सर्वाधिक पढ़ी गईं

बुढ़ापे में आपका अपना घर ही करा सकता है कमाई, Reverse Mortgage Loan Scheme से दूर होगी पैसों की किल्लत

Reverse Mortgage Loan Scheme: बुढ़ापे में आपका अपना घर ही आपको हर महीने कमाई करा सकता है जिससे आपको आर्थिक चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ेगा.

Updated: Jun 10, 2021 11:52 AM
know about Reverse Mortgage Loan scheme for senior citizens know its benefitsरिवर्स मार्गेज लोन में वित्तीय संस्थान/बैंक घर को गिरवी रखकर हर महीने एक निश्चित रकम देते हैं और लोन आवेदक को उसी घर में रहने की भी मंजूरी भी रहती है. (File Photo)

Reverse Mortgage Loan Scheme: बुढ़ापे में कई लोगों को आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में स्थिति तब और बुरी हो जाती है जब बुजुर्ग पति-पत्नी अपने घर में अकेले रह रहे हों और उनके परिवार में उनका ख्याल रखने वाला कोई अन्य शख्स न हो. ऐसे में Reverse Mortgage Loan Scheme बहुत काम की साबित हो सकती है. रिवर्स मार्गेज लोन आम होम लोन से ठीक उल्टे प्रकार में काम करता है यानी कि जैसे होम लोन में हर महीने बैंक या वित्तीय संस्थान को किश्त भरनी पड़ती है, उसके विपरीत रिवर्स मार्गेज लोन में वित्तीय संस्थान/बैंक घर को गिरवी रखकर हर महीने एक निश्चित रकम देते हैं और लोन आवेदक को उसी घर में रहने की भी मंजूरी भी रहती है. इस तरह बुढ़ापे में आपका अपना घर ही आपको हर महीने कमाई करा सकता है जिससे आपको आर्थिक चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ेगा.

दुनिया की टॉप 200 में भारत के सिर्फ तीन संस्थान, Top-1000 में JNU पहली बार शामिल तो BHU-AMU हुए बाहर

रिवर्स मार्गेज लोन के फायदे

  • कम दरों पर ब्याज लगता है.
  • प्रोसेंसिग फीस कम चुकानी होती है.
  • प्री-पेमेंट पर कोई पेनाल्टी नहीं चुकानी होती है.
  • बैंक से मिलने वाली आय टैक्स फ्री होती है. हालांकि लोन अवधि के अंत में रीपेमेंट पर यह राशि डिडक्टिबल के तौर पर कंसीडर नहीं होगा.
  • अगर बैंक से मिलने वाली आय से घर में कोई निर्माण कार्य कराया गया है तो उस राशि पर डिडक्शन का लाभ मिलता है.

Reverse Mortgage Loan Scheme की खास बातें

  • भारतीय नागरिकों को ही इस स्कीम का फायदा मिलेगा.
  • अगर सिंगल बॉरोअर हैं तो न्यूनतम उम्र 60 वर्ष होनी चाहिए. अगर संयुक्त रूप से कर्ज ले रहे हैं तो जीवनसाथी की उम्र कम से कम 58 वर्ष होनी चाहिए.
  • कर्ज लेने वाले की उम्र के मुताबिक 10-15 साल की अवधि के लिए लोन मिलेगा.
  • न्यूनतम 3 लाख रुपये और अधिकतम 1 करोड़ रुपये तक का कर्ज मिल सकता है.
  • प्रोसेसिंग फीस- लोन राशि का 0.5 फीसदी, न्यूनतम 2 हजार रुपये और अधिकतम 20 हजार रुपये. टैक्स एक्स्ट्रा.
  • लोन सैंक्शन होने के बाद की फीस- लोन एग्रीमेंट व मार्गेज पर लगने वाली स्टांप ड्यूटी, प्रापर्टी इंश्योरेंस प्रीमियम और सीईआरएसएआई रजिस्ट्रेशन फीस (5 लाख रुपये की सीमा पर 50 रुपये की फीस या 5 लाख रुपये से अधिक की सीमा पर 100 रुपये की फीस, जीएसटी अतिरिक्त) चुकानी होगी.
  • घर बेहतर स्थिति में होना चाहिए और उस पर लोन आवेदक का पूरा मालिकाना हक होना चाहिए.
  • कॉमर्शियल प्रयोग वाली प्रापर्टी पर यह लोन नहीं मिलेगा.

(सोर्स: बैंकबाजारडॉटकॉम और एसबीआई होम लोन वेबसाइट)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. बुढ़ापे में आपका अपना घर ही करा सकता है कमाई, Reverse Mortgage Loan Scheme से दूर होगी पैसों की किल्लत

Go to Top