सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना संकट में खुद को आर्थिक रूप से रखें मजबूत, काम आएंगे ये 4 टिप्स

किसी भी गंभीर बीमारी का हमारी बचत पर बड़ा असर होता है.

Updated: Apr 22, 2020 1:28 PM
how to prepare yourself for coronavirus crisis know these four important tipsकिसी भी गंभीर बीमारी का हमारी बचत पर बड़ा असर होता है.

Financial Tips during Coronavirus Pandemic: दुनिया भर में कोरोना वायरस के फैलने से दो मोर्चों पर बड़ी चिंताएं हुईं हैं. पहली, स्वयं और अपने परिवार की सेहत और दूसरा ऐसी किसी बीमारी का हमारी वित्तीय स्थिति पर असर. किसी भी गंभीर बीमारी का हमारी बचत पर बड़ा असर होता है. अक्सर लोग बीमारी के समय, हेल्थकेयर पर खर्च और उससे आय पर असर के बारे में चिंता करते हैं. ऐसे में वर्तमान जैसी स्थिति में कुछ वित्तीय सावधानियों को तुरंत अपनाने की जरूरत है.

हेल्थ इंश्योरेंस

बहुत लोग अक्सर यह सोचते हैं कि हेल्थ इंश्योरेंस अनुचित खर्च है, जो सच नहीं है. अगर आपके पास पर्याप्त हेल्थ इंश्योरेंस है जिसमें उन बड़ी बीमारियों पर कवर मिलता है जो चलन में हैं, तो इससे आपकी ओर से कैश आउटफ्लो का कुछ भाग तो रुकता है क्योंकि इंश्योरेंस मेडिकल खर्च के बड़े हिस्से को कवर करता है. जिस व्यक्ति के पास इंश्योरेंस नहीं है, उसके लिए इस बीमारी के वित्तीय प्रभाव लंबे हो सकते हैं.

अपनी वित्तीय योजना में बदलाव करें

आपकी वित्तीय योजना में कुछ जरूरी चीजें होना जरूरी है. आपके पास पर्याप्त लाइफ इंश्योरेंस कवरेज, अच्छी तरह बना इमरजेंसी फंड, अपने रिस्क टोलरेंस लेवल के मुताबिक पोर्टफोलियो, कंपनी स्पोंसर्ड ग्रुप लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम आदि होना चाहिए. काम से लंबे समय तक अनुपस्थित रहने पर, व्यक्ति को लंबी अवधि के एसेट जैसे एक्विटी या रियल एस्टेट से बाहर निकलना चाहिए और ज्यादा लिक्विड एसेट जैसे बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट या लिक्विड फंड में निवेश करना चाहिए. इससे आप सैलरी नहीं होने या नौकरी खो जाने की स्थिति में इलाज के लिए भुगतान कर सकेंगे.

इस प्रक्रिया में देर नहीं करनी चाहिए क्योंकि रियल एस्टेट जैसे एसेट्स को बेचने में समय लगता है. अगर आपा पैसा रियल एस्टेट में फंसा है, तो आपको जरूरत होने पर वह उपलब्ध नहीं रह सकता है. इसकी तुलना में ऑपन-एंडेड म्यूचुअल फंड्स से आप किसी कामकाजी दिन पर आप आसानी से कैश प्राप्त कर सकते हैं.

कहां से ले सकते हैं फंड

स्वास्थय की वजह से लंबी छुट्टी से वित्तीय स्थिति पर बुरा असर होता है और आपके कैश का संरक्षण करने की जरूरत है और इसके लिए कई विकल्प मौजूद हैं. उदाहरण के लिए आप अपने लाइफ इंश्योरेंस को छोड़कर कैश प्राप्त करने की सोच सकते हैं. अपने क्रेडिट कार्ड को जरूरत होने पर इस्तेमाल करें लेकिन राशि को अपनी रिपेमेंट की क्षमता के तहत खर्च करना चाहिए. आपको शॉर्ट टर्म में जितने संभव हो, उतने लिक्विड एसेट को बनाकर रखना चाहिए.

म्यूचुअल फंड की इन स्कीम में बढ़ने लगा रिटर्न, बैंक डिपॉजिट से ऊंचा रिटर्न पाने का मौका

मुश्किल में किससे संपर्क करें

इस बात की पुष्टि करें कि आपके पास अपने रिपोर्टिंग मैनेजर और HR विभाग की कॉन्टैक्ट से जुड़ी जानकारी हो. आप इसे ऐसी जगह रखें जिसके बारे में आपके जीवनसाथी को भी जानकारी हो. अपने इंश्योरेंस कार्ड को भी तैयार रखना जरूरी है. आजकल ज्यादातर इंश्योरेंस कंपनियां स्मार्टफोन ऐप दे रही हैं, इसलिए अपनी सभी संबंधित जानकारी को डाउनलोड करें और दस्तावेजों को फोन के डिजिटल वॉलेट में रखें.

 

(By: P Saravanan, professor of finance & accounting, IIM Tiruchirappalli)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. कोरोना संकट में खुद को आर्थिक रूप से रखें मजबूत, काम आएंगे ये 4 टिप्स

Go to Top