HDFC का होम लोन हुआ महंगा तो ICICI बैंक के FD पर मिलेगा पहले से ज़्यादा रिटर्न, RBI रेट हाइक का दोतरफा असर | The Financial Express

HDFC का होम लोन हुआ महंगा तो ICICI बैंक के FD पर मिलेगा पहले से ज़्यादा रिटर्न, RBI रेट हाइक का दोतरफा असर

हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन ने शुक्रवार को हाउसिंग लोन पर रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट में 50 बेसिस पॉइंट्स (bps) का इजाफा किया है.

HDFC का होम लोन हुआ महंगा तो ICICI बैंक के FD पर मिलेगा पहले से ज़्यादा रिटर्न, RBI रेट हाइक का दोतरफा असर
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने चौथी बार रेपो रेट में बढ़ोतरी की है.

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने चौथी बार रेपो रेट में बढ़ोतरी की है. इसके बाद से कर्ज मुहैया कराने वाली प्रमुख वित्तीय संस्थानों द्वारा लोन दरों में बढ़ोतरी किया जा रहा है और डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट भी बढ़ाया जा रहा है. हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन (Housing Development Finance Corporation) ने शुक्रवार को हाउसिंग लोन पर रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट (Retail Prime Lending Rate) में 50 बेसिस पॉइंट्स (bps) का इजाफा किया है. बढ़ी हुई दरें 1 अक्टूबर 2022 से  लागू है. वहीं आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने 30 सितंबर 2022 से अपने कुछ रिटेल टर्म डिपॉजिट पर 50 बीपीएस तक ब्याज दरें बढ़ाईं हैं. एक साल की मैच्योरिटी वाले 2 करोड़ रुपये तक के फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर प्राइवेट बैंक 5.7% रिटर्न दे रहे हैं. पहले समान एफडी पर प्राइवेट बैंक द्वारा 5.5% ब्याज मिल रहा था. मौजूदा समय में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) और एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) समान अवधि वाले FD पर क्रमशः 5.45% और 5.5% रिटर्न दे रहे हैं.

स्माल सेविंग स्कीम की ब्याज दरों में हुआ इजाफा

मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी (Monetary Policy Committee-MPC) की बैठक के बाद शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास (RBI Governor Shaktikanta Das) ने कहा है कि उम्मीद है कि क्रेडिट ग्रोथ की बढ़ती मांगों के जवाब में बैंकें अपने डिपॉजिट रेट में बढ़ोतरी करेंगे.स्माल सेविंग स्कीम्स पर सरकार ने पिछले 9 तिमाही से ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया था. अब सरकार ने गुरुवार को अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के लिए स्माल सेविंग स्कीम्स पर ब्याज दरों में वृद्धि की है. इसका जिक्र करते हुए RBI गवर्नर दास ने कहा है कि ब्याज दरों में वृद्धि कर वित्तीय संस्थाएं लोगों को ज्यादा से ज्यादा निवेश करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं.

Rules change: अटल पेंशन योजना से अब नहीं जुड़ सकेंगे टैक्सपेयर्स, डीमैट अकाउंट और क्रेडिट कार्ड पेमेंट समेत इन नियमों में हुआ अहम बदलाव

रेपो रेट में अब तक 190 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि

RBI गवर्नर दास ने कहा कि बैंको का क्रेडिट बढ़ रहा है, इससे साफ जाहिर है कि बैंकों को अधिक रिसोर्सेज की जरूरत पड़ेगी. ऐसे में उन्हें अपने डिपॉजिट स्कीम पर ब्याज दरों में इजाफा करना होगा. उन्होंने बताया कि अब तक रेपो रेट में 190 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि की गई है. दास ने उम्मीद जाहिर की है कि RBI द्वारा उठाए गए कदम के बाद आने वाले दिनों में बैंकें भी अपने डिपॉजिट रेट्स में वृद्धि करेंगे. इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च के डायरेक्टर और हेड प्रकाश अग्रवाल ने कहा है कि सख्त लिक्विडिटी कंडीशन के बीच पहली छमाही के मुकाबले चालू वित्त वर्ष के शेष अवधि के दौरान डिपॉजिट रेट में तेजी से वृद्धि होने की संभावना है. हालांकि, रेपो की तुलना में यह बढ़ोतरी कम हो सकती है. मौजूदा बदलाव के कारण बैंक लोन काफी महंगा होता जा रहा है. ऐसे में लंबी अवधि वाले लोन के लिए लोगों को चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News