मुख्य समाचार:
  1. Income Tax Return फाइल करते वक्त इन 10 जरुरी डॉक्यूमेंट को अपने पास रखें

Income Tax Return फाइल करते वक्त इन 10 जरुरी डॉक्यूमेंट को अपने पास रखें

इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2018 निर्धारित है.

July 25, 2018 5:40 PM
income tax return filing, income tax efiling, ITR filing, income tax return filing, income tax efiling, ITR filing, itr 1 sahaj, ITR filing online, income tax, income tax return documents required, pan card, aadhaar card, income tax, income tax return form, income tax return documents required, pan card, aadhaar card, Form 26ASइनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2018 निर्धारित है.

आकलन वर्ष 2018-19 के लिए आयकर दाखिल करने की शुरुआत हो चुकी है. आयकर प्रत्यक्ष टैक्स है जो करदाता द्वारा सीधे भारत सरकार को भुगतान किया जाता है. टैक्स योग्य आय वाले लोगों के लिए आयकर का भुगतान करना अनिवार्य है. टैक्स देयता आपके टैक्स स्लैब और आय के स्रोत आधार पर भिन्न होती है. ITR की फाइलिंग भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपकी आय का दस्तावेजी प्रमाण है. हालांकि, आप कुछ दस्तावेजों के बिना अपनी इनकम टैक्स रिटर्न दर्ज नहीं कर सकते हैं.

आइये जानते हैं उन 10 महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट को जिसे आपको अपनी आयकर रिटर्न फाइल करने वक्त जरूरत होगी:

पैन कार्ड

आयकर विभाग द्वारा स्थायी खाता संख्या या पैन कार्ड जारी किया जाता है. इसमें आपके मूल विवरण जैसे आपका नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि और पैन संख्या शामिल है. आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है.

आधार कार्ड

आधार, भारत सरकार द्वारा जारी एक पहचान का डॉक्यूमेंट है. इस दस्तावेज़ में आपका नाम, जन्मतिथि, पता और आधार संख्या नामक एक यूनिक 12 अंक का संख्या शामिल है. आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए आधार कार्ड विवरण जरुरत होती है.

सैलरी स्लिप

वेतन पर्ची एक दस्तावेज है जिस पर करदाता अपने मूल वेतन, टीडीएस राशि, कटौती, महंगाई भत्ता, हाउस किराए पर भत्ता, यात्रा भत्ता, अन्य भत्ते इत्यादि पा सकते हैं, जो आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए महत्वपूर्ण हैं.

फॉर्म 16

फॉर्म 16, जिसे टीडीएस सर्टिफिकेट भी कहा जाता है, एक दस्तावेज है जो किसी कर्मचारी को उनके नियोक्ता द्वारा प्रदान किया जाता है. इसमें कर्मचारी के सैलरी ब्रेक-अप और संबंधित टीडीएस से संबंधित सभी विवरण शामिल हैं. वेतनभोगी लोगों के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए यह एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है. फॉर्म 16 में नियोक्ता के टीएएन और पैन नंबर भी शामिल हैं.

फॉर्म 26AS

फॉर्म 26AS एक ऑटो जनरेटेड वार्षिक कर विवरण है. इसमें आपके पैन के खिलाफ वित्तीय वर्ष के लिए जमा आय के खिलाफ कटौती का विवरण शामिल होता है. आप TRACES वेबसाइट से अपना फॉर्म 26AS देख और डाउनलोड कर सकते हैं.

बैंकों और डाकघर से ब्याज प्रमाण पत्र

किसी भी बचत बैंक खाते से प्राप्त ब्याज, डाकघर बचत खाता, सावधि जमा या आवर्ती जमा कर योग्य हैं. इस प्रकार, आपको अपने वेतन से कोई टीडीएस कटौती नहीं होने पर अर्जित कुल ब्याज राशि क्या है, यह जानने के लिए आपको बैंक या डाकघर से ब्याज प्रमाणपत्र प्राप्त करना होगा.

टैक्स बचत प्रमाण पत्र

वित्तीय वर्ष 2017-18 के दौरान धारा 80 सी, 80 सीसीसीसी, 80 सीसीसीडी (1) के तहत किए गए टैक्स बचत निवेश और व्यय आपकी टैक्स देयता को कम कर सकते हैं.निम्नलिखित कुछ निवेश हैं जो आपके लिए करों को बचा सकते हैं:

  • कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ)
  • लोक भविष्य निधि (पीपीएफ)
  • म्यूचुअल फंड की ईएलएसएस योजनाओं में निवेश
  • जीवन बीमा प्रीमियम का भुगतान किया गया
  • नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) आदि

धारा 80 डी और 80 यू के तहत कटौती

धारा 80 सी के तहत निवेश और व्यय के अलावा, आप प्रासंगिक वित्तीय वर्ष के दौरान किए गए विभिन्न निवेश और व्यय के लिए धारा 80 डी और 80 यू के तहत कटौती का दावा कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, वित्त वर्ष 2017-18 में भुगतान किया गया स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम धारा 80 डी के तहत कटौती के लिए पात्र है.

होम लोन विवरण

यदि आपने प्रामाणिक वित्तीय संस्थान से Home Loan लिया है, तो उस स्थिति में आप धारा 24 और धारा 80 सी के तहत कटौती का दावा कर सकते हैं लेकिन आपको इसके लिए गृह ऋण विवरण देना होगा.

पूंजीगत लाभ

संपत्ति या म्यूचुअल फंड की बिक्री से अर्जित पूंजीगत लाभ को आपके आईटीआर में दस्तावेज और रिपोर्ट करना होगा.

ध्यान रहे कि इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2018 निर्धारित है.

इसके लेखक आईटीआर इंडिया के डायरेक्टर विकास दहिया हैं.

Go to Top