मुख्य समाचार:

ICICI Bank FD Xtra: निवेश करने से पहले जरूर जान लें ये 8 बातें

निवेश के बदले तौर-तरीकों और जरूरतों के अनुसार अब बैंकों की FD के फीचर्स में भी कुछ बदलाव हो सकते हैं.

February 11, 2019 6:31 PM
ICICI Bank FD Xtra know these facts before investmentबैंक फिक्स्ड डिपॉजिट (FDs) हमेशा से निवेश का एक आसान विकल्प रहा है.

ICICI Bank FD Xtra: बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट (FDs) हमेशा से निवेश का एक आसान विकल्प रहा है. खासकर ऐसे निवेशकों के लिए, जो एक तय समय में निश्चित रकम चाहते हैं. अमूमन सभी बैंकों की FD की एक ही तरह के फीचर होते हैं. हालांकि आमतौर पर ब्याज दरों को लेकर अंतर दिखाई देता है.

निवेश के बदले तौर-तरीकों और जरूरतों के अनुसार अब बैंकों की FD के फीचर्स में भी कुछ बदलाव हो सकते हैं. इसलिए जरूरी है कि जब भी बैंक FD में निवेश का विकल्प चुने, इनके बारे में जरूर जान लें.

हाल ही में ICICI बैंक ने एक नई FD स्कीम FD Xtra लॉन्च की. इसमें फ्री इंश्योरेंस और कई अन्य ऑफर दिए जा रहे हैं. आइए इनमें से कुछ (FD Life, FD Invest and FD Income) पर नजर डालते हैं और देखते हैं और जानते हैं कि वे क्या हैं और किन लोगों के लिए उपयुक्त हैं…

1. FD Plus Life Cover

ICICI Bank FD Xtra के साथ एक फ्री लाइफ कवर मिल रहा है. ‘FD Life’ खोलने पर खाता धारक के लिए एक फ्री लाइफ कवर है. यह लाइफ कवर उन लोगों के लिए जिनकी उम्र 18-50 साल के बीच है. यह कवर कम से कम 2 साल के लिए मिनिमम 3 लाख की FD पर मिलेगा. यह लाइफ कवर पहले साल के लिए ही फ्री है, दूसरे साल FD होल्डर को प्रीमियम देकर इसे रिन्यू कराना पड़ सकता है. इसमें अधिकतम कवर 3 लाख रुपये है. इस तरह, 9 लाख रुपये की एफडी कराने पर 3 लाख रुपये का लाइव कवर मिलेगा.

हालांकि, इंडस्ट्री में यह नया फीचर नहीं है. DCB बैंक अपनी सुरक्षा FD में 18-54 साल की उम्र के लोगों को फ्री लाइव कवर दे रहा है. इसके लिए कम से कम 10 हजार रुपये का डिपॉजिट 3 साल के लिए करना होगा. इसमें अधिकतम डिपॉजिट लिमिट 50 लाख रुपये है.

क्या देखें: ‘FD Plus Life Cover kind deposits’ का चयन करने से पहले यह चेक करें कि आप जितनी अवधि के लिए FD करना चाहते हैं, क्या दूसरे बैंक बेहतर ब्याज दे रहे हैं. साथ ही FD की रकम को देखते हुए यह जरूर पड़ताल कर लें कि जो लाइफ कवर मिल रहा है, क्या वह आपके लिए पर्याप्त है. एक बेहतर स्थिति यह होती है कि किसी व्यक्ति का लाइव कवर उसकी टेक होम सैलरी का कम से कम दस गुना होना चाहिए.

लाइव कवर के साथ FD पर DCB 36 महीने की डिपॉजिट पर 8.05 फीसदी ब्याज दे रहा है, जबकि ICICI बैंक 24 महीने के डिपॉजिट पर 7.5 फीसदी ब्याज ऑफर कर रहा है.

2. Withdrawal of life cover

इस तरह की FD के आंशिक या प्री-मैच्योर विद्ड्रॉअल की स्थिति में फ्री लाइव कवर भी आंशिक या प्री-मैच्योर विद्ड्रॉअल की तारीख से खत्म हो गया. साथ ही यदि कोई पेनल्टी बनती है तो बैंक के नियम अनुसार FD से बाहर निकले पर देनी पड़ सकती है.

