मुख्य समाचार:
  1. Income Tax विभाग ने जारी किया ITR-2 फॉर्म, जानिए क्या है खास और आप इसे कैसे भरें?

Income Tax विभाग ने जारी किया ITR-2 फॉर्म, जानिए क्या है खास और आप इसे कैसे भरें?

आपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

May 21, 2018 11:27 AM
itr, itr login, itr form, itr filling, itr file last date, itr file karne ka tarika, itr file kaise karen, itr 2 means, itr form, itr 2 download, itr 2 form 2018-19 pdf, itr 2 form download, itr 2 filling in hindi, itr 2 information in hindi, itr sahaj 2018-19, income tax return, income tax return filing, income tax return form, income tax return file, income tax return login, income tax return status, income tax return last date, ITR 2 for AY 2018-19, itr 2 filled form example, instructions for filing itr 2, ITR Form 1 Sahaj, ITR 3, ITR 4 Sugam, ITR 5, ITR 6, ITR 7, CBDT, income tax department, income tax return आपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (आय कर विभाग) ने ITR-2 फॉर्म जारी कर दिया है. इससे पहले आईटीआर-2 फॉर्म सिर्फ पीडीएफ वर्शन में ही उपलब्ध था लेकिन अब यह फॉर्म आयकर विभाग के आधिकारिक वेबसाइट पर भी उपलब्ध है. कुछ ही दिन पहले आयकर विभाग ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए आयकर रिटर्न (आईटीआर) या आईटीआर फॉर्म -1 (सहज) दाखिल करने के लिए पात्र व्यक्तियों के लिए मूल्यांकन वर्ष 2018-19 के लिए ई-फाइलिंग की शुरुआत की है.

ITR -2 फॉर्म  भरने के लिए निर्देश

  • आकलन वर्ष, जिसके लिए यह रिटर्न फॉर्म लागू है

CBDT के मुताबिक, यह नया आईटीआर फॉर्म -2 सिर्फ निर्धारण वर्ष (AY) 2018-19 के लिए लागू है, यानी, यह वित्तीय वर्ष (वित्त वर्ष) 2017-18 में अर्जित आय से संबंधित है.

  • कौन इस फॉर्म का उपयोग कर सकता है?

यह फॉर्म उन व्यक्तियों या हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के लिए है जो सहज (आईटीआर -1) फाइल करने के योग्य नहीं हैं और जिनके पास ‘लाभ या व्यापार या पेशे के लाभ’ के तहत कोई आय नहीं है.

ITR Form-1 (सहज) के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न कैसे फाइल करें?

  • इस फॉर्म का उपयोग कौन नहीं कर सकता?

इस रिटर्न फॉर्म का उपयोग किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा नहीं किया जाना चाहिए जिसके मूल्यांकन वर्ष 2018-19 के लिए कुल आय में “व्यापार या पेशे के लाभ या लाभ” के तहत आय शामिल है.

  • ITR-2 फॉर्म भरने के तरीके को जान लीजिए

यह रिटर्न फॉर्म निम्नलिखित में से किसी भी तरीके से आयकर विभाग के साथ दायर किया जा सकता है:–

– डिजिटल हस्ताक्षर के तहत इलेक्ट्रॉनिक रूप से वापसी प्रस्तुत करके;

– इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन कोड के तहत इलेक्ट्रॉनिक रूप से रिटर्न में डेटा संचारित करके;

– इलेक्ट्रॉनिक रूप से रिटर्न में डेटा प्रसारित करके और उसके बाद रिटर्न फॉर्म आईटीआर-वी में वापसी का सत्यापन जमा कर.

करदाताओं को उनके टैक्स क्रेडिट स्टेटमेंट (फॉर्म 26 AS) के साथ या उनके द्वारा कटौती/एकत्र/भुगतान करों से भी मेल खाना चाहिए.

आपको बता दें कि आयकर रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

Go to Top