सर्वाधिक पढ़ी गईं

Top-Up Health Insurance Policy: कम प्रीमियम में पाएं अधिक हेल्थ कवर, इस तरह मिलेगा आपको फायदा

Top-Up Health Insurance Policy: टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी एक सप्लीमेंटल हेल्थ इंश्योरेंस प्लान है जो न सिर्फ कवरेज को बढ़ाता है बल्कि प्रीमियम भी कम चुकाना पड़ता है.

Updated: Apr 07, 2021 2:05 PM
How top-up health insurance policy can help you pay less premium for higher coverage Explained hereबढ़ते स्वास्थ्य खर्चों को लेकर आज हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आज जरूरत बन चुकी है.

Top-Up Health Insurance Policy: बढ़ते स्वास्थ्य खर्चों को लेकर आज हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आज जरूरत बन चुकी है. हालांकि अगर इसका कवरेज कम रहा तो फायदा कम मिल पाता है. ऐसे में टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी एक सप्लीमेंटल हेल्थ इंश्योरेंस प्लान है जो न सिर्फ कवरेज को बढ़ाता है बल्कि प्रीमियम भी अफोर्डेबल होती है.
हालांकि टॉप-अप हेल्थ प्लान्स को लेने से पहले कुछ समझ लेना बहुत जरूरी है जैसे कि इसके दो हिस्से होते हैं- एक सम इंश्योर्ड और दूसरा डिडक्टिबल लिमिट. जब क्लेम डिडक्टिबल लिमिट से अधिक हो जाती है तो बढ़ा हुए क्लेम का भुगतान इंश्योरेंस कंपनी करती है.
उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि आपने एक टॉप-अप प्लान खरीदा है जिसका सम इंश्योर्ड 5 लाख रुपये है और डिडक्टिबल 2 लाख रुपये है. इस केस में अगर क्लेम राशि 2 लाख रुपये से अधिक बढ़ती है तो बढ़े हुए क्लेम को टॉप-अप पॉलिसी के तहत कवर किया जाएगा.

इस तरह काम करता है टॉप-हेल्थ कवर

एक इंश्योरटेक कंपनी टर्टलमिंट के सह-संस्थापक धीरेंद्र मह्यावंशी के मुताबिक टॉप-अप पॉलिसी किसी वर्तमान हेल्थ इंश्योरेंस प्लान जो आपने लिया हुआ है, उसके साथ मिलकर बेहतर काम करता है. आप ऐसी टॉप-अप पॉलिसी खरीद सकते हैं जिसका डिडक्टिबल बेस पॉलिसी के सम इंश्योर्ड के बराबर हो. इस तरह डिडक्टिबल तक का क्लेम मूल हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के जरिए हो जाएगा और बढ़े हुए क्लेम को टॉप-अप प्लान के तहत कवर कर लिया जाएगा.

SBI Home Loan: 1 अप्रैल से महंगा हुआ एसबीआई में होमलोन, अब कितनी बढ़ जाएगी EMI

दो प्रकार की होती हैं टॉप-अप पॉलिसी

टॉप-अप पॉलिसी दो वैरिएंट में उपलब्ध हैं; टॉप-अप और सुपर टॉप-अप. टॉप-अप प्लान के तहत सभी क्लेम को डिडक्टिबल लिमिट से टैली कराया जाता है और अगर क्लेम डिडक्टिबल लिमिट से अधिक होता है तो बढ़े हुए क्लेम का भुगतान किया जाएगा. वहीं दूसरी तरफ सुपर टॉप-अप प्लान्स में एक साल में सभी क्लेम को डिडक्टबिल से टैली किया जाता है और एग्रीगेट क्लेम अगर डिडक्टिबल से अधिक होता है तो इसका भुगतान किया जाएगा.

इस तरह चुनें सबसे बेहतर टॉप-अप प्लान

  • आपके पास जो हेल्थ प्लान है, उसके सम इंश्योर्ड को डिडक्टिबल से मैच कराएं.
  • ऑप्टिमल कवरेज चुनें.
  • कवरेज बेनेफिट्स को देखें कि क्या कवरेज में क्या शामिल हैं.
  • प्री-एग्जिस्टिंग वेटिंग पीरियड देखें और ऐसा प्लान चुनें जिसमें कम पीरियड हो ताकि जल्द से जल्द कवरेज मिल सके.
  • कवरेज लिमिट्स और सब-लिमिट्स को देखें और ऐसा प्लान चुनें जो कवरेज को लेकर रिस्ट्रिक्शंस न रखे.
  • प्लान के तहत किन अस्पतालों में फायदा ले सकते हैं, इसे जरूर देखें. ऐसा प्लान चुनें जिसके नेटवर्क में अधिक से अधिक अस्पताल हों.

इस तरह समझें कितनी होगी बचत

धीरेंद्र मह्यावंशी के मुताबिक अगर बिना अधिक प्रीमियम चुकाए अधिक हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज चाहते हैं तो टॉप-अप पॉलिसी बेहतर विकल्प है. यह कितना प्रभावकारी है इसे एक उदाहरण से समझ सकते हैं. आपकी उम्र 35 वर्ष है और आपके पास 5 लाख रुपये का प्लान है जिसकी प्रीमियम 6 हजार 6 हजार-8 हजार रुपये है. अब अगर आप हेल्थ इंश्योरेंस कवर 10 लाख रुपये करना चाहते हैं तो आपके पास दो विकल्प है.

  • केस 1: अपने कवरेज प्लान को बढ़ाकर 10 लाख रुपये का कर सकते हैं यानी कि 10 लाख रुपये का इंश्योरेंस प्लान ले सकते हैं. इस केस में आपको 10 हजार-12 हजार रुपये तक का प्रीमियम चुकाना पड़ सकता है. ऐसे में 5 लाख रुपये का कवरेज बढ़ाने के लिए 4 हजार रुपये का अतिरिक्त प्रीमियम चुकाना होगा.
  • केस 2: आप 5 लाख का एक ऐसा सुपर टॉप-अप प्लान चुन सकते हैं जिसका डिडक्टिबल 5 लाख हो. चूंकि आपकी वर्तमान हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी 5 लाख की है तो टॉप-अप प्लान ऐसा होना चाहिए जिसका डिडक्टिबल 5 लाख रुपये हो. इसका प्रीमियम 1 हजार-2 हजार रुपये सालाना पड़ेगा. इस प्रकार 10 लाख रुपये के कवरेज के लिए आपको अतिरिक्त 1 हजार-2 हजार रुपये ही अतिरिक्त चुकाने होंगे. इस तरह देख सकते हैं कि कम प्रीमियम में भी टॉप-अप प्लान के जरिए कवरेज बढ़ा सकते हैं.
    (स्टोरी-राजीव कुमार)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Top-Up Health Insurance Policy: कम प्रीमियम में पाएं अधिक हेल्थ कवर, इस तरह मिलेगा आपको फायदा

Go to Top