सर्वाधिक पढ़ी गईं

बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए रोज के खर्च से बचाएं 150 रु, 15 साल बाद 30 लाख का खर्च हो जाएगा आसान

SIP: बच्चे की पढ़ाई का खर्च हो जाएगा आसान

April 20, 2019 11:06 AM
SIP, Mutual Fund, Higher Education, Child Education, एसआईपी, हॉयर एजुकेशन, म्यूचुअल फंड, फाइनेंशियल प्लानिंग, Financial PlanningSIP: बच्चे की पढ़ाई का खर्च हो जाएगा आसान

SIP For Higher Education: आज के दौर में हर क्षेत्र में महंगाई तेजी से पढ़ रही है. उच्च शिक्षा की लागत पहले से ही अधिक है और सालाना 10-12 फीसदी की दर से बढ़ रहा है. मौजूदा समय में हॉयर एजुकेशन पर अगर 6 से 7 लाख रुपये खर्च है तो आने वाले 7 साल बाद यह दोगुना और 15 साल बाद तो 4 गुना पहुंच सकता है. स्टडी रिपोर्ट के अनुसार 2027 तक, बड़े प्राइवेट कॉलेज से इंजीनियरिंग डिग्री पाने के लिए 24-26 लाख रुपये खर्च हो जाएंगे. ऐसे में हमें शुरू से ही बच्चों के भविष्य को लेकर फाइनेंशियल प्लानिंग शुरू कर देनी चाहिए. इससे ऐन वक्त पर कर्ज लेने के झंझट से मुक्ति मिलती है, वहीं शुरू से प्लानिंग होने की वजह से बोझ नहीं पड़ता.

इस लिहाज से देखें तो अगले 7-8 साल में उच्च शिक्षा पर 15 से 16 लाख या अगले 15 साल में इस पर 30 लाख रुपये खर्च होना स्वाभाविक दिखता है. अब सवाल उठता है कि बच्चा अभी 2 से 3 साल का है तो उसके 18 साल होने तक किस तरह से 30 लाख का इंतजाम करें. या अभी 10 साल का है तो 8 साल बाद कैसे 15 लाख का इंतजाम करें.

SIP: बिना दबाव पूरा करें गोल

फाइनेंशियल एडवाइजर फर्म BPN फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम का कहना है कि बेहतर निवेश का विकल्प बच्चे की उम्र के हिसाब से अलग-अलग होता है. जैसे अगर बच्चा 3-4 साल का हो तो उसके लिए निवेश के विकल्प 7-8 साल के बच्चे से अलग हो सकते हैं. उनका कहना है कि इस तरह के फाइनेंशियल गोल पूरे करने के लिए म्यूचुअल फंड में एसआईपी का विकल्प सबसे बेहतर है. अगर सही स्कीम का चुनाव किया जाए तो बिना रिस्क और बिना दबाव के इस तरह का गोल पूरा हो सकता है. लेकिन निवेश जितना जल्दी शुरू करें, फायदा उतना ज्यादा होगा.

150 रुपये रोज की बचत से पूरा करें लक्ष्य

  • अगर बच्चा 2 से 3 साल का है और 18 साल के होने पर 30 लाख रुपये का फंड उसके लिए तैयार करना है तो निवेश के लिए आपके पास समय 15 साल का लंबा वक्त मिल जाएगा. यहां कंपाउंडिंग का फायदा बढ़ जाएगा.
  • अगर सिर्फ 150 रुपये रोज के लिहाज से देखें तो यह महीने का 4500 रुपये हो जाएगा.
  • आपको 4500 रुपये मंथली बेहतर म्यूचुअल फंड स्कीम में एसआईपी करनी होगी.
  • बाजार में कई अच्छे फंड हैं, जिन्होंने पिछले 15 से 18 साल के दौरान नियमित तौर पर 15 से 20 फीसदी सालाना रिटर्न दिया है.
    अगर यहां हम सिर्फ 15 फीसदी सालाना रिटर्न मानें तो 15 साल बाद एसआईपी की वैल्यू 30 लाख रुपये होगी.

अगर निवेश के लिए 8 साल का ही हो समय

  • अगर आपका बच्चा 10 साल का है, तो उसे 8 साल बाद 15 से 16 लाख रुपयों की जरूरत पड़ सकती है.
  • यहां आपको रोज की बचत 300 रुपये करनी होगी यानी मंथली 9000 रुपये.
  • अगर एसआईपी में सालाना रिटर्न यहां भी 15 फीसदी ही मानें तो 8 साल बाद एसआईपी की वैल्यू 16 लाख से ज्यादा होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए रोज के खर्च से बचाएं 150 रु, 15 साल बाद 30 लाख का खर्च हो जाएगा आसान

Go to Top