मुख्य समाचार:
  1. बड़ा कर्ज है और साथ ही पैसों की तंगी तो घबराएं नहीं, इन 5 तरीकों से चुकाना होगा आसान

बड़ा कर्ज है और साथ ही पैसों की तंगी तो घबराएं नहीं, इन 5 तरीकों से चुकाना होगा आसान

स्मार्ट ऑप्शन्स और पॉजिटिव मानसिकता वाले लोग संकट के समय भी कर्ज चुकाने में सफल होते हैं.

October 27, 2018 11:52 AM
financial crisis, repay loan, how to repay loan early, how to repay loan quicky, how to repay loan eaisly, repay loan faster, personal finance news in hindiस्मार्ट ऑप्शन्स और पॉजिटिव मानसिकता वाले लोग संकट के समय भी कर्ज चुकाने में सफल होते हैं.

2008 मंदी के बाद दुनियाभर की सरकार, अर्थशास्त्री और पॉलिसीमेकर्स मौजूदा वक्त में आर्थिक विकास को लेकर सबसे अधिक चिंतित हैं. न सिर्फ सरकार बल्कि जनता भी कर्ज चुकाने के लिए संघर्ष कर रही है, लेकिन स्मार्ट ऑप्शन्स और पॉजिटिव मानसिकता वाले लोग संकट के समय भी कर्ज चुकाने में सफल होते हैं.

वे इनकम और खर्च के बीच संतुलन बनाए रखने के लिए जरूरतों को प्राथमिकता देते हैं, बजट बनाते हैं और रिसोर्स को मैनेज करते हैं और अंत में कर्ज से मुक्ति के तरीके खोजते हैं. यह आसान नहीं है लेकिन तरीकों का चयन करते वक्त सावधान रहने की जरूरत है.

मौजूदा हालात यह समझने में मदद करता है कि इनकम के स्रोत क्या हैं और पैसा खर्च कहां होता है, कहां खर्च कम करनी चाहिए या नहीं करनी चाहिए.

आपको यह कभी नहीं भूलना चाहिए कि मासिक, तिमाही और सालाना बजट तैयार करना, वित्तीय जिम्मेदारियों से निपटने के लिए सबसे बेहतर तरीका है. अगला बड़ा कदम संकट के दौरान कर्ज चुकाने के लिए ऑप्शन चुनने का है. नीचे कुछ आसान समाधान बताए जा रहे हैं:

योजना बनाएं और उसे फॉलो करें

आम तौर पर, घर और शिक्षा जैसे कर्ज छह महीने या उससे अधिक तक चुकाने का वक्त देते हैं. इसलिए, आपको ड्यू डेट से प्रीमियम का भुगतान शुरू करने के लिए पर्याप्त रकम रिजर्व रखना चाहिए. इस दिशा में कोई लापरवाही आपके क्रेडिट स्कोर को खराब कर सकती है. यदि कोई छात्र है और उसने शिक्षा के लिए कर्ज लिया है और वह बेरोजगारी के कारण पेमेंट करने में सक्षम नहीं है तो उसे तुरंत संबंधित बैंक से संपर्क करना चाहिए और नौकरी खोजने के लिए मदद मांगी जानी चाहिए. कर्जदाता यदि ईमानदारी से अपने हालात के बारे में बताते हैं तो लेंडर न सिर्फ नौकरी खोजने में मदद करता है बल्कि कर्ज वापस करने के लिए कुछ अतिरिक्त समय भी दे सकता है.

पेमेंट के लिए कार्यकाल बढ़ाने के बारे में सोचें

सही कम्युनिकेशन कई साफ सीधे खतरों और समस्याओं का सामना करता है. बैंक कर्मचारियों के साथ चर्चा करके उन्हें अपनी मौजूदा आर्थिक हालात के बारे में बताएं और कर्ज चुकाने के लिए और वक्त मांगे. इस तरह कोई भी EMI का दबाव कम कर सकता है. साथ ही अधिक समय मिलने से आप कमाई के लिए और विकल्प की खोज सकेंगे.

रिफाइनेंस के लिए जा सकते हैं

एक उधारकर्ता रिफाइनेंस के लिए जा सकता है – यानी, अधिक आसान नियम और शर्तों पर कर्ज या अधिक अनुकूल शर्तों के साथ एक बदली गई योजना के अनुसार. जैसे, कई मामलों में, कमजोर कर्जदाता सह-आवेदक को एक मजबूत सह-आवेदक के साथ रिप्लेस करने का मौका देता है.

मौजूदा संपत्ति संकट से बाहर निकलने में मदद करती है

संपत्ति हमेशा वित्तीय संकट से निपटने में मदद करती है. वे किसी के कर्ज का पेमेंट करते हुए वाकई प्रभावी हो सकते हैं. एक उधारकर्ता बंधक का लाभ उठाने के लिए अपनी संपत्ति का इस्तेमाल कर सकता है, और यदि उसके पास शेयर हैं, तो इक्विटी की मदद से कर्ज संकट से छुटकारा पा सकता है. इसके साथ ही, ब्याज पर टैक्स कटौती के अलावा कोई भी कम ब्याज दरों और कम प्रीमियम पर बेनिफिट उठा सकता है, लेकिन कम रेट केवल तभी संभव है जब किसी के पास बेहतर क्रेडिट हिस्ट्री हो.

स्मार्ट बनें और डेब्ट सेटलमेंट की कोशिश करें

यदि किसी की नेगोशिएन स्किल्स बेहतर है तो कर्ज के बोझ को कम करने का एक और उपयोगी विकल्प यह है कि कर्जदाता से कुल राशि में छूट पाने के लिए एक छोटी अवधि में एकमुश्त भुगतान कर दें. फाइनेंस में, इस रणनीति को डेब्ट सेटलमेंट कहा जाता है और उधारकर्ता, कर्जदाता को आश्वस्त करने के बाद इसे अपने आखिरी हथियार के रूप में इस्तेमाल करते हैं. लेकिन, इस विकल्प पर कैपिटलाइज करने के लिए किसी को डील बंद करने के लिए एकमुश्त भुगतान की पेशकश करने के लिए एक डिसेंट रकम होनी चाहिए. इसलिए, नेगोशिएन स्किल्स और पैसे का होना सफल डेब्ट सेटलमेंट की शर्तें हैं. यहां, ऋण चुकाने से पहले लिखित डाक्यूमेंट्स के बारे में अतिरिक्त अलर्ट रहना चाहिए; उधारकर्ता के पास संबंधित अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षरित एक लिखित समझौता होना चाहिए.

(लेखक रचित चावला Finway Capital Pvt.ltd के CEO हैं.)

Go to Top