मुख्य समाचार:
  1. कार लोन लेते वक्त बरतें ये सावधानियां; सस्ता पड़ेगा कर्ज, चुकाना भी रहेगा आसान

कार लोन लेते वक्त बरतें ये सावधानियां; सस्ता पड़ेगा कर्ज, चुकाना भी रहेगा आसान

कार लोन लेते समय अलग-अलग कंपनियों के ऑफर की तुलना जरूर करें.

June 12, 2019 2:16 PM
taking car loan follow these advices know car loan interest rate by bank and emi and other detailsकार लोन लेते वक्त जीरो डाउन पेमेंट आपको लुभा जरूर सकती हैं लेकिन कोशिश कीजिए कि आप इससे बचे रहे

Car Loan: अगर आप नई कार लेने की सोच रहे हैं तो कार लोन आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है. कार लोन लेना आज के दौर में बेहद आसान और सरल है. ऑनलाइन घर बैठे भी आप कार लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. लेकिन इन सब सहूलियतों के बावजूद कई बार ऑटो लोन लोन लेते वक्त कई छोटी-छोटी गलतियां हो जाती हैं. खास बात यह है कि इन गलतियों की तरफ जल्दी से किसी का ध्यान भी नहीं जाता. लेकिन बाद में यह परेशान कर सकती हैं. आइए जानते हैं कार लोन लेते समय हमें किन गलतियों से बचना चाहिए जिससे कि आगे नुकसान न हो.

अलग-अलग कंपनियों के ऑफर की तुलना करें

लोन लेते वक्त अलग-अलग कंपनी से मिलने वाली ब्याज दरें और अन्य जानकारी की तुलना न करने की गलती बहुत से लोग करते हैं. ज्यादातर लोग या तो कहीं इश्तेहार पढ़कर या अपने दोस्त के सुझाव पर किसी भी बैंक या एनबीएफसी से लोन ले लेते हैं. आप ऐसी गलती न करें. बेहतर यही होता है कि लोन लेने से पहले अलग-अलग कंपनी द्वारा लोन का इंटरेस्ट रेट, लोन की अवधि और अन्य जानकारी की परस्पर तुलना करें और उसके आधार पर अपने लिए बेस्ट लोन प्रोडक्ट चुनें.

जीरो डाउन पेमेंट से बचें

कार लोन लेते वक्त ‘जीरो डाउन पेमेंट’ एक ऐसा ऑफर होता है, जो अमूमन सभी कस्टमर्स को आसानी से अपनी ओर आकर्षित करता है. लेकिन कोशिश कीजिए कि आप इससे बचे रहे. बिना डाउन पेमेंट दिए आप पर कर्ज का ज्यादा महंगा होगा और इस पर ब्याज भी अधिक चुकाना पड़ता है. आपकी कार की वैल्यू कुछ समय के बाद कम हो जाएगी लेकिन आप पर कर्ज का बोझ बढ़ता जाएगा.

ज्यादा लंबी अवधि का कर्ज न लें

लंबी अवधि के लिए कर्ज लेना अच्छा आइडिया लग सकता है, क्योंकि इसमें आपको कम ब्याज दरों पर लोन मिलता है. लेकिन, लंबे समय के लिए लोन लेने का मतलब यह भी है कि आपको लंबे समय तक ब्याज चुकाना होगा. यानी, जब तक आपके लोन का समय पूरा होगा, तब तक आप अपनी असल लोन अमाउंट से बहुत ज्यादा पैसे दे चुके होंगे.

कार मॉडिफाई करने के लिए लोन लेने से बचें

कार खरीदने के बाद अक्सर कस्टमर उसे अपनी जरूरतों के अनुसार मॉडिफाई कराते हैं. जैसेकि बेहतर म्यूजिक सिस्टम, नई तरह की एक्सेसरीज आदि. आज के दौर में कई बैंक और एनबीएफसी कार खरीदने के बाद इस तरह के खर्चों के लिए भी लोन देते हैं, लेकिन यह अच्छा विकल्प नहीं है. इससे कर्ज की ब्याज दरें बढ़ जाती हैं. बेहतर यही है कि आप अपनी जरूरत के अनुसार खुद ही कार एक्सेसरीज खरीदें, यह लोन लेकर मॉडिफाई कराने की तुलना में सस्ता पड़ता है.

(सोर्स: टैक्स गुरु)

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop