मुख्य समाचार:

Income Tax Return 2019: बैंक खाता की जानकारी गलत भरने पर रिफंड कैसे वापस लें

आप आईटीआर में बैंक डिटेल्स जमा करते समय सावधान रहें, खासकर अगर आपका कुछ रिफंड बनता है.

August 24, 2019 8:15 AM
Income Tax Return 2019 how to get your refund amount after filing wrong or mismatch bank account detailsआप सही / बदली हुई बैंक डिटेल्स के साथ एक रिवाइज रिटर्न दाखिल कर सकते हैं.

अमित अपना और उनकी पत्नी का बैंक खाता अपने नजदीकी बैंक की ब्रांच में ट्रांसफर कराना चाहते हैं. लेकिन अनुरोध करने के एक साल बाद भी उन्हें बैंक की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली. ऐसे में अमित चतुर्वेदी (बदला हुआ नाम) ने मौजूदा बैंक खाते की डिटेल्स के साथ ही असेसमेंट ईयर 2019-20 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) की ई-फाइलिंग पूरी की. रिटर्न भरने के कुछ दिनों के बाद, वह अपनी बेटी के लिए एक सुकन्या समृद्धि खाता (SSY) और एक जॉइंट खाता खोलने के लिए अपने घर के पास वाली बैंक शाखा में गए. इस जॉइंट अकाउंट में उनकी बेटी पहली अकाउंट होल्डर और अमित दूसरे अकाउंट होल्डर हैं. अमित ने पहली पेमेंट अपने दूर वाले मौजूदा बैंक के चेक से की.

हाल ही में, अमित ने अपनी पत्नी के खाते में कुछ राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की. ट्रांसफर करने के बाद बैंक स्टेटमेंट से पता चला कि यह राशि अमित के पास वाले बैंक के खाते से उसकी पत्नी के दूर वाली ब्रांच के खाते में ट्रांसफर हुई है.

अमित ने उलझन में पड़कर बैंक की शाखा से संपर्क किया. खाता की डिटेल्स चेक करने के बाद, एक बैंक अधिकारी ने कहा कि खाता केवल इस शाखा का है और अमित यह गलत समझ रहा था कि खाता दूसरी शाखा में खोला गया था. अपनी बात को साबित करने के लिए अमित को अपनी चेक बुक दिखानी पड़ी जो दूसरी शाखा द्वारा जारी की गई थी. लेकिन अधिकारियों को इस बात पर विश्ववास नहीं हुआ कि नई शाखा और अकाउंट होल्डर को बिना किसी सूचना के शाखा कैसे बदली गई. उन्होंने यह भी पूछा कि या तो एक नई चेक बुक जारी की जाए क्योंकि मौजूदा चेक बुक अब होम ब्रांच चेक बुक नहीं है या अकाउंट को दूसरी ब्रांच में वापस ट्रांसफर करवाना है.

नई चेक बुक जारी करना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन अमित सोच रहा था अब वह इनकम टैक्स (आई-टी) डिपार्टमेंट से टैक्स रिफंड कैसे लेगा क्योंकि आईटीआर में पुरानी ब्रांच का आईएफएससी शामिल है, यहां तक ​​कि खाता संख्या भी समान है.

गलत अकाउंट डिटेल्स भरने पर क्या करें?

चार्टर्डक्लब.कॉम के फाउंडर और सीईओ सीए करन बत्रा कहते हैं कि “इस केस में रिफंड की अमाउंट सीधे बैंक खातें में क्रेडिट नहीं हो पाएगी और आईटी डिपार्टमेंट को चेक से यह अमाउंट भेजने की रिक्वेवेस्ट करनी होगी. अगर आईटीआर अभी तक प्रोसेस नहीं की गई तो नई आईटीआर भी फाइल करनी पड़ सकता है.

इसलिए, आप आईटीआर में बैंक डिटेल्स जमा करते समय सावधान रहें, खासकर अगर आपका कुछ रिफंड बनता है. अगर आपने अपनी बैंक शाखा को बदलने का अनुरोध किया है, तो उस बैंक की डिटेल्स को रिफंड क्रेडिट करने के लिए न भरें.

हालाँकि, अपना आईटीआर दाखिल करने के बाद, अगर आपको पता चलता है कि अकाउंट डिटेल्स भरने करने में कोई गलती थी, जिसमें रिफंड आना तय है, या आईटीआर दर्ज होने के बाद डिटेल्स बदल गई हैं, अपने ई-फाइलिंग खाते में लॉग इन कर चेक करें कि आपकी ITR प्रोसेस किया गया है या नहीं.

अगर आईटीआर अभी तक प्रोसेस नहीं हुआ है, तो आप सही / बदली हुई बैंक डिटेल्स के साथ एक रिवाइज रिटर्न दाखिल कर सकते हैं. अगर आईटीआर प्रोसेस हो जाता है और आपके खाते में रिफंड जमा होना फेल हो जाता है तो आपको आई-टी विभाग को एक चेक जारी करने के लिए अनुरोध करना होगा.

अगर आप एक रिवाइज रिटर्न दाखिल नहीं करना चाहते हैं और आपका आईटीआर प्रोसेस नहीं हुआ है, तो आप आई-टी विभाग को चेक जारी करने का अनुरोध करने के लिए तब तक इंतजार कर सकते हैं जब तक कि रिफंड प्रक्रिया विफल नहीं होती है.

Story By: Amitava Chakrabarty

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Income Tax Return 2019: बैंक खाता की जानकारी गलत भरने पर रिफंड कैसे वापस लें

Go to Top