मुख्य समाचार:

Income Tax Return 2018-19: जानिए कैसे बचा सकते हैं पैसे?

यदि आपकी आय 10 लाख रुपये से कम है, तो आपका टैक्स भुगतान बेहतर निवेश के माध्यम से शून्य तक हो सकता है. आइये जानते हैं कैसे?

August 3, 2018 3:31 PM
how to save income tax, save income tax other than 80c, save income tax 2018-19, save income tax in india, save income tax on home loan, save income tax through home loan, save income tax calculator, how to save income tax on salaryयदि आपकी आय 10 लाख रुपये से कम है, तो आपका टैक्स भुगतान बेहतर निवेश के माध्यम से शून्य तक हो सकता है. आइये जानते हैं कैसे?

हम सभी इस तथ्य से अच्छी तरह से अवगत हैं कि टैक्स से बचना या कमाई छिपाना एक अपराध है, और इससे दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. हालांकि, पहली बार जो टैक्स दे रहे होते हैं उन्हें टैक्स देना आसान नहीं होता है, यह लोग कर देयता को कम करने के लिए विभिन्न सरकारी योजनाओं की मदद ले सकते हैं. यदि आपकी आय 10 लाख रुपये से कम है, तो आपका टैक्स भुगतान बेहतर निवेश के माध्यम से शून्य तक हो सकता है. आइये जानते हैं कैसे?

धारा 80 सी के तहत निवेश

आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत निवेश के माध्यम से प्रति व्यक्ति अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक बचा सकता है. इस अधिनियम के अंतर्गत आने वाली कुछ निवेश योजनाएं जीवन बीमा योजना, गृह ऋण के प्रमुख घटक की चुकौती, पीपीएफ, एनएससी, ईएलएसएस, एनपीएस, कर बचत एफडी, पांच वर्षीय डाकघर समय जमा, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना और सुकन्या समृद्धि योजना के लिए किए गए निवेश.

स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम

आपके लिए स्वास्थ्य बीमा योजनाओं पर भुगतान किए गए प्रीमियम और परिवार धारा 80 डी के तहत कटौती के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं. एक व्यक्ति अपने और परिवार के लिए भुगतान किए गए स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम पर 25,000 रुपये प्रति वर्ष की कटौती प्राप्त कर सकता है. यदि आप आश्रित माता-पिता के स्वास्थ्य बीमा के लिए प्रीमियम का भुगतान करते हैं, तो आप अतिरिक्त 25,000 रुपये की कटौती कर सकते हैं और यदि आपके माता-पिता वरिष्ठ नागरिक हैं तो आप सालना 30,000 ररुपये तक की कटौती कर सकते हैं. इस तरह आप  55,000 रुपये की कुल छूट का दावा कर सकते हैं यदि आप खुद के और वरिष्ठ  माता-पिता के लिए प्रीमियम अदा करते हैं.

NPS के जरिए

यदि राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) में निवेश किया जाता है तो आपको अतिरिक्त टैक्स छूट मिलती है. धारा 80C के तहत आप 1.5 लाख रुपये सालाना अधिकतम कटौती का छूट ले सकते हैं. आपको धारा 80CCD (1B) के तहत सालाना अतिरिक्त 50,000 रुपये की छूट मिलती है.

धारा 87 A के तहत छूट

धारा 87 A के तहत आपको 2,500 रुपये सालाना अधिकतम छूट मिलती है. आपको यह छूट केवल तभी मिलती है जब आपकी कुल आय, धारा 80 के तहत सभी कटौती कम 3,50,000 रुपये से कम या उससे कम हो.

दान पर टैक्स लाभ

निवेश के अलावा, लोग दान के माध्यम से भी टैक्स बचा सकते हैं. धारा 80G के तहत, विशिष्ट राहत निधि और धर्मार्थ संस्थानों को दान कर कटौती के लिए अर्हता प्राप्त है. आप किसी भी ऊपरी सीमा के साथ या बिना विशिष्ट राहत निधि में दान राशि पर 100 फीसदी तक के लिए दावा कर सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Income Tax Return 2018-19: जानिए कैसे बचा सकते हैं पैसे?

Go to Top