सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना की दूसरी लहर के बीच बड़ा फैसला; ‘आरोग्य संजीवनी पॉलिसी’ में ले सकेंगे 10 लाख तक हेल्थ कवर

आरोग्य संजीवनी पॉलिसी में अस्पताल में भर्ती होने, भर्ती होने से पहले और बाद का खर्च, आयुष इलाज और मोतियाबिंद का इलाज कवर होता है.

March 19, 2021 2:46 PM
Irdai, Arogya Sanjeevani policy, covid19 pandemic, standard health cover, Arogya Sanjeevani policy benefits, Insurance Regulatory and Development Authority of India, AIC, ECGCइरडा ने स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत न्यूनतम और अधिकतम कवरेज की लिमिट में बदलाव किया है.

Arogya Sanjeevani Policy: देश इस समय कोरोना महामारी (COVID19 Pandemic) की दूसरी लहर का सामना कर रहा है. इसके बीच सरकार की कोशिश देश में अधिक से अधिक लोगों को हेल्थ इंश्योरेंस के दायरे में लाने की है. इसके तहत, बीमा नियामक इरडा ने स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ‘आरोग्य संजीवनी’ के तहत न्यूनतम और अधिकतम कवरेज की लिमिट को और युक्तिसंगत यानी सरल किया है. नियामक ने आरोग्य संजीवनी पॉलिसी में न्यूनतम सीमा 50,000 रुपये और अधिकतम सीमा 10 लाख रुपये कर दिया है.

पिछले साल जुलाई में भारतीय बीमा विनियामक विकास प्राधिकरण (Irdai) ने स्टैंडर्ड बीमा पॉलिसी ‘आरोग्य संजीवनी’ को लेकर दिशानिर्देश जारी किए थे. नियामक ने बीमा कंपनियों को न्यूनतम 1 लाख और अधिकतम 5 लाख रुपये सम इंश्योर्ड का अनिवार्य बीमा कवर देने को कहा था.

बता दें, आरोग्य संजीवनी पॉलिसी में अस्पताल में भर्ती होने, भर्ती होने से पहले और बाद का खर्च, आयुष इलाज और मोतियाबिंद का इलाज कवर होता है. यह एक स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी है, जिसमें पॉलिसीधारक की मूलभूत आवश्यकताओं को ध्यान में रखा गया है.

ये भी पढ़ें… Income Tax: टैक्स बचाने के लिए निवेश में न करें जल्दबाजी, इन 5 गलतियों से बचें

IRDAI का सर्कुलर

बीमा नियामक इरडा ने जनरल एवं स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को जारी एक सर्कुलर में अब कहा है, ‘‘आरोग्य संजीवनी पॉलिसी के तहत उपलब्ध कवरेज को बढ़ाने के तहत मौजूदा दिशानिर्देशों में आंशिक सुधार करते हुए अब बीमा कंपनियों को आरोग्य संजीवनी स्टैंडर्ड प्रोडक्ट के तहत एक मई 2021 से अनिवार्य रूप से न्यूनतम 50 हजार रुपये और अधिकतम 10 लाख रुपये का बीमा कवर देना होगा.’’

बीमा नियामक ने हालांकि कहा है कि संसोधित दिशानिर्देश दो विशिष्ट सरकारी साधारण बीमा कंपनियों ECGC और AIC,पर लागू नहीं होंगे. भारतीय कृषि बीमा कंपनी लिमिटेड (AIC) कृषि क्षेत्र के लिए हैं जबकि ईसीजीसी निर्यात लोन गारंटी कंपनी है जो कि निर्यातकों को समर्थन देती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. कोरोना की दूसरी लहर के बीच बड़ा फैसला; ‘आरोग्य संजीवनी पॉलिसी’ में ले सकेंगे 10 लाख तक हेल्थ कवर

Go to Top