीमा कंपनी के सीनियर मैनेजमेंट के अन्य सदस्यों को भी शामिल करने का विकल्प होगा. यह कमेटी प्रोडक्ट्स/राइडर्स को रिव्यू करेगी.

(Input: PTI)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Investment Saving News

TRENDING NOW

Business News