मुख्य समाचार:

Income Tax Refund: इनकम टैक्‍स रिफंड जल्‍द पाने के लिए जरूर करें ये 5 काम

कई बार रिफंड रिटर्न फाइल करने के एक हफ्ते के भीतर ही प्रॉसेस हो जाता है. 

August 29, 2019 6:24 PM
Income Tax Return 2019, Income Tax Refund, refund of income tax, income tax department, ITR 2019, income tax return, CPC, Tax Noticeकई बार रिफंड रिटर्न फाइल करने के एक हफ्ते के भीतर ही प्रॉसेस हो जाता है.

Income Tax Return 2019: इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करने केे बाद यदि आपका कोई रिफंड बनता है तो वह आपको इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट के सेंट्रलाइज्‍ड प्रोसेसिंग सेंटर (CPC) के जरिए मिलता है. सीपीसी के जरिए रिफंड की प्रोसेसिंग पूरी तरह ऑटोमे‍टेड है. कई बार रिफंड टैक्‍स रिटर्न फाइल करने के एक हफ्ते के भीतर ही प्रॉसेस हो जाता है.

टैक्‍स अथॉरिटी के पास टैक्‍सपेयर्स से जुड़ी कई जानकारियां जैसेकि नियोक्‍ता की विद्होल्डिंग डिटेल, बैंक की ओर दी गई इंटरेस्‍ट डिटेल आदि होती हैं. अथॉरिटीज के पास कैपिटल गेन और डिविडेंड आदि के रूप में मिली इनकम की जानकारी भी एक्‍सेस करने की व्‍यवस्‍था होती है. सीपीसी की ओर से टैक्‍स रिफंड में अमूमन देरी की वजह टैक्‍स रिटर्न में दी गई जानकारियों में मिसमैच होता है. ऐसे में जरूरी है कि जब भी हम इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करें तो इन 5 बातों पर जरूर ध्‍यान दें, जिससे कि रिफंड मिलने में देरी न हो.

1. टैक्‍स रिटर्न में जानकारी सही हो 

 

यह सुनिश्चित कर लें कि फॉर्म- 16 के तहत टैक्‍स रिटर्न यानी आईटीआर में सैलरी इनकम का मिलान (मौजूदा कंपनी और पिछली कंपनी) टैक्‍स क्रेडिट स्‍टेटममेंट यानी टैक्‍स डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर उपलब्‍ध फॉर्म 26AS से हो. टैक्‍स डिपार्टमेंट, जहां सैलरी और एफडी और सेविंग्‍स बैंक खाते से ब्‍याज के ब्‍योरे की डिटेल उपलब्‍ध है, प्री-फिल्‍ड आईटीआर भी उपलब्‍ध कराता है. इसलिए जरूरी है कि इनमें से किसी का भी ब्‍योरा देना न भूले. बैंक स्‍टेटमेंट में क्रेडिट के आधार पर आपको यह पता लगाने में आसानी होगी. जानकारी मिसमैच होने पर सीपीसी की तरफ से नोटिस आ सकता है और रिफंड में देरी भी हो सकती है.

2. एक्टिव बैंक खाते में मंगाए रिफंड

इनकम टैक्‍स रिटर्न (ITR) फॉर्म में रिफंड के लिए मल्‍टीपल बैंक खातों की जानकारी दे सकते हैं. रिटर्न प्रॉसेस होने के बाद सीपीसी की ओर से इनमें से एक अकाउंट में रिफंड की रकम भेजी जाती हैैै इससे बेहतर है कि रिफंड के लिए आप केवल एक बैंक अकाउंट ही सलेक्‍ट करें. इसके अलावा, यह भी महत्‍वपूर्ण है कि जो भी अकाउंट आप सलेक्‍ट करें वो एक्टिव होना चाहिए.

3. बैंक खाते को प्री-वैलिडेट करा लें

पहले 50,000 रुपये से अधिक का टैैैैक्‍स रिफंड चेक के जरिए होता था. मार्च 2019 में सरकार ने यह एलान किया कि केवल ई-रिफंड किया जाएगा. अपने बैंक अकाउंट को प्री-वैलिडेट कराने के लिए इन स्‍टेप्‍स को फॉलो करें…

  • ‘e-Filing’ पोर्टल पर लॉगइन करें.
  • प्री-वैलिडेट योर बैंक अकाउंट- प्रोफाइल सेटिंग्‍स सलेक्‍ट करें.
  • किसी भी अकाउंट के न होने पर प्री-वैलिडेट फॉर्म दिखाई देगा.
  •  इसमें अपना बैंक अकाउंट नंबर, अकांउट टाइप, आईएफएससी, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और प्री-वैलिडेट ऑप्‍शन पर क्लिक करें. ईमेल आईडी वैकल्पिक है, यदि आप इसे उपलब्‍ध कराते हैं तो यह बैंक के साथ वैलिडेट हो जाएगी.
  • प्री-वैलिडेट करने की रिक्‍वेस्‍ट का स्‍टेटस ई-फाइलिंग अकाउंट से रजिस्‍टर्ड ईमेल आईडी पर भेज दी जाएगी.

यहां यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि प्री-वैलिडेशन प्रॉसेस वहीं पूरा होता है जहां टैक्‍स रिफंड बनने की संभावना रहती है.

4. ITR का ई-वेरिफिकेशन

 

टैक्‍स रिटर्न ई-फाइलिंग के बाद 120 दिन के भीतर ITRV की साइन की गई फिलिकल कॉपी सीपीसी, बेंगलुरु भेजनी पड़ती है. वेरिफिकेशन के लिए यह पर्याप्‍त समय है. इसका मतलब यह है कि जबतक आपके रिटर्न का वेरिफिकेशन सीपीसी की तरफ से नहीं हो जाता तब तक आपका रिफंड प्रॉसेस नहीं होगा. रिटर्न की तुरंत प्रोसेसिंग के लिए ई-वेरिफकेशन के लिए आपको पास कुछ विकप्‍ल उपलब्‍ध हैं.

  • आधार ओटीपी
  • नेट बैंकिंग, बैंक अकांउट/डिमेट डिटेल के जरिए
  • डिजिटल सिग्‍नेचर सर्टिफिकेट

5. टैक्‍स पोर्टल पर रिफंड चेक करें

टैक्‍स डिपार्टमेंट की तरफ से एकबार आईटीआर प्रॉसेस होने के बाद आपको मेल के जरिए U/s 143(1) के तहत इंटिमेशन मिलेगा. यदि टैक्‍स डिपार्टमेंट को आपके बारे में कुछ जानकारी चाहिए या टैक्‍स ऑडिट की जरूरत पड़ती है तो टैक्‍सपेयस को एक नोटिस भेजा जाएगा. ऐसे में यह जरूरी है कि इसकी जांच करें और इनकम टैक्‍स ई-फाइलिंग वेबसाइट पर जाकर रिफंड का स्‍टेटस जरूर चेक करें.

 

(By: Saraswathi Kasturirangan, Partner, Deloitte India, and Pruthvi K S, Deputy Manager with Deloitte Haskins and Sells LLP )

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Income Tax Refund: इनकम टैक्‍स रिफंड जल्‍द पाने के लिए जरूर करें ये 5 काम

Go to Top