क्या देखें: यदि बहुत अधिक पैसे की जरूरत न हो तो बैंक FD का आंशिक या प्री-मैच्योर विद्ड्रॉल करने से बचें. पैसे की अचानक जरूरत के लिए आप लोन या ओवरड्रॉफ्ट सुविधा का फायदा उठा सकते हैं.

3. Group life cover

बैंक की तरफ से लाइव कवर लाइफ इंश्योरेंस कंपनी के जरिए एक ग्रुप इंश्योरेंस के रूप में दिया जाता है. अलग से पॉलिसी सर्टिफिकेट नहीं भेजा जाएगा. हालांकि, एक इंश्योरेंस स्टेटमेंट FD होल्डर को जरूर भेजा जाएगा.

4. Joint holdings

ICICI बैंक का यह FD अकाउंट सिंगल या ज्वाइंट हो सकता है. लेकिन लाइव कवर हमेशा पहले डिपॉजिट होल्डर को ही मिलेगा.

5. Interest payouts

बैंक FD पर ब्याज दरों के भुगतान के लिए मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना विकल्प होता है. FD Xtra जैसी FD में भी अकाउंट होल्डर को यह विकल्प मिलेगा.

6. Declaration

इंश्योरेंस यानी बीमा भरोसे की बुनियाद पर बीमित और बीमा कंपनी और अन्य के बीच एक करार होता है. हालांकि इस तरह की FD के लिए का अप्लीकेशन फॉर्म भरते समय आपको ‘गुड हेल्थ’ का डिक्लेयरेशन देना होगा. डिक्लेयरेशन में यह होता है कि यदि गुड हेल्थ नहीं है तो लाइफ कवर नहीं मिलेगा. लेकिन यह जरूर ध्यान रखें कि गलत डिक्लेयरेशन देने पर क्लेम के समय दिक्कत हो सकती है.

7. FD Income

यदि ‘FD Income’ ऑप्शन के तहत कम से कम 24 महीने के अवधि (इन्वेस्टमेंट फेज) के लिए मिनिमम 2 लाख रुपये का FD किया है तो मैच्योरिटी पर मूलधन और ब्याज को एन्युटी FD में पेआउट पीरियड के लिए निवेश कर दिया जाएगा.

उदाहरण से समझें, यदि आपने 24 महीने के लिए 2 लाख रुपये 7.25 फीसदी ब्याज पर का निवेश किया है तो इन्वेस्टमेंट अवधि में यह रकम 230908 लाख रुपये हो जाएगी. मैच्योरिटी पर FD होल्डर को यह रकम देने की बजाय 24 महीने के लिए हर माह 10,365 रुपये का भुगतान किया जाएगा. इस स्थिति में बयाज दर 4 साल के लिए ही प्रभावी होगी.

इस तरह FD में निवेश की अवधि के दौरान रेगुलर इंट्रेस्ट का विकल्प नहीं होता है. इसलिए यदि आपको नियमित रूप से भुगतान नहीं चाहिए तो ही इस तरह की FD का विकल्प चुनें.

8. FD plus MF SIP

‘FD Invest’ खोलने पर मूलधन पर अर्जित ब्याज को म्यूचुअल फंड SIP में निवेश किया जाता है. इसमें अहम बात यह है कि होल्डिंग पैटर्न या मोड ऑफ ऑपरेरशन सिंगल होना चाहिए.

FD इन्वेस्ट के लिए कम से कम 2 लाख रुपये की FD होनी चाहिए, जो 12 महीने से 10 साल तक के लिए हो सकती है. हालांकि इस FD में ब्याज का भुगतान मंथली होगा. यह जान लें कि इस ऑप्शन में आपकी SIP ICICI Pru म्यूचुअल फंड्स की MF स्कीम्स के जरिए ही होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. ICICI Bank FD Xtra: निवेश करने से पहले जरूर जान लें ये 8 बातें

Go to Top