मुख्य समाचार:
  1. सरकार बना रही है बिजनेसमैन, मुद्रा स्कीम में 10 लाख तक आसानी से मिलेगी हेल्प, जानें डिटेल

सरकार बना रही है बिजनेसमैन, मुद्रा स्कीम में 10 लाख तक आसानी से मिलेगी हेल्प, जानें डिटेल

अगर आप अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए पर्याप्त पैसे नहीं है तो इस काम में केंद्र सरकार आपकी मदद करेगी. सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत आपको एक तय रकम की हेल्प लोन के रूप में आसानी से मिल जाएगी.

September 9, 2018 8:39 AM
Mudra scheme, PMMY, modi government, business, be entrepreneur, loan, guarantee, banks, NBFC, process, मुद्रा स्कीम, केंद्र सरकार अगर आप अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए पर्याप्त पैसे नहीं है तो इस काम में केंद्र सरकार आपकी मदद करेगी. सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत आपको एक तय रकम की हेल्प लोन के रूप में आसानी से मिल जाएगी. (Reuters)

अगर आप भी अपना कोई कारोबार शुरू करना चाहते हैं लेकिन आपके पास इसके लिए पर्याप्त पैसे नहीं है तो इस काम में केंद्र सरकार आपकी मदद करेगी. सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत आपको एक तय रकम की हेल्प लोन के रूप में आसानी से मिल जाएगी. केंद्र सरकार ने देश के युवाओं को उद्यमी बनने में मदद करने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) की शुरुआत अप्रैल 2015 में की थी. योजना के तहत अगर कोई भी अपना छोटा कारोबार शुरू करना चाहता है, एक तय प्रक्रिया के बाद उसे लोन दिया जाता है. अबतक करीब 12 करोड़ लोग इसका लाभ ले भी चुके हैं. आइए जानते हैं कि क्या है योजना और कैसे ले सकते हैं इसका लाभ…

क्या है सरकार का उद्देश्य

सरकार की मुद्रा योजना का उद्देश्य है कि देश के युवा उद्यमी बनने की दिशा में अपना कारोबार शुरू कर सकें, साथ ही इसके जरिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार भी उपलब्ध हो सके. हैं. पहला, स्वरोजगार के लिए आसानी से लोन देना. दूसरा, छोटे उद्यमों के जरिए रोजगार का सृजन करना.

मुद्रा योजना ने कैसे आसान किया काम

पहले अगर कारोबार शुरू करने के लिए लोन के लिए जाते थे तो कई बैंकों में इसकर प्रक्रिया बहुत जटिल थी, जिस वजह से इसमें देरी होती थी. गारंटी के बिना बैंक भी लोन देने से मना करते थे. लेकिन मुद्रा योजना में बिना गारंटी के लोन मिलता है. लोन के लिए प्रोसेसिंग चार्ज का प्रावधान भी नहीं है. इसमें लोन चुकाने की समय सीमा को भी 5 साल तक के लिए बढ़ाया जा सकता है.

50 हजार से 10 लाख तक का लोन

मुद्रा योजना के तहत 50 हजार से 10 लाख तक का लोन मिल जाता है. इसमें 3 तरह के लोन होते हैं. शिशु लोन के तहत 50,000 रुपये तक का लोन मिलता है. किशोर लोन के तहत 50 हजार से 5 लाख रुपये तक का लोन और तरुण लोन के तहत 5 लाख से 10 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है.

कौन ले सकता है लोन?

कोई भी देश का नागरिक जो अपना कारोबार शुरू करना चाहता है, योजना के तहत आवेदन कर सकता है.

कहां से मिलेगा लोन?

1. देश के सभी सरकारी बैंकों को सरकार ने इसके लिए अधिकृत किया है.

2. प्राइवेट बैंक जिसमें एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, सिटी यूनियन बैंक, डीसीबी बैंक, फेडरल बैंक, इंडस इंड बैंक, जम्‍मू एंड कश्‍मीर बैंक, कर्नाटक बैंक, करूर वैश्‍य बैंक, कोटक महिंद्रा, नैनीताल बैंक, साउथ इंडियन बैंक और यस बैंक व आईडीएफसी बैंक शामिल हैं।

3. रूरल बैंक

4. कोऑपरेटिव बैंक

5. नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों और माइक्रो फाइनेंस कंपनियों से भी मुद्रा लोन ले सकते हैं.

ये है पूरी डिटेल….https://www.mudra.org.in/Offerings

लोन पर ब्याज दरें

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत कोई निश्चित ब्याज दर नहीं हैं. अलग—अलग बैंक या वित्तीय संस्थाएं अलग ब्याज दर वसूल सकते हैं. आम तौर पर न्यूनतम ब्याज दर 12 फीसदी ही है.

कैसे मिलेगा लोन?

मुद्रा योजना के तहत लोन के लिए आपको सरकारी या बैंक की शाखा में आवेदन देना होगा. अगर आप खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको मकान के मालिकाना हक़ या किराये के दस्तावेज, काम से जुड़ी जानकारी, आधार, पैन नंबर सहित कई अन्य दस्तावेज देने होंगे. बैंक मैनेजर वेरिफिकेशन के बाद लोन मंजूर करता है.

अधिक जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं: https://www.mudra.org.in/

Go to Top