सर्वाधिक पढ़ी गईं

EPF खाते में कैसे बढ़ रहा है आपका पैसा? आसान तरीके से कर सकते हैं ब्याज कैलकुलेट

How to Calculate EPF Interest: ईपीएफ खाते में जमा पैसे पर ब्याज की गणना हर महीने जमा राशि के आधार पर की जाती है लेकिन आमतौर पर इसे चालू वित्त वर्ष के आखिरी दिन जमा किया जाता है.

Updated: Jan 22, 2021 12:01 PM
how to calculate interest on epf account know here detailsपीएफ खाते से जो राशि पेंशन फंड में जाती है, उस पर ब्याज का कैलकुलेशन नहीं होता है.

How to Calculate EPF Interest: आप आप नौकरीपेशा हैं तो आपका ईपीएफ अकाउंट भी होगा. इसमें कर्मी या नियोक्ता द्वारा जितनी राशि जमा होती है, उस पर ब्याज  मिलता है. हर साल आपके ईपीएफ खाते में ब्याज के तौर पर रिटर्न मिलता है. ब्याज की गणना ईपीएफ खाते में जमा पैसे पर हर महीने जमा राशि के आधार पर की जाती है. लेकिन आमतौर पर इसे चालू वित्त वर्ष के आखिरी दिन जमा किया जाता है. ईपीएफओ के मुताबिक चालू वित्त वर्ष के दौरान अगर कोई राशि निकाली गई हो तो उसे घटाकर 12 महीने के ब्याज का आकलन किया जाता है.
ईपीएफ पर ब्याज दर की हर साल घोषणा की जाती है. वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 8.5 फीसदी की ब्याज दर निर्धारित किया गया है. इसे वित्त मंत्रालय की सलाह से ईपीएफओ की सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज निर्धारित करती है. एक खास बात और है कि जो राशि ईपीएस खाते में जमा होती है, उस पर ब्याज नहीं मिलता है यानी जो राशि पेंशन फंड में जाती है, उस पर ब्याज का कैलकुलेशन नहीं होता है.

यह भी पढे़ं- भूल गए हैं अपना UAN? इन तीन तरीकों से घर बैठे करें पता, कुछ सेकेंड्स में हो जाएगा काम

इस तरह होती है ब्याज की गणना

एक उदाहरण से हम समझ सकते हैं कि ईपीएफ खाते में ब्याज की गणना कैसे की जाती है.

  • कर्मी का मूल वेतन (बेसिक सैलरी) + महंगाई भत्ता (डीए) = 15 हजार रुपये
  • ईपीएफ में एम्प्लॉयी का योगदान = 15 हजार रुपये का 12% = 1800 रुपये
  • एम्प्लॉयर्स का ईपीएफ में योगदान = 15 हजार रुपये का 3.67 फीसदी = 550.5
  • एम्प्लॉयर्स का ईपीएस में योगदान = 15 हजार रुपये का 8.33 फीसदी= 1249.5 रुपये
  • ईपीएफ खाते में कुल योगदान= 1800+550.5= 2350.5 रुपये
  • हर महीने होने ईपीएफ खाते में योगदान= 1800+550.5 =2350.5 रुपये
  • यह राशि हर महीने ईपीएफ खाते में जमा होगी और इस पर निर्धारित ब्याज दर (वित्त वर्ष 2019-20 के लिए सालाना 8.5 फीसदी) से ब्याज खाते में क्रेडिट होगा.
  • 8.5 फीसदी की सालाना ब्याज दर के मुताबिक हर महीने 0.708 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा लेकिन यह वित्त वर्ष के आखिरी दिन क्रेडिट होगा.
  • अब मान लेते हैं कि आपने अप्रैल 2019 में ऑफिस जॉइन किया है तो अप्रैल में जो राशि ईपीएफ खाते में जमा हुई है, उस पर ब्याज नहीं मिलेगा.
  • मई 2019 में आपके खाते में 4701 रुपये (2350.5+2350.5) होंगे और उस पर 4701*0.71%=33.38 रुपये ब्याज मिलेगा. इसी तरह अन्य महीने के ब्याज की गणना कर सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. EPF खाते में कैसे बढ़ रहा है आपका पैसा? आसान तरीके से कर सकते हैं ब्याज कैलकुलेट
Tags:EPFEPFO

Go to Top