सर्वाधिक पढ़ी गईं

एक से ज्यादा कार्ड का करते हैं इस्तेमाल, शॉपिंग में ऐसे उठाएं कुल रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का फायदा

बहुत कम लोग हैं जो ट्रांजेक्शन के समय मिलने वाले रिवॉर्ड प्वाइंट्स का इस्तेमाल करते हैं.

Updated: Nov 27, 2019 4:19 PM
reward points, how to get reward points, how to use reward points, how to get maximum reward points, bank credit card, credit card, कार्ड से खरीदारी पर छूट, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड,कार्ड से खरीदारी, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन, खरीदारीबहुत कम लोग हैं जो ट्रांजेक्शन के समय मिलने वाले रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का इस्तेमाल करते हैं.

हमारे देश में ज्यादातर लोगों के एक से ज्यादा बैंक अकाउंट हैं. ग्रामीण इलाकों को छोड़ दें तो आमतौर पर एक व्यक्ति के एक से ज्यादा बैंक अकाउंट होते हैं. बैंक अकाउंट के साथ ही एक व्यक्ति के पास एक से ज्यादा डेबिट और क्रेडिट कार्ड होते हैं. डेबिट और क्रेडिट कार्ड के साथ देश में पेमेंट ऐप का भी इस्तेमाल बढ़ा है, खासकर नोटबंदी के बाद पेमेंट ऐप के इस्तेमाल में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. जहां लोग पेमेंट के लिए एक से ज्यादा तरीकों का इस्तेमाल करते हैं, वहीं बहुत कम लोग हैं जो ट्रांजेक्शन के समय मिलने वाले रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का इस्तेमाल करते हैं या उन्हें इसकी जानकारी रहती है कि इन रिवॉर्ड प्वाइंट्स का कैसे इस्तेमाल करना है. लोगों को यह नहीं पता होता कि उनके पास कितने रिवॉर्ड प्वॉइंट्स मौजूद हैं और इनका कितने समय तक इस्तेमाल कर सकते हैं.

लोग क्यों नहीं करते रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का इस्तेमाल ?

ऐसा इसलिए है क्योंकि प्वॉइंट्स आपको आपके खर्च करने की राशि के आधार पर मिलते हैं और ये तभी मायने रखते हैं जब आपका ट्रांजेक्शन ज्यादा राशि का हो. अगर आपने ट्रांजेक्शन ज्यादा पैसे का किया है, तब भी इन रिवॉर्ड प्वॉइंट्स पर कुछ सीमा हो सकती है. जैसे रिवॉर्ड प्वॉइंट्स या तो एक ट्रांजेक्शन के हिसाब से या फिर बिलिंग साइकिल के हिसाब से मिलते हैं. इतने कम प्वॉइंट्स की वजह से ही ज्यादातर लोग खरीदारी के लिए रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का इस्तेमाल नहीं करते.

बैंक ब्रांच से कम नहीं हैं SBI ATM; कैश निकासी, बिल पेमेंट समेत होंगे ये 14 काम

इसके अलावा ये रिवॉर्ड प्वॉइंट्स अलग-अलग जगह जैसे बैंक, कंपनी, एयरलाइन आदि से मिलते हैं इसलिए लोगों को इनकी गिनती करके ध्यान में रखने में परेशानी होती है.

एक बड़ी परेशानी यह भी है कि इन रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का इस्तेमाल कुछ ही स्टोर पर किया जा सकता है, जिनकी संख्या बहुत सीमित होती है. और हो सकता है कि ग्राहक को उस स्टोर से खरीदारी न ही करनी हो. इन प्वॉइंट्स की जानकारी तुरंत नहीं मिलती, इसलिए ग्राहक भी इन प्वाइंट्स के बारें में भूल जाते हैं.

इसी का नतीजा है कि ये प्वॉइंट्स ग्राहक के अकाउंट में जुड़ते चले जाते हैं. फिलहाल देश में 16,000 करोड़ से ज्यादा रिवॉर्ड प्वॉइंट्स ग्राहकों के पास मौजूद हैं जिनका कोई इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है.

रिवॉर्ड प्वॉइंट्स इस्तेमाल करने के लिए प्लेटफॉर्म

इसी को देखते हुए Twid कंपनी ने एक ग्लोबल प्लेटफॉर्म बनाया है जिससे ग्राहक इन जमा हो चुके अपने रिवॉर्ड प्वॉइंट्स से ऑनलाइन या ऑफलाइन पेमेंट कर सकते हैं. ये एक मोबाइल फर्स्ट प्लेटफॉर्म है. Twid इन प्वॉइंट्स को जोड़कर बैंक द्वारा उनकी अभी की कीमत के हिसाब से आंकलन करता है ताकि ये बढ़ जाएं और इनका इस्तेमाल हर जगह किया जा सके. जैसे एक शॉपिंग ब्रांड के रिवॉर्ड को आप कॉफी या रेस्टोरेंट में खाने के बिल पर इस्तेमाल कर सकते हैं.

Twid के फाउंडर और साईओ अमित कौशल के मुताबिक, Twid ने इसके लिए कई बैंकों और कंपनियों के साथ तकनीकी समझौता किया है. इसके लिए कंपनी ग्राहक के मोबाइल नंबर और उसके नाम का इस्तेमाल करती है. हालांकि ग्राहक सीधे अपना बैंक या कंपनी और कार्ड या मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं. जिससे उनके पास एक OTP आ जाता है और उसका इस्तेमाल कर वो अपने रिवॉर्ड प्वॉइंट्स को खर्च कर सकते हैं.

Stroy: Amitava Chakravarty

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. एक से ज्यादा कार्ड का करते हैं इस्तेमाल, शॉपिंग में ऐसे उठाएं कुल रिवॉर्ड प्वॉइंट्स का फायदा

Go to Top